देश की जनसंख्या पर लगाम लगाने के लिए रामदेव ने बताया ‘बेयोग’ तरीका

24 जनवरी 2019   |  अंकिशा मिश्रा   (50 बार पढ़ा जा चुका है)

देश की जनसंख्या पर लगाम लगाने के लिए रामदेव ने बताया ‘बेयोग’ तरीका - शब्द (shabd.in)

भारत आबादी के मामले में दूसरे नंबर पर आता है. एक रिपोर्ट के अनुसार, 2024 में भारत की आबादी चीन से भी अधिक होगी. आज़ादी के बाद से अलग-अलग सरकारों ने आबादी पर नियंत्रण लाने के लिए कई कदम उठाए. समझा-बुझाकर काम नहीं चला, तो इमरजेंसी के दौरान जबरन नसबंदी भी करवाई गई. कोई भी उपाय आबादी पर नियंत्रण नहीं लगा पाया.


भारत में योग को Popular करने वाले बाबा रामदेव ने देश की जनसंख्या को नियंत्रित करने का उपाय बताया है.




ANI के एक ट्वीट के अनुसार, रामदेव ने कहा है कि जिन दंपत्ति ने दो से ज़्यादा बच्चे पैदा किए उनका मताधिकार छीन लेना चाहिए और उन्हें चुनाव लड़ने की इजाज़त नहीं देनी चाहिए. बाबा ने ये भी कहा कि उन्हें सरकारी स्कूल, अस्पताल का प्रयोग करने से रोकना चाहिए और सरकारी नौकरी भी नहीं दी जानी चाहिए.




Economic Times की रिपोर्ट के अनुसार, बाबा रामदेव ने अलीगढ़ में पतंजलि गार्मेन्ट्स के स्टोर का उद्घाटन करते हुए ये बात कही. बाबा ने इस प्रकार का बयान पहले भी दिया है.


नवंबर में भी रामदेव ने इससे मिलते-जुलता बयान दिया था. बाबा ने कहा था,

'इस देश में जो हमारी तरह से विवाह न करे (अविवाहित) उनका विशेष सम्मान होना चाहिए... विवाह करे, तो दो से ज़्यादा संतान पैदा करे तो उनके वोटिंग राइट्स नहीं होने चाहिए...'

नेताओं से लेकर कुछ समप्रदायों के प्रमुख तक ने जनसंख्या नियंत्रण को दरकिनार करते हुए हिन्दुओं को ज़्यादा से ज़्यादा बच्चे पैदा करने को भी कहा है.




बाबा ने मताधिकार छीनने की बात तो कह दी पर शायद ये भूल गए कि जनसंख्या नियंत्रण के लिए कड़े कदम उठाने से पहले ज़रूरी है लोगों को Sex Education देना है. जब तक इस विषय पर समझदारी से बात नहीं होगी, जनसंख्या नियंत्रण दूर के सपने जैसा है.


अगला लेख: इन 6 नामों के व्यक्ति होते हैं बेहद भाग्यशाली, करते हैं माता-पिता का नाम रोशन



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
10 जनवरी 2019
आधुनिक सुविधाएं मानव जीवन के लिए जितनी लाभदायक है उतनी ही खतरनाक भी हैं .. गैस सिलेंडर भी ऐसी ही चीज है। रसोई गैस के प्रयोग से महिलाओं का जीवन आसान तो हो गया है पर इसके खतरे भी कम नही है। आए दिन गैस सिलेंडर फटने से होने वाली भयानक दुर्घटनाओं की खबर सुनने को मिलती रहती है।
10 जनवरी 2019
10 जनवरी 2019
भारतीय सेना में जवानों की कोई कमी नहीं है, सब एक से बढ़कर एक जवान हैं। हर किसी की अपनी ख़ासियत है।ऐसा ही एक जवान भारतीय सेना में था जिसकी आत्मा आज भी भारतीय सीमाओं की रक्षा करती है एक ऐसा जवान जिसकी आत्मा भी करती है। इतना ही नहीं उस जवान (Baba Harbhajan Singh) को सैलरी और प
10 जनवरी 2019
01 फरवरी 2019
कबीर के दोहे - Kabir ke Dohe in Hindiसंत कबीर दास के दोहे गागर में सागर के समान हैं। आइये जानते हैं कबीर के कुछ सुप्रसिद्ध दोहे अर्थ सहित -
01 फरवरी 2019
07 फरवरी 2019
“कहाँ राजा भोज कहाँ गंगू तेली” ये कहावत तो आपने कई बार सुनी होगी, कभी किसी पर तंज कसते हुए, तो कभी गोविंदा के गाने में. साफ़ शब्दों में कहा जाए तो हज़ारों बार आप ये कहावत आम बोलचाल में सुन चुके होंगे. कई बार इसका इस्तेमाल किसी छोटे व्यक्ति की बड़े व्यक्ति से तुलना के लिए किया जाता है. भले ही ये कहावत म
07 फरवरी 2019
29 जनवरी 2019
साक्षरता और शिक्षा को सामान्यतः सामाजिक विकास के संकेतकों के तौर पर देखा जाता है। साक्षरता का विस्तार औद्योगिकीकरण, शहरीकरण, बेहतर संचार, वाणिज्य विस्तार और आधुनिकीकरण के साथ भी सम्बद्ध किया जाता है। संशोधित साक्षरता स्तर जागरूकता और सामाजिक कौशल बढ़ाने तथा आर्थिक दशा सुधारने में सहायक होता है। साक्
29 जनवरी 2019
23 जनवरी 2019
देवी-देवताओं को लोग पवित्र मानकर पूजा करते हैं, उनमें विश्वास रखते हैं। वहीं एक बीयर कंपनी ने भगवान की फोटो का गलत इस्तेमाल करते हुए बोतल पर गणेश जी की फोटो डाली है। जाहिर है, इससे दुनियाभर में फैले हिंदू आहत हुए हैं। लोग कंपनी के खिलाफ जमकर गुस्सा उतार रहे हैं। सोशल
23 जनवरी 2019
21 जनवरी 2019
फिल्मी दुनिया अब तक देशभक्ति पर कई फिल्में बन चुकी हैं, जिसमें हाल ही में उरी बॉक्स ऑफिस पर तहलका मचा रही है। देशभक्ति पर आधारित फिल्म उरी दर्शकों के बीच खूब पसंद हो रही है। उरी का जोश अभी लोगों के बीच खत्म नहीं हुआ कि एक और देशभक्त पर आधारित फिल्म रिलीज हो चुकी है। जी हा
21 जनवरी 2019
21 जनवरी 2019
हर कोई व्यक्ति चाहता है कि वह अपने माता-पिता का नाम रौशन करें जिसके बारे में वह काफी सोचता है उसका ऐसा मानना होता है कि हमारे माता-पिता ने बहुत ही दुख और कष्ट झेल कर हमको इतना बड़ा किया है उसके बदले में हमारा भी यह कर्तव्य होता है कि हम अपने माता-पिता के लिए कुछ करें
21 जनवरी 2019
24 जनवरी 2019
दुनियाभर में भारतीय प्रतिभा अपना लोहा मनवा रही है। बड़ी कंपनियों के महत्वपूर्ण पदों से लेकर कई देशों की सरकारों में भी यहां के लोग शामिल हैं। ज़ाहिर है किसी और देश में जाकर चुनौतियों का सामना करते हुए ख़ास मुकाम बनाना बेहद कठिन होता है। खासकर बात जब महिलाओं की हो तो उनके लिए रास्ते और भी मुश्किल भरे हो
24 जनवरी 2019
21 जनवरी 2019
कहते हैं कि कलयुग हैं हर कोई यहां सिर्फ खुद के बारे में और खुद के लिए हो सोचता है। लेकिन आज के समय में भी दुनिया में कई ऐसे लोग हैं जो अपने से ज्यादा दूसरों के बारे में सोचते हैं और उनकी खुशियों का ध्यान रखते हैं। आज हम आपको एक ऐसी ही कहानी बताने जा रहे हैं जिसे जानने के
21 जनवरी 2019
28 जनवरी 2019
ऐसा कहा जाता है कि व्यक्ति अपनी किस्मत खुद बनाता है क्योंकि व्यक्ति द्वारा किए गए कर्म के अनुसार वह अपनी किस्मत बदल सकता है लेकिन इस दुनिया में बहुत से व्यक्ति ऐसे हैं जो कड़ी मेहनत करते हैं और अच्छे कर्म भी करते हैं इसके बावजूद भी उनकी किस्मत नहीं बदल पाती है। आम भाषा में ये भी कहा जाता हैं कि हर
28 जनवरी 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x