Red Fort: जानिए दिल्ली के लाल क़िले का इतिहास और अन्य रोचक तथ्य...

12 फरवरी 2019   |  अंकिशा मिश्रा   (198 बार पढ़ा जा चुका है)

Red Fort: जानिए दिल्ली के लाल क़िले का इतिहास और अन्य रोचक तथ्य...

Red Fort (लाल किला) भारत में दिल्ली शहर का एक ऐतिहासिक किला है। यह 1856 तक, लगभग 200 वर्षों तक मुगल वंश के सम्राटों का मुख्य निवास रहा है। यह दिल्ली के केंद्र में स्थित है और जहां कई संग्रहालय हैं। बादशाहों और उनके घरों को समायोजित करने के अलावा, यह मुगल राज्य का औपचारिक और राजनीतिक केंद्र था और इस क्षेत्र को गंभीर रूप से प्रभावित करने वाली घटनाओं के लिए स्थापित किया गया था।

पांचवें मुगल सम्राट शाहजहाँ द्वारा 1639 में अपनी किलेबंद राजधानी शाहजहानाबाद के महल के रूप में निर्मित, लाल किले का नाम लाल बलुआ पत्थर की विशाल दीवारों के लिए रखा गया है और यह 1546 ईस्वी में इस्लाम शाह सूरी द्वारा निर्मित पुराने सलीमगढ़ किले से सटा हुआ है।




शाही अपार्टमेंट में मंडप की एक पंक्ति होती है, जिसे एक जल चैनल द्वारा स्वर्ग की धारा (नाहर-ए-बिहिश्त) के रूप में जाना जाता है। किला परिसर को शाहजहाँ और मुगल रचनात्मकता के तहत मुगल रचनात्मकता के क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने के लिए माना जाता है, हालांकि महल को इस्लामिक प्रोटोटाइप के अनुसार योजनाबद्ध किया गया था।


प्रत्येक मंडप में मुगल इमारतों के विशिष्ट वास्तुशिल्प तत्व शामिल हैं जो फ़ारसी, तैमूर और हिंदू के संलयन को दर्शाते हैं परंपराओं। लाल किले की नवीन स्थापत्य शैली, जिसमें इसकी उद्यान डिजाइन शामिल है, दिल्ली, राजस्थान, पंजाब, कश्मीर, ब्रज, रोहिलखंड और अन्य जगहों पर बाद की इमारतों और उद्यानों को प्रभावित करती है।

1747 में मुगल साम्राज्य पर नादिर शाह के आक्रमण के दौरान किले को अपनी कलाकृति और आभूषणों से लूटा गया था। बाद में 1857 के विद्रोह के बाद किले की अधिकांश कीमती संगमरमर संरचनाएं अंग्रेजों द्वारा नष्ट कर दी गईं।


किले की रक्षात्मक दीवारें काफी हद तक बख्श दी गईं, और किले को बाद में एक गैरीसन के रूप में इस्तेमाल किया गया। लाल किला वह स्थल भी था जहाँ अंग्रेजों ने 1858 में यंगून को निर्वासित करने से पहले अंतिम मुगल सम्राट को मुकदमे में डाल दिया था।

भारत के स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त) पर हर साल, प्रधानमंत्री किले के मुख्य द्वार पर भारतीय "तिरंगा झंडा" फहराते हैं और अपनी प्राचीर से राष्ट्रीय प्रसारण भाषण देते हैं।





इसे 2007 में लाल किला परिसर के एक भाग के रूप में यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल नामित किया गया था।


red fort Delhi timings

लाल किले का प्रवेश शुल्क और समय

लाल किला सुबह 9.30 बजे से शाम 4.30 बजे तक खुलता है। यह सोमवार के अलावा सप्ताह के सभी दिनों में खुला रहता है। लाल किला दिल्ली का शुरुआती समय सुबह 9.30 बजे है और समापन का समय शाम 4.30 बजे है।


red fort images

1- लाल क़िला

यह लाल किले के सामने का दृश्य है। इस चित्र में दो चौड़े स्तम्भों के बीच में मुख्य इमारत का हिस्सा है। जिसके शीर्ष पर भारतीय ध्वज लहरा रहा है।



2- दिवाने-ए-आम

यह लाल क़िले के दिवाने-ए-आम का दृश्य है। जिसमें लाल पत्थरों की कारीगरी को आसानी से देखा जा सकता है।


3- लाहौरी गेट

यह लाल क़िले का लाहौरी गेट है। जिसकी चोटी पर भारतीय धवज तिरंगा लहरा रहा है।


4- लाल क़िला परिसर

यह लाल क़िले के परिसर का बाहरी दृश्य है। जिसके सामने पर्यटकों का समूह देखा जा सकता है।


5- लाल क़िले की दिवार

यह लाल क़िले की दिवार का चित्र है।


6- लाल क़िले की नक्काशी

इस चित्र में लाल क़िले की दिवारों पर हुई नक्काशी को दिखाया गया है।


7- पत्थरों पर नक्काशी

इस चित्र में लाल क़िले में प्रयोग हुए पत्थरों पर पुष्पों को हथौड़े और अन्य औजारों से उकेरा गया है।

अगला लेख: एक स्पून टेस्ट से जाने घर पर ही कि आप कितने स्वस्थ हैं........



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
11 फरवरी 2019
11 फरवरी यानी प्रोमिस डे इस दिन अपने पार्टनर को जिंदगी भर साथ रहने का वादा किया जाता है। ऐसे में अगर ये प्रोमिस लंबे चौड़े भाषण में किया जाए तो बोरिंग हो सकता है। ऐसे में अगर आप चाहते हैं कि कम शब्दों में आप ज्यादा से ज्यादा बात कहेें त
11 फरवरी 2019
30 जनवरी 2019
हर माँ-बाप अपने बच्चों के लिए कोई न कोई सपना ज़रूर देखते हैं कोई चाहता हैं उनका बच्चा डॉक्टर बने तो किसी का ख्वाब होता है कि उनका बच्चा इंजीनियर बने लेकिन आपको ये बात सुनकर थोड़ी हैरानी होगी कि उत्तर प्रदेश के मैनपुरी ज़िले में नगला दरबारी नाम का एक गांव है, जहां माता-पिता बच्चों को इंजीनियर या डॉक्टर
30 जनवरी 2019
05 फरवरी 2019
हिंदू धर्म में किसी की मौत के बाद उसका अंतिम संस्कार किया जाता है, शव को मुखाग्नि दी जाती है औऱ फिर उसकी अस्थियों को गंगा जी में प्रवाहित किया जाता हैं। ऐसा माना जाता है कि ऐसा करने से मृतक की आत्मा को शांति मिलती है और मोक्ष की प्राप्ति होती है। लेकिन आज हम आपको एक ऐसे शख्स के बारे में बताएंगे जिनक
05 फरवरी 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x