हाई ब्लड प्रेशर से हैं पीड़ित, काम आएंगे यह घरेलू नुस्खे

29 अप्रैल 2019   |  मिताली जैन   (66 बार पढ़ा जा चुका है)

हाई ब्लड प्रेशर से हैं पीड़ित, काम आएंगे यह घरेलू नुस्खे

आज के समय में लोग कई तरह की बीमारियों से ग्रस्त हैं। उच्च रक्तचाप की समस्या इन्हीं में से एक है। इसे एक साइलेंट किलर कहा जाता है। ब्लडप्रेशर की समस्या आज के समय में बेहद आम होती जा रही है। धूम्रपान, मोटापा, शारीरिक गतिविधियों में कमी, भोजन में अत्यधिक नमक, बढ़ती उम्र, अनुवांशिकता, शराब, तनाव, नींद संबंधी विकार कुछ ऐसे कारण हैं जो कहीं न कहीं उच्च रक्तचाप की वजह बनते हैं। जब व्यक्ति को यह समस्या होती है तो उसे लगातार सिरदर्द, छाती में दर्द, नजर कमजोर होना, सांस लेने में दिक्कत, नाक से खून निकलना जैसी परेशानियां होती है। इसलिए यह जरूरी है कि इस तरह की समस्या होने पर तुरंत डाॅक्टरी जांच करवाएं। वैसे हाई ब्लड प्रेशर होने पर सिर्फ दवाईयां ही नहीं, कुछ घरेलू उपायों की मदद से काफी हद तक बीमारी पर काबू पाया जा सकता है। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में-


लहसुन का इस्तेमाल


लहसुन का इस्तेमाल यूं तो सब्जी का स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है, लेकिन अगर आप चाहें तो इसकी मदद से कई बीमारियों का इलाज आसानी से कर सकते है। लहसुन में बायोएक्टिव सल्फर यौगिक के रूप में एस-एल सिस्टीन पाया जाता है, जो हाई ब्लड प्रेशर के लिए काफी लाभदायक है। आप सुबह-शाम एक चम्मच शहद के साथ 1 लहसुन की कली ले सकते हैं। इसके अतिरिक्त अपनी डाइट में भी लहसुन को शामिल करें।


आंवला आएगा काम


आंवले का रस कई मायनों में लाभकारी माना गया है। इसमें मौजूद विटामिन सी सिर्फ प्रतिरक्षा तंत्र को ही मजबूत नहीं करता, बल्कि इससे उच्च रक्तचाप की समस्या भी नियंत्रित होती है। इसके लिए एक गिलास साफ पानी में दो चम्मच आंवले का रस मिलाएं। हर रोज सुबह खाली पेट लें। इससे आप सिर्फ उच्च रक्तचाप ही नहीं, कई गंभीर बीमारियों से बचे रहेंगे।


ब्लडप्रेशर मैनेज करेगी मेथी


मेथी डायबिटीज से लेकर मोटापे व ब्लडप्रेशर की समस्या को दूर करने का माद्दा रखता है। इसमें कई पोषक तत्व जैसे विटामिन, खनिज, लौह, कैल्शियम और प्रोटीन आदि पाए जाते हैं, जो हाइपरटेंशन को नियंत्रित करने में मदद करते हैं। इसके सेवन के लिए एक गिलास गर्म पानी में आधा चम्मच मेथी के बीज डाल दीजिए। फिर इसे रातभर के लिए छोड़ दें। सुबह उठते ही खाली पेट इस पानी का सेवन कीजिए।


शहद का कमाल


शहद में एंटीबायोटिक, माइक्रो न्यूट्रिएंट, एंटीऑक्सीडेंट के साथ विटामिन ए, बी और सी भी पाया जाता है। अगर शहद का प्रयोग अजवाइन के पत्तों के रस के साथ किया जाए तो इससे हाइपरटेंशन की समस्या से राहत मिलती है। इसके सेवन के लिए दिन में तीन बार अजवाइन के पत्तों का रस शहद में मिलाकर लें।


प्याज का रस


प्याज का सेवन गर्मी के मौसम में करने की सलाह दी जाती है क्योंकि यह लू से बचाता है। इतना ही नहीं, जिन लोगों को उच्च रक्तचाप की समस्या है, उन्हें भी प्याज के रस का प्रयोग करना चाहिए। दरअसल, प्याज की परतों में कुएरसेटीं नामक तत्व पाया जाता है, जो उच्च रक्त चाप को नियंत्रित करने में काफी मदद करता है। इसके सेवन के लिए आधा चम्मच प्याज का रस लेकर उसमें आधा चम्मच शहद मिलाएं। आप सुबह और शाम इस मिश्रण का सेवन कर सकते हैं।


नारियल पानी है अमृत


कुछ लोगों को प्याज या लहसुन का सेवन करने में दिक्कत होती है, ऐसे लोग नारियल पानी का सेवन करें। यह गर्मी के मौसम में न सिर्फ शरीर को निर्जलीकरण से बचाता है, बल्कि उच्चरक्तचाप को भी नियंत्रित करता है। नारियल पानी में खनिज और लवण पर्याप्त मात्रा में मौजूद होते हैं, जो धमनियों में रक्त प्रवाह के असंतुलन को शांत करने में मदद करते हैं। इसके अतिरिक्त इसमें मौजूद पोटेशियम रक्त में सोडियम के स्तर को संतुलित करता है और हाई ब्लड प्रेशर का उपचार करता है। इसके लिए आप सुबह शाम नारियल पानी का सेवन करें।


तरबूज


गर्मी के मौसम मंे तरबूज का सेवन करने की सलाह हर किसी को दी जाती है क्योंकि इसमें पानी की अधिकता होती है। साथ ही यह शरीर को ठंडक भी प्रदान करता है। इसके अतिरिक्त इसमें मौजूद एमिनो एसिड एल-साइट्रूलाइन और एल-आर्जिनिन तत्व हाई ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करते हैं। इसलिए अगर किसी को उच्च रक्तचाप की समस्या है तो उसे तरबूज को अपनी डाइट में अवश्य शामिल करना चाहिए। इसके सेवन के लिए आप तरबूज को काटकर खाएं।


नींबू है बेस्ट


विटामिन सी और एंटी-आॅक्सीडेंट युक्त नींबू उच्च रक्तचाप का उपचार करने में सहायक है। यह रक्त वाहिकाओं को नरम और लचीला बनाने में मदद करता है। इसके सेवन के लिए आप पानी को हल्का गर्म करें और उसमें नींबू निचोड़कर रोज सुबह खाली पेट पिएं। ऐसा करने से सिर्फ रक्तचाप ही रेग्युलेट नहीं होता, बल्कि शरीर के विषाक्त पदार्थ भी बाहर निकल जाते हैं। जिससे मोटापा व अन्य कई गंभीर समस्याओं से राहत मिलती है।


अगला लेख: वैक्सिंग के बाद त्वचा पर हो गए हैं दाने, अपनाएं यह घरेलू उपाय



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
20 अप्रैल 2019
करेले स्वाद में भले ही कड़वा हो लेकिन इसके लाभ अनगिनत हैं। कुछ लोग महज इसके कड़वे स्वाद के चलते करेले को डाइट में शामिल नहीं करते। लेकिन अगर आप इसकी सब्जी या जूस का नियमित रूप से सेवन करते हैं तो बहुत सी बीमारियों को अपने पास फटकने से भी रोक सकते हैं। तो चलिए जानते हैं करेले के सेवन से स्वास्थ्य को हो
20 अप्रैल 2019
24 अप्रैल 2019
नैक्सडम टैबलेट का उपयोग ऑस्टियोआर्थराइटिस, संधिशोथ, स्पॉन्डिलाइटिस, सिरदर्द, और माइग्रेन रोग होने पर दर्द निवारक के रुप में किया जाता है। गंभीर परिस्थितियों में इस दवा को 35 किलोग्राम से कम वजन वाले रोगियों में उपयोग के लिए अनुशंसित नहीं किया जाता है। यह टैबलेट नॉन-स्
24 अप्रैल 2019
21 अप्रैल 2019
सभी फलों में सेब को सबसे अधिक सेहतमंद माना जाता है। कहा भी जाता है कि “एन एप्पल ए डे, कीप्स द डॉक्टर अवे” यानि एक सेब रोज खाने वाले व्यक्ति को कभी डाॅक्टर के पास जाने की आवश्यकता नहीं पड़ती। सेब से व्यक्ति को कई तरह के पोषक तत्व, एंटीऑक्सीडेंट व फाइबर आदि प्राप्त होता
21 अप्रैल 2019
15 अप्रैल 2019
अनार को अगर सेहत का खजाना कहा जाए तो गलत नहीं होगा। इसके छोटे दानों से सेहत को इतने बडे़ लाभ मिलते हैं कि जिसके बारे में बता पाना भी संभव नहीं है। वैसे हर मौसम में मिलने वाले अनार से आप स्वास्थ्य के साथ-साथ सौंदर्य लाभ भी मिलते हैं। अगर आप इसका सही तरह से उपयोग करें तो फिर आपको कभी भी डाॅक्टर या पार
15 अप्रैल 2019
15 अप्रैल 2019
औषधीय गुणों से युक्त स्किन के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। अगर इसके पत्तों को ब्यूटी केयर रूटीन में शामिल कर लिया जाए तो इससे न सिर्फ चेहरे की खूबसूरती निखरती है, बल्कि चेहरे के दाग-धब्बे व कील मुंहासों से भी राहत मिलती है। इतना ही नहीं, यह बढ़ती उम्र की निशानियां जैसे झुर्रियां, डाईनेस व स्किन का प
15 अप्रैल 2019
23 अप्रैल 2019
गर्मी का मौसम आते ही लोग दही का उपयोग अधिक मात्रा में करने लगते हैं। चूंकि इसकी तासीर ठंडी होती है और यह शरीर के तापमान को बनाए रखती है, इसलिए कभी लोग इसे रायता तो कभी लस्सी तो कभी शेक के रूप में इस्तेमाल करते हैं। वैसे तो आपने भी दही का स्वाद कई रूपों में चखा होगा, लेकिन यह सिर्फ भीतरी तौर पर ही आप
23 अप्रैल 2019
30 अप्रैल 2019
अमूमन महिलाएं अपनी स्किन के अनचाहे बालों से छुटकारा पाने के लिए वैक्सिंग का सहारा लेती हैं। इससे बाल जड़ से निकल जाते हैं और स्किन भी एकदम स्मूद दिखती है। लेकिन कुछ महिलाओं को वैक्सिंग करवाने के कुछ समय बाद स्किन पर दाने नजर आते हैं। जिसके कारण वह परेशान हो जाती हैं। अगर आपके साथ भी ऐसा ही कुछ हो रहा
30 अप्रैल 2019
24 अप्रैल 2019
भारत देश में टीबी रोग एक महारोग के रुप में फैल चुका है टीबी के कारण वर्षभर में लाखों लोगों की मौत हो जाती है इसका एक प्रमुख कारण यह भी इस रोग के बारें में लोगों में जानकारी का अभाव है। टीबी मानव शरीर में माइकोइक्टीरियम ट्युबरक्लोसिस बैक
24 अप्रैल 2019
16 अप्रैल 2019
गर्मी का मौसम अपने साथ कई समस्याएं लेकर आता है, पसीना भी इन्हीं में से एक है। जब धूप की तपिश बढ़ने लगती है तो व्यक्ति को अक्सर पसीना आता है। इस पसीने के कारण अमूमन व्यक्ति असहज महसूस करता है। कई बार तो पसीने के कारण दुर्गंध व खुजली भी होती है। कुछ लोग इस पसीने की दुर्गंध को दूर करने के लिए खुशबूदार प
16 अप्रैल 2019
25 अप्रैल 2019
नारियल का तेल कई तरह के गुणों से युक्त है। देश के विभिन्न हिस्सों में नारियल तेल की मदद से भोजन पकाया जाता है तो कई जगहों पर इसका इस्तेमाल विभिन्न स्वास्थ्य समस्याओं में किया जाता है। लेकिन इससे अलग भी नारियल तेल के अपने फायदे हैं। खासतौर से, सौंदर्य निखारने और सौंदर्य समस्याएं दूर करने में इसका कोई
25 अप्रैल 2019
15 अप्रैल 2019
अनार को अगर सेहत का खजाना कहा जाए तो गलत नहीं होगा। इसके छोटे दानों से सेहत को इतने बडे़ लाभ मिलते हैं कि जिसके बारे में बता पाना भी संभव नहीं है। वैसे हर मौसम में मिलने वाले अनार से आप स्वास्थ्य के साथ-साथ सौंदर्य लाभ भी मिलते हैं। अगर आप इसका सही तरह से उपयोग करें तो फिर आपको कभी भी डाॅक्टर या पार
15 अप्रैल 2019
25 अप्रैल 2019
जिफी 200 टैबलेट का उपयोग बैक्टीरीयल संक्रमण को खत्म के लिए इलाज में प्रयोग में लाई जाती है। यह दवाई बैक्टीरिया को विकास को रोकता है और एंटीबायोटिक के रुप में काम करता है। इस दवा का उपयोग सीने में संक्रमण, कान के संक्रमण, गलें में इंफेक्शन को और टाइफाइड बुखार के होने पर उपचार के लिए डॉक्टर द्वारा अनु
25 अप्रैल 2019
21 अप्रैल 2019
सभी फलों में सेब को सबसे अधिक सेहतमंद माना जाता है। कहा भी जाता है कि “एन एप्पल ए डे, कीप्स द डॉक्टर अवे” यानि एक सेब रोज खाने वाले व्यक्ति को कभी डाॅक्टर के पास जाने की आवश्यकता नहीं पड़ती। सेब से व्यक्ति को कई तरह के पोषक तत्व, एंटीऑक्सीडेंट व फाइबर आदि प्राप्त होता
21 अप्रैल 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x