सरसों के तेल के यह फायदे जानकर दंग रह जाएंगे आप

01 फरवरी 2019   |  मिताली जैन   (12 बार पढ़ा जा चुका है)

सरसों के तेल के यह फायदे जानकर दंग रह जाएंगे आप - शब्द (shabd.in)

सिर में मालिश करने से लेकर भोजन में तड़का लगाने के लिए अक्सर सरसों के तेल का इस्तेमाल किया जाता है। भले ही लोग इसे कड़वा तेल कहकर पुकारते हैं लेकिन वास्तव में यह तेल स्वास्थ्य के लिए कड़वा नहीं बल्कि औषधि समान है। इसमें मौजूद पोषक तत्व कई तरह के दर्द से लेकर अन्य बीमारियों को दूर करने में मदद करते हैं। तो चलिए जानते हैं हर भारतीय किचन में पाए जाने वाले सरसों के तेल से होने वाले स्वास्थ्य लाभ के बारे में-


दूर करे दर्द


सरसों का तेल कई तरह के शरीर में होने वाले दर्द को दूर करने में सहायक है। चाहे जोड़ों में दर्द हो या कान में। यह बेहद लाभकारी होता है। जोड़ों में दर्द होने पर सरसों के तेल से मालिश की जानी चाहिए। वहीं दांतों में दर्द होने पर सरसों के तेल में नमक मिलाकर मसूड़ों पर हल्की मालिश करें।


बढ़ाए भूख


जिन लोगों को बेहद कम भूख लगने की शिकायत होती है, उनके लिए सरसों का तेल काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। इसलिए भोजन में सरसों के तेल को शामिल करना चाहिए। दरअसल, यह तेल हमारे पेट में ऐपिटाइजर के रूप में काम करता है जिससे भूख बढ़ती है। साथ ही साथ सरसों का तेल पाचन तंत्र को बेहतर बनाता है। इसके अतिरिक्त अगर सरसों के तेल से मालिश की जाए तो इससे रक्त परिसंचरण और पसीने की ग्रंथियां उत्तेजित होती हैं। जिससे शरीर और पेट से जुड़ी कई समस्याएं दूर होती हैं।


घटाए वजन


जिन लोगों का वजन लगातार बढ़ता जा रहा है, उनके लिए भी सरसों का तेल बेहद लाभकारी है। दरअसल, सरसों के तेल में मौजूद विटामिन जैसे थियामाइन, फोलेट व नियासिन शरीर के मेटाबाल्जिम को बढ़ाते हैं जिससे वजन घटाने में मदद मिलती है।


दूर करे त्वचा का संक्रमण


सरसों का तेल त्वचा संक्रमण को भी दूर करता है, ऐसा इसके एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुणों के कारण होता है। दरअसल, सरसों के तेल में कुछ ऐसे तत्व पाए जाते हैं, जो संक्रमण से बचाव में मदद करते हैं। जब इससे शरीर की मालिश की जाती है तो सरसों का तेल बैक्टीरिया के संक्रमण से लड़ता है।


दमा से राहत


चूंकि सरसों के तेल में मैग्नीशियम पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है, इसलिए अस्थमा से पीड़ित लोगों के लिए यह बेहद फायदेमंद है। अस्थमा की समस्या बढ़ने पर सरसों के तेल से छाती पर मालिश करनी चाहिए। इसके अतिरिक्त अस्थमा की समस्या को कम करने के लिए शहद और सरसों के तेल को मिक्स करके उसका सेवन करें।


बचाए कैंसर से


शायद आपको पता न हो लेकिन सरसों के तेल का उपयोग करने से कैंसर के खतरे को कम किया जा सकता है। दरअसल, सरसों के तेल में ग्लूकोसिनोलेट नामक तत्व पाया जाता है जो कैंसर को शरीर में बनने से रोकता है। इसमें मौजूद तत्व कैंसर के खिलाफ एक सुरक्षा कवच की तरह काम करते हैं।


बढ़ाए रोग प्रतिरोधक क्षमता


सरसों का तेल शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का काम करता है। शरीर की अंदरुनी कमजोरी को दूर करने के लिए सरसों के तेल का नियमित सेवन करें। वहीं अगर सरसों के तेल से मालिश की जाए तो इससे मांसपेशियों में मजबूती आती है और इससे रक्त संचार भी बेहतर होता है।


सर्दी में फायदेमंद


सरसों के तेल का उपयोग यूं तो सालभर किया जा सकता है, लेकिन ठंड के मौसम में इसका इस्तेमाल करना विशेष रूप से लाभकारी है। दरअसल, इसकी तासीर गर्म होती है और अगर इसका इस्तेमाल भोजन में किया जाए तो इससे ठंड के मौसम में होने वाली बीमारियों से बचा जा सकता है। वहीं जुकाम या नाक बंद होने पर लहसुन को सरसों के तेल में डालकर हल्का गर्म करें। अब इस तेल से छाती व पीठ की मालिश करें। इससे आपको काफी राहत मिलेगी। वहीं कफ होने पर सरसों के तेल से भाप भी ली जा सकती है। इसके लिए एक बर्तन में पानी उबालकर उसमें सरसों का तेल व जीरा मिलाएं और इससे भाप लें।


मच्छरों को रखे दूर


मच्छरों का काटना भले ही एक आम बात हो लेकिन इसके कारण कई गंभीर बीमारियां होने की संभावना रहती है। ऐसे में मच्छरों से खुद को दूर रखने के लिए सरसों के तेल की मदद लें। मच्छरों से बचने के लिए सरसों के तेल को पहले शरीर पर लगाएं। इससे कीट व मच्छर आपके आसपास नहीं आएंगे।


आएगी प्यारी नींद


बहुत से लोग तनाव या अन्य कारणों के चलते रात को ठीक तरह से नहीं सो पाते। ऐसे में सरसों के तेल को पैरों के तलवे पर लगाकर उससे मालिश करनी चाहिए। इससे नींद तो अच्छी आती है ही, साथ ही आंखों की रोशनी भी तेज होती है।


लगाएं नाभि पर


यूं तो सरसों के तेल की मालिश सिर से लेकर पैर तक करने की सलाह दी जाती है लेकिन नाभि पर इसका प्रयोग करने से कई लाभ होते हैं। सबसे पहले तो इससे होंठों के फटने की समस्या दूर होती है। अगर सोने से पहले नाभि पर सरसों का तेल लगाया जाए तो इससे होंठ तो मुलायम बनेंगे ही, साथ ही चेहरे की रंगत में सुधार आता है। इसके अतिरिक्त पाचन संबंधी परेशानियां भी दूर होती हैं।


दिल के लिए लाभदायक


सरसों का तेल दिल के लिए बेहद ही लाभकारी है। यह गुड कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने के साथ ही बुरे कोलेस्ट्रॉल को भी नियंत्रित करता है। कुछ शोधों से भी यह बात साबित हुई है कि खाना पकाने में सरसों के तेल के उपयोग से हृदय रोग के सबसे सामान्य प्रकार कोरोनरी आर्टरी डिसीस की संभावना लगभग 70 फीसदी तक कम हो जाती है। इतना ही नहीं, यह शरीर में रक्तसंचार को बेहतर बनाता है और शरीर को उच्च रक्तचाप से बचाता है।

अगला लेख: पानी की कमी होने पर शरीर में दिखते हैं यह बड़े बदलाव



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
27 जनवरी 2019
आज के समय में लोग जिस तरह लगातार घंटों कंप्यूटर पर बैठकर काम करते हैं, उसके कारण गर्दन में दर्द की शिकायत होने लगती है। कई बार गलत पोजिशन में बैठने या लंबे समय तक एक ही तरह से बैठने के कारण यह परेशानी होती है। इस परेशानी से निपटने के लिए कई तरह के योगासनों का अभ्यास किया जा सकता है। तो चलिए जानते है
27 जनवरी 2019
28 जनवरी 2019
पीरियड्स किसी भी लड़की के शरीर का एक नेचुरल प्रोसेस है। हर 21 से 35 दिनों के बीच महिलाओं को माहवारी होती है। लेकिन कभी-कभी ऐसा होता है कि पीरियड्स समय पर नहीं आते और महिलाएं समझती हैं कि शायद वह प्रेग्नेंट है। यकीनन माहवारी न होने का यह एक मुख्य कारण है लेकिन इसके अतिरिक्त भी ऐसी कई चीजें हैं, जो देर
28 जनवरी 2019
03 फरवरी 2019
ठंड के मौसम में पुदीना मार्केट में बेहद सस्ता व आसानी से उपलब्ध होने वाली चीज है। कई तरह के पेय पदार्थों से लेकर भोजन में इसे प्रयोग करने की सलाह दी जाती है। इसका इस्तेमाल करने से जहां एक ओर खाने का स्वाद बढ़ता है, वहीं दूसरी ओर इससे कई
03 फरवरी 2019
05 फरवरी 2019
पोषक तत्वों से युक्त पालक को किसी न किसी रूप में डाइट में शामिल करने की सलाह दी जाती है। वैसे तो पालक को सब्जी या परांठों के रूप में भी खाया जाता है लेकिन आप चाहें तो इसे बतौर जूस भी ले सकते हैं। पालक का जूस लेने से इसके पोषक तत्व यूं ही बरकरार रहते हैं। तो चलिए जानते हैं पालक के जूस से होने वाले फा
05 फरवरी 2019
04 फरवरी 2019
बचपन में बच्चे ऐसे कई चीजें करते हैं, जो बड़े होते-होते कहीं पीछे छूट जाती हैं। फिर चाहे बात खेलने कूदने की हो या मस्तमौला स्वभाव की। वक्त बीतने के साथ यह सभी आदतें व्यक्ति के स्वभाव में नजर नहीं आतीं। लेकिन बचपन की ऐसी बहुत सी आदतें होती हैं, जो बड़े होने पर भी यदि बरकरार रखी जाए तो इससे कई तरह के ला
04 फरवरी 2019
29 जनवरी 2019
आज के समय में जिस तरह लोग अपना काफी वक्त स्क्रीन पर बिताते हैं, उसका एक सबसे बड़ा हानिकारक प्रभाव आंखों पर दिखाई देता है। कंप्यूटर, टीवी या मोबाइल पर लंबे समय तक रहने के कारण आंखों में थकान या दर्द का अहसास होता है। इसके अतिरिक्त धूल-मिट्टी व प्रदूषण के चलते भी आंखें में इंफेक्शन हो जाता है, जो आंखों
29 जनवरी 2019
11 फरवरी 2019
पिछले कुछ समय से योग के महत्व को पूरी दुनिया ने समझा है और यही कारण है कि कई तरह की शारीरिक व मानसिक समस्याओं से राहत पाने के लिए अब लोग योग का सहारा लेने लगे हैं। योग में ऐसे कई आसनों के बारे में बताया गया है जो पूरे स्वास्थ्य का बखूबी ख्याल रखते हैं। इन्हीं में से एक है भुजंगासन। इस आसन के अभ्यास
11 फरवरी 2019
31 जनवरी 2019
आमतौर पर महिलाएं घरमें बचत पर अधिक जोर देती हैं, जिसके कारण वह चीजों का बार-बार व एक ही कई चीज का इस्तेमालकरने में विश्वास करती हैं। फिर चाहें बात खान-पान की चीजों की हो या अन्य चीज की।अगर रोटी बच जाए तो चाउमीन बना लिया, रात की दाल बच गई तो सुबह परांठे बना लिए। इसीतरह
31 जनवरी 2019
20 जनवरी 2019
नींद लेना सिर्फ शरीर को आराम देने के लिए ही जरूरी नहीं होता, बल्कि यह बेहतर स्वास्थ्य की कुंजी है। आमतौर पर देखने में आता है कि लोग तनाव या काम के बोझ तले देर रात तक जागते रहते हैं और फिर उसका विपरीत असर उनके स्वास्थ्य पर पड़ता है। वहीं कुछ लोग ऐसे भी होते हैं, जो रात को सोते तो हैं, लेकिन फिर भी सुब
20 जनवरी 2019
13 फरवरी 2019
अगर भोजन के साथ प्याज न हो, तो खाने में मजा ही नहीं आता। लोग सिर्फ सब्जी बनाते समय ही प्याज का इस्तेमाल नहीं करते, बल्कि सलाद के रूप में इसे कच्चा भी खाया जाता है। वैसे यह अलग बात है कि लोग इसे काटना कम पसंद करते हैं क्योंकि इसे काटते समय आंखों से आंसू आते हैं। लेकिन क्या आप इस बात से वाकिफ हैं कि प
13 फरवरी 2019
29 जनवरी 2019
आज के समय में जिस तरह लोग अपना काफी वक्त स्क्रीन पर बिताते हैं, उसका एक सबसे बड़ा हानिकारक प्रभाव आंखों पर दिखाई देता है। कंप्यूटर, टीवी या मोबाइल पर लंबे समय तक रहने के कारण आंखों में थकान या दर्द का अहसास होता है। इसके अतिरिक्त धूल-मिट्टी व प्रदूषण के चलते भी आंखें में इंफेक्शन हो जाता है, जो आंखों
29 जनवरी 2019
25 जनवरी 2019
जीरे के बिना सब्जी में तड़का भी नहीं लगता। यह भोजन का स्वाद बढ़ाने के लिए ही इस्तेमाल नहीं किया जाता, बल्कि यह स्वास्थ्य के लिए भी उतना ही लाभकारी होता है। जीरा शरीर के सभी अंगों के लिए फायदेमंद है और इसके गुणों के कारण ही भारतीय किचन में इसका एक अलग महत्व है। भोजन के अतिरिक्त भी इसे अन्य कई तरीकों से
25 जनवरी 2019
15 फरवरी 2019
बेबी ऑयल का नाम सुनते ही दिमाग में एक कोमल शिशु की छवि उभरकर सामने आ जाती है। चूंकि बच्चों की त्वचा बेहद नाजुक होती है, इसलिए उनका ख्याल रखने के लिए अलग से मिलने वाले बेबी प्राॅडक्ट का इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है। बेबी ऑयल भी ऐसा ही एक बेबी प्राॅडक्ट है जो शिशु
15 फरवरी 2019
26 जनवरी 2019
भारतीय किचन में ऐसे कई तरह के मसालों का उपयोग प्रतिदिन किया जाता है, जिनके स्वास्थ्य लाभों से अब तक लोग अनजान है। जिसके कारण इन्हें हर दिन एक ही तरह से इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन वहीं दूसरी ओर, अगर इन्हें सही तरह से प्रयोग किया जाए तो इन्हीं मसालों की मदद से कई तरह की बीमारियों से निजात पाई जा सकत
26 जनवरी 2019
17 जनवरी 2019
कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों द्वारा ऐसे प्रमाण पाए गए हैं, जिनमें उपवास से जिगर और कंकाल की मांसपेशियों में सर्कैडियन क्लॉक प्रभावित होती है। इससे चयापचय को फिर से व्यवस्थित करने में मदद मिल सकती है, जिससे स्वास्थ्य और उम्र बढ़
17 जनवरी 2019
02 फरवरी 2019
कहते हैं कि जल ही जीवन है। अर्थात पानी के बिना व्यक्ति के जीवन की कल्पना भी नहीं की जा सकती। वैसे भी मनुष्य के आधे से अधिक शरीर पानी से ही बना है। यह पानी ही शरीर की कार्यप्रणाली को सही तरह से कार्य करने के लिए प्रेरित करता है और अगर इसकी कमी हो जाए तो व्यक्ति को कई गंभीर समस्याओं का सामना करना पड़ता
02 फरवरी 2019
27 जनवरी 2019
आज के समय में लोग जिस तरह लगातार घंटों कंप्यूटर पर बैठकर काम करते हैं, उसके कारण गर्दन में दर्द की शिकायत होने लगती है। कई बार गलत पोजिशन में बैठने या लंबे समय तक एक ही तरह से बैठने के कारण यह परेशानी होती है। इस परेशानी से निपटने के लिए कई तरह के योगासनों का अभ्यास किया जा सकता है। तो चलिए जानते है
27 जनवरी 2019
19 जनवरी 2019
घूमना तो हर किसी को पसंद होता है। परिवार के सदस्यों व दोस्तों के साथ मौज-मस्ती करते हुए नई जगह पर घूमना यकीनन किसी के लिए भी जीवन के बेहतरीन लम्हों में से एक होता है। लेकिन वहीं बहुत से लोग ऐसे भी होते हैं, जिन्हें घूमना तो पसंद होता है लेकिन फिर भी वह उससे बचते हैं। इसका मुख्य कारण होता है सफर के द
19 जनवरी 2019
24 जनवरी 2019
हर सुबह उठकर ब्रश करने के बाद भी बहुत से लोगों के मुंह से कुछ समय बाद बदबू आने लगती है। कई बार कुछ खाने पीने से होता है तो कई बार इसके लिए मुंह से जुड़ी कुछ बीमारियां या पाचन संबंधी परेशानियां भी जिम्मेदार होती हैं। लेकिन इसके कारण व्यक्ति को किसी के सामने बात करने में भी शर्मिन्दगी का अहसास तो होता
24 जनवरी 2019
24 जनवरी 2019
हर सुबह उठकर ब्रश करने के बाद भी बहुत से लोगों के मुंह से कुछ समय बाद बदबू आने लगती है। कई बार कुछ खाने पीने से होता है तो कई बार इसके लिए मुंह से जुड़ी कुछ बीमारियां या पाचन संबंधी परेशानियां भी जिम्मेदार होती हैं। लेकिन इसके कारण व्यक्ति को किसी के सामने बात करने में भी शर्मिन्दगी का अहसास तो होता
24 जनवरी 2019
03 फरवरी 2019
ठंड के मौसम में पुदीना मार्केट में बेहद सस्ता व आसानी से उपलब्ध होने वाली चीज है। कई तरह के पेय पदार्थों से लेकर भोजन में इसे प्रयोग करने की सलाह दी जाती है। इसका इस्तेमाल करने से जहां एक ओर खाने का स्वाद बढ़ता है, वहीं दूसरी ओर इससे कई
03 फरवरी 2019
26 जनवरी 2019
भारतीय किचन में ऐसे कई तरह के मसालों का उपयोग प्रतिदिन किया जाता है, जिनके स्वास्थ्य लाभों से अब तक लोग अनजान है। जिसके कारण इन्हें हर दिन एक ही तरह से इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन वहीं दूसरी ओर, अगर इन्हें सही तरह से प्रयोग किया जाए तो इन्हीं मसालों की मदद से कई तरह की बीमारियों से निजात पाई जा सकत
26 जनवरी 2019
28 जनवरी 2019
पीरियड्स किसी भी लड़की के शरीर का एक नेचुरल प्रोसेस है। हर 21 से 35 दिनों के बीच महिलाओं को माहवारी होती है। लेकिन कभी-कभी ऐसा होता है कि पीरियड्स समय पर नहीं आते और महिलाएं समझती हैं कि शायद वह प्रेग्नेंट है। यकीनन माहवारी न होने का यह एक मुख्य कारण है लेकिन इसके अतिरिक्त भी ऐसी कई चीजें हैं, जो देर
28 जनवरी 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x