रात को बिस्तर से उठ कर पेशाब करने में हो सकता है, हार्ट अटैक, जाने इसके उपाय

25 मार्च 2019   |  सतीश कालरा   (18 बार पढ़ा जा चुका है)

Third party image reference

जब बहुत अधिक ठंड हो तो ऐसी ठंड में जिनकी आयु 45 वर्ष से अधिक है, उन्हें रात में 10 बजे सोने के बाद से जब भी बिस्तर से उठे, तब आप एक दम से ना उठे। क्योँकि ठंड के कारण शरीर का खून गाढ़ा हो जाता है । और वह धीरे धीरे कार्य करने के कारण पूरी तरह हृदय में नहीं पहुँच पाता है। इसी कारण से सर्दी के महीनों में 45 वर्ष से ऊपर के लोगों की ह्रदय गति रुकने से दुर्घटनाए अत्यधिक होती पाई गई हैं, इसलिए हमें सावधानी अत्यधिक बरतने की आवश्यकता है। यह कहना है, एक चिकत्सक का है। इनके अनुसार जिन्हें सुबह या रात में सोते समय अचानक उठ कर पेशाब करने जाना पड़ता हैं, उनको विशेष ध्यान देने की जरूरत है ।

Third party image reference

चिकित्सक के अनुसार हर एक व्यक्ति को इसी साढ़े तीन मिनिट में सावधानी बरतनी चाहिए, यह इतना महत्व पूर्ण क्यों है, यही साढ़े तीन मिनट अकस्मात होने वाली मौतों की संख्या कम कर सकते हैं। जब जब ऐसी घटना हुई हैं, परिणाम स्वरूप व्यक्ति भी रात में ही मृत पाया गया हैं।

Third party image reference

इसका मुख्य कारण यह है कि रात मे जब भी हम मूत्र विसर्जन के लिए जाते हैं, तब अचानक या ताबड़तोड उठते हैं, परिणाम स्वरूप मस्तिष्क तक रक्त नही पहुंचता है। मध्य रात्रि जब हम पेशाब जाने के लिए उठते है तो हमारा ई सी जी का पैटर्न बदल सकता है। इसका कारण यह है, कि अचानक खड़े होने पर मस्तिष्क को रक्त नहीं पहुच पाता है । और हमारे ह्रदय की क्रिया बंद हो जाती है।

ध्यान देने योग्य तीन बाते:

1. नींद से उठते समय आधा मिनट बिस्तर पर लेटे हुए रहिए।

2. अगले आधा मिनट बिस्तर पर बैठिये।

3. अगले अढाई मिनट पैर को गद्दे के नीचे झूलते छोड़िये।

साढ़े तीन मिनट के बाद आपका मस्तिष्क बिना खून का नहीं रहेगा और ह्रदय की क्रिया भी बंद नहीं होगी । इससे अचानक होने वाली मौतें भी कम होंगी ।

Read More : अर्जुन के पेड़ का हृदय रोग में महत्व ( Importance of arjun tree in hindi)

आपके प्रियजनों को लाभ हो इस लिए इस जानकारी को उन्हें दें, व इसको इतना शेयर करें की लोग इस का लाभ उठा सके व हृदय गति रुकने से उनको परेशानी का सामना ना करना पड़े । आशा करता हूं यह लेख आपको पसंद आया होगा । अच्छा लगे तो इसे शेयर व कॉमेंट्स जरूर करें ।

अगला लेख: अजवायन के अदभुत फायदे जानकर हैरान हो जायेगें ।



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
22 मार्च 2019
मंगल का वृषभ राशि में गोचरआज यानी चैत्रकृष्ण द्वितीया को दोपहर तीन बजकर पाँच मिनट के लगभग गर करण, ध्रुव योग और चित्रानक्षत्र में मंगल अपनी स्वयं की राशि मेष से निकल कर वृषभ राशि में प्रस्थान करजाएगा | इस प्रस्थान के समय मंगल कृत्तिका नक्षत्र पर होगा | अपने इस गोचर केदौरान छह अप्रेल को रोहिणी नक्षत्र
22 मार्च 2019
25 मार्च 2019
Third party image referenceइस लेख में आप को बतने जा रहे हैं कि चिया बीज क्या है, चिया बीज का उपयोग क्यों किया जाता हैं । यह अपने छोटे आकार के बावजूद, चिया बीज सबसे अधिक पौष्टिक भोजन हैं। वे फाइबर, प्रोटीन, ओमेगा -3 फैटी एसिड आदि पाए जाते हैं। इसे सबसे पहले मैक्सिको में पैदा किया गया था। औषधीय प्रयोग
25 मार्च 2019
23 मार्च 2019
जा
दो एक वर्षों से कई राजनेता सेना के जवानों का अपमानकरने की होड़ में लगे हैं. इन में से एक भी राजनेता ऐसा नहीं है जो सियाचिन की ठंडया रेगिस्तान की चिलचिलाती धूप में आधा घंटा भी रह पाए. जिन कठिनायों का सामनासीमा पर तैनात एक जवान करता है उसका इन्हें रत्ती भर भी अहसास नहीं है. और आश्चर्य की बात तो यह कि इ
23 मार्च 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
27 मार्च 2019
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x