स्वाइन फ्लू के बारे में नहीं जानते हैं, तो एक बार पढ़े ये क्या है और कैसे फैलता है

23 मार्च 2019   |  सतीश कालरा   (13 बार पढ़ा जा चुका है)

Third party image reference

स्वाइन फ्लू के नाम से जाना जाने वाला एक विशेष प्रकार के वायरस इनफ्लुएंजा ‘ए’ एच1 एन1 के कारण फैलता है । यह वायरस सूअर में पाए जाने वाले कई प्रकार के वायरसों में से एक है । सूअर के शरीर में इस वायरस के पैदा होने के कारण ही इसे स्वाइन फ्लू कहा जाता है।

वायरसों के ‘जीन्स’ में स्वाभाव के कारण समय-समय पर परिवर्तन होते रहते हैं । 1918 में जब फ्लू की महामारी आई थी, और जिस वायरस के कारण यह फ्लू अत्यधिक फैला था। उस वायरस का स्रोत सूअर को माना गया था। यह तथ्य सर्वेक्षण में सामने आए थे। इस फ्लू को स्पेनिश फ्लू के नाम से भी जाना जाता है । इस बीमारी का संक्रमण स्वाइन फ्लू के मरीज के खांसने छींकने व संपर्क से यह फैलती है । इस तरह के मरीज अलग रख कर उचित देखभाल की जरूरत होती है ।

Third party image reference

सवाइन फ्लू के लक्षण:

जब लोग स्वाइन फ्लू के वायरस से ग्रसित होते हैं, तो उनके लक्षण आमतौर पर मौसमी इन्फ्लूएंजा के लोगों के समान ही होते हैं। इसमें बुखार, थकान, और भूख की कमी, खांसी और गले में खराश आदि होते हैं । कभी कभी कुछ लोगों को उल्टी और दस्त भी हो सकती है।

यह भी पढ़े Read And Know Desi Health

दोस्तों आपको यह जानकारी कैसी लगी ? कृपया हमें कमेंट करकेबताएं । न्यूज़ अच्छी लगी हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा लाइक और शेयर करें । अच्छे अच्छे स्वास्थ संबंधित जानकारी के बारे में पढ़ने के लिए हमें अवश्य फोलो करें ।

धन्यवाद

अगला लेख: मर्द अपने बालों को कैसे सुरक्षित रख सकते हैं, जाने इसके उपाये



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
19 मार्च 2019
Third party image referenceसर्वाइकल स्पांडलाइसिस (Cervical Spondolysis) गर्दन के जोड़ की हड्डी में होता है। यह गर्दन के हड्डी के डिस्क पलटने, लिगामेंट में फ्रैक्चर से भी हो सकता है । जिससे काफी असहनीय दर्द और पीड़ा का अहसास होता है। बांहों की मांसपेशियों से लेकर हाथों की उंगलियों तक दर्द महसूस होता
19 मार्च 2019
25 मार्च 2019
Third party image referenceजब बहुत अधिक ठंड हो तो ऐसी ठंड में जिनकी आयु 45 वर्ष से अधिक है, उन्हें रात में 10 बजे सोने के बाद से जब भी बिस्तर से उठे, तब आप एक दम से ना उठे। क्योँकि ठंड के कारण शरीर का खून गाढ़ा हो जाता है । और वह धीरे धीरे कार्य करने के कारण पूरी तरह हृदय में नहीं पहुँच पाता है। इसी
25 मार्च 2019
17 मार्च 2019
Third party image referenceबढती उम्र में व्यक्ति की काम करने की छमता कम हो जाती है, और व्यक्ति कमजोर भी होने लगता है, उसका डाइजेशन भी कमजोर होने लगता है । जब व्यक्ति की 30 वर्ष की उम्र को पार कर लेता है, तो व्यक्ति के शारीर में कैल्शियम को पूरी तरह से अवशोषण करने की क
17 मार्च 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x