सुषमा जी भारत माता की वीर कर्तव्यमयी निष्कामभाव पूर्ण देश पर समर्पित एक महान देवी

06 अगस्त 2019   |   भरत का भारत   (2886 बार पढ़ा जा चुका है)

सुषमा जी भारत माता की वीर कर्तव्यमयी निष्कामभाव पूर्ण देश पर समर्पित एक महान देवी

शब्दों की कमी भाव को समझ जाइए । जय हिंद आत्मन: शांति भवति: भारत माँ की गोद में ॐ शांति शांति शांति !

सुषमा जी भारत माता की वीर कर्तव्यमयी निष्कामभाव पूर्ण देश पर समर्पित एक महान देवी
सुषमा जी भारत माता की वीर कर्तव्यमयी निष्कामभाव पूर्ण देश पर समर्पित एक महान देवी

अगला लेख: क्या मॉब लिंचिंग घटनाएं सिर्फ दलित ,मुस्लिम वर्ग के संदर्भ में प्रयुक्त होती हैं ?



भरत का भारत
07 अगस्त 2019

हम सभी को देश के पुनःगठन में योगदान देना चाहिए यही सुषमा जी को असली श्रधांजलि है जय हिंद राष्ट्र पहले सब बाद में

anubhav
07 अगस्त 2019

देश की पॉपुलर महिला मंत्री सुषमा स्वराज जी को मेरा नमन...ओम शांति ओम

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
27 जुलाई 2019
दो प्रशन सिर्फ़ मेरे पहला क्या हिंदू-मुस्लिम का भेद ख़ुद social-media व news-media द्वारा किया जाता है? कोई क्यों न्याय की भावना से नहीं कहता लड़का मुनासिर है लड़की कीर्ति ? यहीं अगर इसका विरूद्ध प्रकरण होता तो हर जगह बात सुनी जाती ,मुस्लिम समाज व secular-बुध्ह्जीवी c
27 जुलाई 2019
07 अगस्त 2019
हि
शब्दनगरी को कैसे और बेहतर व ज़्यादा से ज़्यादा लोगों से जोड़ सकते है ? कैसे एक राष्ट्रीय विख्यात मंच बना सकते है कि जैसे २०१५ में thequint thewire बने और आज देश की प्रमुख website media news में एक हैं वैसे ही हिंदी लेखन में कैसे हम इसे उस स्तर पे ले जा सकते है ?
07 अगस्त 2019
07 अगस्त 2019
आप सभी भारतवासिओँ को तुलसी दिवस व जयंती के हार्दिक अवसर पर बधाई , हो सके तो कभी रामचरितमानस का पाठ भी करके देख ले क्योंकि चाहे राम हो चाहे तुलसीदास हम हिंदुओ के पास हर विषय के लिए वक़्त है पर अध्यायन के लिए नहीं ,मृत्यु के बाद पछताने से बेहतर जीवित रह कर समझदारी दिखान
07 अगस्त 2019
17 अगस्त 2019
15 अगस्त 1946 में मुस्लिम लीग के द्वारा ‘डायरेक्ट एक्शन डे’ की घोषणा कर दी गई. मुस्लिम लीग के इस एलान ने 16 अगस्त 1946 को कलकत्ता में भीषण दंगे का रूप ले लिया. हर तरफ खून की होली खेली जाने लगी. देखते ही देखते कलकत्ता का सांप्रदायिक दंगा बंगाल और बिहार की सीमा पर भी शुरू हो गया.इस सांप्रदायिक दंगे को
17 अगस्त 2019
03 अगस्त 2019
बीतें कुछ महीनों में देश की समरसिता व गंगा-जमुना तहज़ीव में कुछ चक्रवात उपस्तिथ हुए हैं । ये चक्रवात भिन्न-भिन्न छेत्र के महान धर्मनिर्पेक्ष-सेक्युलर-संविधानिक ब्रिटिश-इंडो इण्डियन द्वारा संचालित व प्रसारित कियें गये हैं। वर्तमान मीडिया संस्थानो ने इन चक्रवातों का नाम
03 अगस्त 2019
11 अगस्त 2019
वह केवल 18 वर्ष का था, जब उसे 1908 में बिहार के मुजफ्फरपुर में एक हमले और तीन अंग्रेजों की हत्या के लिए मौत की सजा सुनाई गई थी। एक सदी बीत चुकी है, फिर भी खुदीराम बोस का नाम परछाइयों में है।भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के सबसे युवा क्रांत
11 अगस्त 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x