जब इंदिरा गांधी ने कहा था- प्रियंका आएगी तो लोग मुझे भूल जाएंगे और...

23 जनवरी 2019   |  प्राची सिंह   (510 बार पढ़ा जा चुका है)

जब इंदिरा गांधी ने कहा था- प्रियंका आएगी तो लोग मुझे भूल जाएंगे और...  - शब्द (shabd.in)

जब प्रियंका आएगी तो लोग मुझे भूल जाएंगे उसको याद करेंगे।

ये शब्द इंदिरा गांधी के हैं। कुछ ऐसा भरोसा था उन्हें अपनी लाड़ली प्रियंका पर। वही प्रियंका जो अब आधिकारिक तौर पर कांग्रेस की महासचिव बन चुकी हैं। वो चर्चाओं, सुगबुगाहटों और दबी हुई जुबानों के पर्दों से निकलकर सामने आ खड़ी हुई हैं। और इसी के साथ प्रियंका को राजनीति में लाने की 10 साल पुरानी मांग भी खत्म होती है। प्रियंका के लिए इंदिरा ने जो कुछ कहा उसे जानना और समझना बेहद दिलचस्प है। कांग्रेस के चाणक्य और इंदिरा गांधी के सबसे भरोसेमंद नेता माखनलाल फोतेदार ने साल 2015 में ये पूरा किस्सा सुनाया।


फोतेदार बताते हैं,

"उस वक्त इंदिराजी ने मुझे कहा कि मेरे यहां एक लड़की है जिसका नाम प्रियंका है। उसका भविष्य बहुत अच्छा है। जब वो बड़ी हो जाएगी। थोड़ा-बहुत सोचने लगेगी। लोग मुझे भूल जाएंगे, उसको याद करेंगे।"

इंदिरा यहीं नहीं रुकतीं। वो एक कदम और आगे जाती हैं। उनके मन ने प्रियंका के लिए कई ख्वाब बुन रखे थे। शायद यही वजह है कि वो प्रियंका गांधी के प्रधानमंत्री तक की कुर्सी पर काबिज होने का सपना देखती थीं। कम से कम फोतेदार तो यही बताते हैं।

"इंदिरा जी ने कहा कि देश के भविष्य के लिए जो मैं हूं, वो भी बन सकती है। उनके हाथ में जिस वक्त देश की कमान रहेगी, वो बहुत मजबूत रहेगी।"


विरोधी और आलोचक फोतेदार के बयान पर सवाल भी उठा सकते हैं लेकिन इंदिरा को करीब से जानने वाले ये भी जानते हैं कि प्रियंका और राहुल में उनकी जान बसती थी। सियासी परिवेश में नई पीढ़ी के लिए ऐसे ख्यालात आसानी से समझ आते हैं।


प्रियंका में इंदिरा की छवि भी नजर आती है। याद कीजिए साल 2014 का चुनावी प्रचार। अमेठी और रायबरेली में प्रियंका ने ग्रामीणों के बीच इतना सहज अभियान चलाया कि लोग उनके मुरीद हो गए। हैंडलूम की साड़ी में, एसपीजी से बेपरवाह, लोगों के बीच हिलती-मिलती प्रियंका अक्सर इंदिरा गांधी की याद दिलाती हैं। वो अपनी सौम्य मुस्कुराहट से जनता को कायल करना जानती हैं।

जब लोगों ने कहा- प्रियंका इज इंदिरा

ये बेवजह नहीं है कि 2016 के दौरान उनकी तुलना इंदिरा से करते हुए कई पोस्टर पहले राजस्थान और फिर उत्तर प्रदेश में भी नजर आए।

प्रियंका बेबाक हैं, बेलौस हैं। उनकी जुबान बेहद साफ है। भाषणों का तेवर भी, जहां जरूरत हो वहां नरम और जहां जरूरत हो वहां भरपूर हमलावर। वो अपने भाषणों में इंदिरा गांधी को याद करना नहीं भूलतीं। 2014 में चुनाव प्रचार के दौरान रायबरेली में प्रियंका ने कहा था,

"मैंने इंदिराजी से सीखा था कि जब सच्चाई दिल में होती है, जब दिल का इरादा सही होता है तो एक कवच बन जाता है छाती के अंदर...जितना जलील करते हैं, उतना मजबूत बनता है।"

बतौर महासचिव, प्रियंका अपनी नई जिम्मेदारी को तैयार हैं। उन्हें पूर्वी उत्तर प्रदेश की जिम्मेदारी दी गई है। नहीं भूलना चाहिए कि ये योगी आदित्यनाथ का गढ़ है तो प्रधानमंत्री मोदी का चुनाव क्षेत्र बनारस भी यहीं है। प्रियंका के सामने सबसे बड़ी चुनौती इन दिग्गजों निपटने की होगी।

https://www.amarujala.com/india-news/priyanka-gandhi-joins-congress-as-indira-gandhi-forecast-her-as-prime-minister?fbclid=IwAR1WtSNzv0GwLucpjn_2TbpQF971y_tbG3LTuKjteY6eaQvSnLC8WVPH0go

अगला लेख: प्रियंका को बहू बनाने को तैयार नहीं थे रॉबर्ट के पिता, फिल्मी कहानी से कम नहीं दोनों की लवस्टोरी



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
23 जनवरी 2019
2019 के लोसकभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने प्रियंका गांधी को उत्तर प्रदेश का महासचिव बनाया है, जिसको लेकर पूरे राजनीतिक गलियारों में चहलकदमी शुरू हो गई है। ऐसे में हम आपको बता रहे हैं प्रियंका से जुड़े कुछ इंट्रेस्टिंग फैक्ट्स।13 साल की उम्र में प्रियंका पहली बार रॉबर्ट वाड्रा से मिली थीं। राॅबर्ट को स
23 जनवरी 2019
23 जनवरी 2019
हमारा भारत वर्ष बहुत ही धार्मिक देश है यहां पर भिन्न भिन्न प्रकार की जातियों के लोग मौजूद हैं परंतु यह सभी भाई चारे से एक साथ रहते हैं और यह अपने अपने धर्म के अनुसार अपने-अपने देवताओं की पूजा करते हैं वैसे देखा जाए तो जब हम मंदिरों में भगवान की पूजा करने जाते हैं तब हम अप
23 जनवरी 2019
21 जनवरी 2019
Are you geeting really bored or depressed as you have no any partner to share your feelings, enjoy a trip, now there is fully wonderful opportunity for every male who wants to enjoy a trip to New Delhi with gorgeous escorts girls and models
21 जनवरी 2019
10 जनवरी 2019
साल 2014 में जब लोकसभा चुनाव हुए और पूर्ण बहुमत से नरेंद्र मोदी ने भाजपा की जीत दर्ज की तो हर किसी को नरेंद्र मोदी से ढेर सारी उम्मीदें हो गईं. इन उम्मीदों को मोदी सरकार ने एक के बाद एक पूरा करने की कोशिश की लेकिन फिर भी लोगों को उनसे और भी उम्मीदें हैं. इन बातों को ध्यान
10 जनवरी 2019
18 जनवरी 2019
चू
चूहों ने जब हिम्मत बनाई ,बिल्ली को मार भगाने की…तब बिल्ली ने ढोंग रचाई,की तैयारी हज को जाने की…———————————-Acct- इंदर भोले नाथ…२१/०१/२०१६….
18 जनवरी 2019
23 जनवरी 2019
बॉलीवुड इंडस्ट्री में किसी भी फिल्म की शूटिंग से पहले यह कह पाना थोड़ा मुश्किल होता है कि कौन इसमें अहम रोल में है तो कौन नहीं है। बीते दिनों बॉलीवुड इंडस्ट्री से कुछ खबरें ऐसी आ रही हैं कि यहां फिल्म साइन करने के बाद भी कलाकारों को बिना कोई कारण बताए आउट कर दिया जाता है
23 जनवरी 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x