जीत जाते तो विराट, हारे तो धोनी: World Cup 2019

12 जुलाई 2019   |  हरीश भट्ट   (131 बार पढ़ा जा चुका है)

जीत जाते तो विराट, हारे तो धोनी: World Cup 2019

वाह भाई वाह ...

जीत जाते तो विराट- रोहित. हार गए तो मिस्टर कूल. एक्सपीरियंस के आधार धोनी की बेहतरीन इनिंग की बदौलत ही टीम इंडिया न्यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में जीत के नजदीक तक पहुंची. मिस्टर कूल पर उंगली उठाने वालों को समझना चाहिए वर्ल्ड कप में टीम इंडिया पार्टिसिपेट कर रही थी ना सिर्फ की धोनी. इतने महत्वपूर्ण मैच में आप सिर्फ पिच छूने गए थे या दर्शक दीर्घा में बैठकर मैच का मजा लेने.

जब भारत में क्रिकेट के प्रति दीवानगी आसमान छूती हो, तब करो या मरो वाले मैच में तू चल, मैं आया नहीं हो सकता. वो एक्सपर्ट ही क्या जिनके मौके पर फ्यूज उड़ जाए. धोनी थे तो जडेजा भी चल निकले, वरना हार के अंतर को समझा जा सकता है. दुश्मन को कमजोर समझने की गलती ही हार का कारण बनती है. क्रिकेट की दुनिया में पाकिस्तान से आगे भी कई देश है. पाक फतेह का मतलब वर्ल्ड कप नहीं होता है.

4 साल का इंतजार और करोड़ों फैंस की उम्मीदों पर सिर्फ 45 मिनट में न्यूजीलैंड ने पानी फेर दिया. कोई तो दम दिखाता, जिन्होंने दम दिखाया हार का ठीकरा उनके सिर फोड़ना अच्छी बात नहीं. हार जीत तो लगी रहती है, ऐसा भी क्या कि महत्वपूर्ण मैच में गलती खुद करो और इल्जाम दिन पर लगा दो कि दिन ही खराब था

अगला लेख: ओ रे मांझी ले चल मुझे गंगा पार...



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x