पेट में गैस की समस्या को इस तरह कहें अलविदा

26 अप्रैल 2019   |  मिताली जैन   (34 बार पढ़ा जा चुका है)

पेट में गैस की समस्या को इस तरह कहें अलविदा

गर्मी के मौसम में खानपान को लेकर बेहद सतर्कता बरतनी पड़ती है। अगर इस तपिश भरे मौसम में खानपान में लापरवाही हो तो पेट में गैस की समस्या शुरू हो जाती है। यह गैस की समस्या व्यक्ति को काफी बैचेन कर देती है। इसके कारण गैस के चलते पेट में भारीपन व दर्द, आंखों में जलन, उल्टी आने का अहसास होना और सिर में दर्द तक होता है। तो चलिए आज हम आपको पेट में गैस की समस्या को दूर करने के लिए कुछ घरेलू उपाय बता रहे हैं-


बेकिंग सोडा का कमाल


बेकिंग सोडा कई तरह की छोटी-बड़ी समस्याओं को झट से दूर करता है। पेट में गैस की समस्या भी इन्हीं में से एक है। बेकिंग सोडा एक प्रकार से एंटासिड की तरह काम करता है। इसके सेवन से पेट में एसिड का स्तर सामान्य हो सकता है। इसके इस्तेमाल के लिए बेकिंग सोडा को पानी में अच्छी तरह मिला लें। इसके बाद यह पानी पी जाएं।


एलोवेरा का इस्तेमाल


एलोवेरा कई तरह के औषधीय गुणों से युक्त है। सौंदर्य से लेकर सेहत समस्याओं में यह बेहद प्रभावी है। अगर आपको पेट में गैस हो गई है तो एलोवेरा का सेवन करें। एलोवेरा में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो पेट की अंदरूनी परत में आई सूजन को कम करने में मदद करते हैं। दो चम्मच एलोवेरा जेल लेकर उसे एक गिलास पानी में मिलाएं। अब आप इसका सेवन करें। आप दिनभर में एक-दो गिलास पी सकते हैं।


नारियल पानी


गर्मी में नारियल पानी अमृत समान है। यह न सिर्फ शरीर में पानी के स्तर को बनाए रखता है, बल्कि इससे शरीर को ठंडक भी मिलती है। साथ ही इसमें एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होता है, जो गैस के कारण पेट में आई सूजन को कम कर सकता है। आप इसका सेवन किसी भी समय कर सकते हैं।


गैस दूर करे ग्रीन टी


ग्रीन टी में कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो शरीर पर विभिन्न तरह से काम करते हैं। खासतौर से, इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट पेट की अंदरूनी परत पर असर डालते हैं। इससे गैस की समस्या धीरे-धीरे कम होने लगती है। वैसे वैज्ञानिक तौर पर इस बात की भी पुष्टि की गई है कि ग्रीन टी पेट के कैंसर में भी कारगर साबित हो सकती है। इसके लिए एक कप पानी को पहले गर्म करें। अब इसमें शहद डालकर मिक्स कर लें। इसके बाद पानी में ग्रीन टी बैग डालकर कुछ देर के लिए छोड़ दें। अब आप इसक सेवन कर सकते हैं।


औषधि है अदरक


अदरक का प्रयोग यूं तो सुबह की चाय से लेकर सब्जी में किया जाता है। लेकिन अगर आप इसका प्रयोग सही तरह से करते हैं तो इससे पेट में गैस को दूर किया जा सकता है। अदरक में एंटीबैक्टीरियल और एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो हेलिकोबैक्टर पाइलोरी नामक संक्रमण के कारण पेट में होने वाली सूजन को कम करने में सक्षम हैं। इसके सेवन के लिए अदरक के टुकड़े को कुछ देर तक चबाएं। फिर पानी की मदद से इसे निगल जाएं। अगर अदरक का सेवन करना आपके लिए संभव नहीं है तो आप एक कप गर्म पानी में अदरक का पाउडर, सेंधा नमक, एक चुटकी हींग मिक्स करें और उसका सेवन करें।


नारियल तेल


नारियल तेल को अगर भोजन में शामिल किया जाए तो इससे पेट में गैस व अन्य कई स्वास्थ्य समस्याओं को आसानी से दूर किया जा सकता है। नारियल के तेल में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण पेट की अंदरूनी परत पर गैस के ऑक्सिडेटिव स्ट्रेस को कम करने में मदद करते हैं। इतना ही नहीं, नारियल तेल में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण भी होते हैं, जो गैस के कारण पेट में आई सूजन को कम कर सकते हैं।


दही का सेवन


गर्मी के दिनों में भोजन में दही को अवश्य शामिल करना चाहिए। आप चाहे तो इसे यूं ही खाएं या फिर इसका रायता बनाकर सेवन करें। दही में प्रोबायोटिक गुण होते हैं। वैज्ञानिक शोध से यह साबित हुआ है कि गैस्ट्रिक अल्सर और हेलिकोबैक्टर पाइलोरी पर प्रोबायोटिक प्रभावी तरीके से काम करता है।


शहद आएगा काम


पेट में गैस की समस्या होने पर दो चम्मच शहद को एक गिलास गर्म पानी में अच्छी तरह मिक्स कर लें। हर सुबह इस पानी को खाली पेट पिएं। ऐसा करने से गैस की समस्या तो दूर होती है ही, साथ ही व्यक्ति को अन्य भी कई तरह के लाभ प्राप्त होते हैं। अगर आप वजन कम करना चाहते हैं तो इसमें नींबू भी निचोड़ सकते हैं।


जीरा पानी


जीरा पेट की समस्याओं के लिए बेहद प्रभावी माना गया है। जीरे में एंटीइंफ्लेमेटरी और एंटीबैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं। इन गुणों के कारण ही यह गैस व पेट की अन्य बीमारियों में रामबाण की तरह काम करता है। इसके इस्तेमाल के लिए पहले आप जीरे को हल्का भूनकर उसे मोटा पीस लें। फिर पानी को गर्म करें और उसमें इस पाउडर को मिक्स करें। आप भोजन करने के बाद इस पानी का सेवन कर सकते हैं।

अगला लेख: बालों की हर समस्या को दूर करता है अंडा



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
28 अप्रैल 2019
गर्मी के मौसम में सूरज की हानिकारक किरणें कई तरह की समस्या पैदा करती हैं। इन्हीं में से एक है टैनिंग। यूं तो सूरज की किरणों से बचने के लिए लोग सनस्क्रीन क्रीम का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन कुछ ही देर में इसका असर खत्म हो जाता है और त्वचा के खुले हिस्सों में टैनिंग होती है। अगर आप भी अनइवन स्किन के कार
28 अप्रैल 2019
17 अप्रैल 2019
लौंग का उपयोग भारतीय रसोई मंे मसाले के रूप में वर्षों से होता आ रहा है। कभी भोजन का स्वाद बढ़ाने तो कभी किसी स्वास्थ्य समस्या को दूर करने में इसका उपयोग किया जाता है। लौंग में कई तरह के पोषक तत्व जैसे विटामिन ए, विटामिन सी, कैल्शियम, पोटैशियम, आयरन, सोडियम व फॉस्फोरस आदि की प्रचुर मात्रा पाई जाती है।
17 अप्रैल 2019
25 अप्रैल 2019
ट्यूबरक्लोसिस केवल हमारे फेफड़ो को ही प्रभावित नहीं करती है बल्कि यह मस्तिष्क को भी प्रभावित करती है। टीबी का बैक्टीरियल इंफेक्शन हमारे ब्रेन को क्षति पहुंचाती है जिसके कारण दिमाग के ऊतकों में सूजन आ जाती है। ब्रेन टीबी को मेनिनजाइटिस ट्यूबरक्लोसिस के नाम से भी जाना ज
25 अप्रैल 2019
15 अप्रैल 2019
अनार को अगर सेहत का खजाना कहा जाए तो गलत नहीं होगा। इसके छोटे दानों से सेहत को इतने बडे़ लाभ मिलते हैं कि जिसके बारे में बता पाना भी संभव नहीं है। वैसे हर मौसम में मिलने वाले अनार से आप स्वास्थ्य के साथ-साथ सौंदर्य लाभ भी मिलते हैं। अगर आप इसका सही तरह से उपयोग करें तो फिर आपको कभी भी डाॅक्टर या पार
15 अप्रैल 2019
25 अप्रैल 2019
कंडोम का उपयोग सेक्स के दौरान अनचाहे गर्भधारण से बचने के लिए किया जाता है। इसका प्रयोग सिर्फ अनचाहे गर्भधारण से बचने के लिए बल्कि यह यौन संचारित रोग जैसें- एड्स, गोनेरिया जैसी बीमारी होने का खतरा भी कम कर देता है। एक आंकड़े के मुताबिक दुनियाभर में करीब 5 अरब से अधिक ल
25 अप्रैल 2019
24 अप्रैल 2019
भारत देश में टीबी रोग एक महारोग के रुप में फैल चुका है टीबी के कारण वर्षभर में लाखों लोगों की मौत हो जाती है इसका एक प्रमुख कारण यह भी इस रोग के बारें में लोगों में जानकारी का अभाव है। टीबी मानव शरीर में माइकोइक्टीरियम ट्युबरक्लोसिस बैक
24 अप्रैल 2019
22 अप्रैल 2019
पिछले कुछ समय से योग के महत्व को पूरी दुनिया ने माना है और यही कारण है कि आज के समय में लोग अपनी स्वास्थ्य समस्याओं के लिए दवाईयों से अधिक योगाभ्यास करना ज्यादा उचित समझते हैं। वैसे तो योग में कई तरह के योगासनों को शामिल किया गया है, लेकिन कपालभांति एक ऐसा प्रणायाम है, जिसे करने में न तो ज्यादा समय
22 अप्रैल 2019
25 अप्रैल 2019
जिफी 200 टैबलेट का उपयोग बैक्टीरीयल संक्रमण को खत्म के लिए इलाज में प्रयोग में लाई जाती है। यह दवाई बैक्टीरिया को विकास को रोकता है और एंटीबायोटिक के रुप में काम करता है। इस दवा का उपयोग सीने में संक्रमण, कान के संक्रमण, गलें में इंफेक्शन को और टाइफाइड बुखार के होने पर उपचार के लिए डॉक्टर द्वारा अनु
25 अप्रैल 2019
15 अप्रैल 2019
गर्मी के मौसम में शरीर में पानी की मात्रा बनाए रखने के लिए सिर्फ पानी पीना ही पर्याप्त नहीं होता। इस मौसम में हरदम पानी पीना संभव नहीं होता। व्यक्ति ऐसा कुछ पीने की चाहत रखता है, जिससे उसे ठंडक मिलती रहे और उर्जा का स्तर भी बना रहे। लेकिन इसके लिए कोल्ड-ड्रिंक या एनर्जी ड्रिंक पीने की बजाय कुछ हेल्द
15 अप्रैल 2019
23 अप्रैल 2019
गर्मी का मौसम आते ही लोग दही का उपयोग अधिक मात्रा में करने लगते हैं। चूंकि इसकी तासीर ठंडी होती है और यह शरीर के तापमान को बनाए रखती है, इसलिए कभी लोग इसे रायता तो कभी लस्सी तो कभी शेक के रूप में इस्तेमाल करते हैं। वैसे तो आपने भी दही का स्वाद कई रूपों में चखा होगा, लेकिन यह सिर्फ भीतरी तौर पर ही आप
23 अप्रैल 2019
15 अप्रैल 2019
अनार को अगर सेहत का खजाना कहा जाए तो गलत नहीं होगा। इसके छोटे दानों से सेहत को इतने बडे़ लाभ मिलते हैं कि जिसके बारे में बता पाना भी संभव नहीं है। वैसे हर मौसम में मिलने वाले अनार से आप स्वास्थ्य के साथ-साथ सौंदर्य लाभ भी मिलते हैं। अगर आप इसका सही तरह से उपयोग करें तो फिर आपको कभी भी डाॅक्टर या पार
15 अप्रैल 2019
16 अप्रैल 2019
गर्मी का मौसम अपने साथ कई समस्याएं लेकर आता है, पसीना भी इन्हीं में से एक है। जब धूप की तपिश बढ़ने लगती है तो व्यक्ति को अक्सर पसीना आता है। इस पसीने के कारण अमूमन व्यक्ति असहज महसूस करता है। कई बार तो पसीने के कारण दुर्गंध व खुजली भी होती है। कुछ लोग इस पसीने की दुर्गंध को दूर करने के लिए खुशबूदार प
16 अप्रैल 2019
21 अप्रैल 2019
सभी फलों में सेब को सबसे अधिक सेहतमंद माना जाता है। कहा भी जाता है कि “एन एप्पल ए डे, कीप्स द डॉक्टर अवे” यानि एक सेब रोज खाने वाले व्यक्ति को कभी डाॅक्टर के पास जाने की आवश्यकता नहीं पड़ती। सेब से व्यक्ति को कई तरह के पोषक तत्व, एंटीऑक्सीडेंट व फाइबर आदि प्राप्त होता
21 अप्रैल 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x