महालक्ष्मी जी का एक ऐसा मंदिर, जहां प्रसाद के रूप में मिलते हैं सोने चांदी

23 जनवरी 2019   |  प्राची सिंह   (70 बार पढ़ा जा चुका है)



हमारा भारत वर्ष बहुत ही धार्मिक देश है यहां पर भिन्न भिन्न प्रकार की जातियों के लोग मौजूद हैं परंतु यह सभी भाई चारे से एक साथ रहते हैं और यह अपने अपने धर्म के अनुसार अपने-अपने देवताओं की पूजा करते हैं वैसे देखा जाए तो जब हम मंदिरों में भगवान की पूजा करने जाते हैं तब हम अपने साथ भेंट के रूप में भगवान के लिए सोना चांदी हीरे जवाहरात आदि ले जाते हैं और उनके चरणों में अर्पण करते हैं इसके अलावा लोग मन्नत भी मांगते हैं जब मंदिर से हम निकलते हैं तो हमको आमतौर पर प्रसाद के रूप में मिश्री मखाने लड्डू नारियल या कोई खाने वाली चीज मिलती है परंतु भारत में एक ऐसा मंदिर है जहां भक्तजनों को प्रसाद के रूप में सोने चांदी के आभूषण दिए जाते हैं जी हां, आप बिल्कुल सही सुन रहे हैं आप बेशक इस बात को सुनकर आश्चर्यचकित हो गए हो परंतु यह बात बिल्कुल सही है और इसे लेने के लिए भक्त दूर-दूर से इस मंदिर में दर्शन के लिए आते हैं यह बात सुनकर अब आपके मन में भी विचार आने लगा होगा कि आखिर ऐसा कौन सा मंदिर है जहां पर प्रसाद के रूप में सोने के आभूषण मिलते हैं।


दरअसल, मध्य प्रदेश के रतलाम में एक ऐसा महालक्ष्मी मंदिर है जहां पर प्रसाद के रूप में भक्तों को सोने, चांदी के आभूषण और जेवर दिए जाते हैं इस मंदिर के अंदर पूरे साल लोगों की भारी भीड़ लगी रहती है इस मंदिर के दर्शन करने के लिए दूर-दूर से लोग आते हैं और यहां अपनी भक्ति भाव से माता के चरणों में भेंट अर्पित करते हैं लेकिन साल के कुछ दिन के लिए ही इस मंदिर में कुबेर का दरबार लगता है यहां आकर भक्त लाखों करोड़ों रुपए के जेवर और नगदी अर्पित करते हैं खासतौर पर दीपावली के समय या धनतेरस के दिन माता का दरबार सोने चांदी और नोटों की मालाओं से सजा हुआ नजर आता है इस समय के दौरान जो भी भक्त यहां पर माता के दर्शन करने आता है वह कभी भी खाली हाथ लौटकर नहीं जाता है।

महालक्ष्मी जी के इस मंदिर की परंपरा काफी पुरानी है यह परंपरा वर्षों से चली आ रही है इस मंदिर में लोग दूर-दूर से माता के दर्शन करने के लिए आते हैं और इनको भेंट अर्पित करते हैं और खास बात यह है कि जब यह माता के दर्शन करने के बाद वापस जाते हैं तो इनको प्रसाद के रूप में सोने चांदी का प्रसाद दिया जाता है और दीपावली के समय कोई भी भक्त खाली हाथ नहीं जाता है दीपावली के बाद दर्शन को जाने वाले भक्तों के चढ़ावे में आया हुआ रुपया और सोना चांदी प्रसाद के रूप में बांट दिया जाता है इसीलिए यहां पर दीपावली के समय आप भक्तों की लंबी कतार देख सकते हैं दूर-दूर से लोग यहां पर दर्शन के लिए आते हैं और यहां का प्रसाद ग्रहण करते हैं प्रसाद के रूप में मिलने वाले यहां के सोने चांदी को लोग बहुत ही शुभ मानते हैं और उनको बेचते या खर्च नहीं करते हैं।

सैकड़ों साल पुराने इस मंदिर के चढ़ावे का पूरा हिसाब किताब रखा जाता है ताकि सभी भक्तों को उनका पैसा वापस मिल पाए सुरक्षा के लिए यहां पर सीसीटीवी कैमरे के साथ पुलिस का सख्त पहरा होता है।

महालक्ष्मी जी का एक ऐसा मंदिर, जहां प्रसाद के रूप में मिलते हैं सोने चांदी -

https://www.hindubulletin.in/in-the-temple-of-mahalaxmi-ji/?fbclid=IwAR296qfV1NlW7lO7qaxRH0QfmIgNkJJthKENyq8uGXtKLq1OeK4abcujhKA

अगला लेख: जब इंदिरा गांधी ने कहा था- प्रियंका आएगी तो लोग मुझे भूल जाएंगे और...



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
17 जनवरी 2019
आपने भगवान विष्णु के पुत्रों के नाम पढ़े होंगे। नहीं पढ़ें तो अब पढ़ लें- आनंद, कर्दम, श्रीद और चिक्लीत। विष्णु ने ब्रह्मा के पुत्र भृगु की पुत्री लक्ष्मी से विवाह किया था। शिव ने ब्रह्मा के पुत्र दक्ष की कन्या सती से विवाह किया था, लेकिन सती तो दक्ष के यज्ञ की आग में कूदकर भस्म हो गई थी। उनका तो को
17 जनवरी 2019
22 जनवरी 2019
बॉलीवुड की फ़िल्मी दुनिया दूर से जितनी हसीन दिखती है, हकीक़त में उतनी ही उलझी हुई है. यहाँ हर स्टार की स्माइल के पीछे लाखों राज छिपे हुए हैं. उन्ही में से बात अगर राजपाल यादव की करें तो उन्हें इंडियन फिल्मों का कॉमेडी किंग कहा जाता है. अपनी कम हाइट और दमदार एक्टिंग के चलते
22 जनवरी 2019
09 जनवरी 2019
राशियाँ हर किसी की ज़िंदगी में एक विशेष महत्त्व रखती हैं।हर किसी की किस्मत राशियों से जुडी होती है। तो आइये जानते हैं पं. दयानन्द शास्त्री से कि किन-किन राशियों पर है विघ्नहर्ता गणेश जी की असीम कृपा और साथ ही कैसा रहेगा आपका आज का दिन । मेषपुराना रोग उभर सकता है। योजना फलीभूत होगी। कार्यस्थल पर परिवर
09 जनवरी 2019
25 जनवरी 2019
यूं ही नहीं मिलती राही को मंजिल एक जूनून सा दिल में जगाना होता है। अगर कोई सपना देखा है तो उसे पूरा करने के लिए मेहनत और लगन करनी होती है और फिर राहें आसान होती है और मंजिल मिल जाती है। इन बातों को सच कर दिखाया है एक किसान की बेटी ने जिसने जज बनकर सिर्फ अपने पिता की ही ना
25 जनवरी 2019
24 जनवरी 2019
एलेक्जेंडर जब भारत आया तो वह कई इलाकों को जीतने और साम्राज्य को विस्तार देने के बाद भी संतुष्ट नहीं था। उसे एक ज्ञानी व्यक्ति की तलाश थी। वह चाहता था कि वह भारत से किसी ज्ञानी व्यक्ति को अपने साथ ले जाए। कुछ
24 जनवरी 2019
10 जनवरी 2019
मकर संक्रांति का पर्व बहुत ही जल्दी आने वाला है पूरे भारतवर्ष में मकर संक्रांति का पर्व विभिन्न प्रकार से बड़ी ही धूमधाम के साथ मनाया जाता है ज्योतिष की मानें तो इस दिन सूर्य मकर राशि में प्रवेश करता है इसी वजह से मकर संक्रांति के दिन सूर्य
10 जनवरी 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x