अखंडभारत

18 अगस्त 2019   |  pradeep   (4033 बार पढ़ा जा चुका है)

अखंडभारत की परिकल्पना हिंदुत्ववादी संघठन हर वक्त करते है तो सबसे पहले यह जानना ज़रूरी है कि अखंडभारत क्या है? अखंडभारत से मतलब है पाकिस्तान और बंगला देश ? नहीं इनकी सोच इससे भी आगे जाती है. अफगानिस्तान, पाकिस्तान, भारत, नेपाल, तिब्बत, बंगलादेश, बर्मा और श्रीलंका यह सभी अखंडभारत के अंग है. अच्छा हुआ अभी पश्चिम में ईरान और पूर्व में थाईलैंड, ,मलेशिया, सिंगापोर और इंडोनेशिया को नहीं जोड़ा वरना पता नहीं और कितने देशों के लोगों को हम नाराज़ करते? मेरे अनुसार तो यह पूरी पृथ्वी ही अखंडभारत है, क्योकि इस पृथ्वी को बनाने वाले तो स्वयं ब्रह्मा है, और भगवान् विष्णु ने कितनी बार पृथ्वी को बचाया है, पृथ्वी का नाम भी महाराजा पृथु से पड़ा है. ऐसे में हम क्यों इतनी छोटी सोच रखते इन कुछ देशों को ही शामिल करते है. हनुमानजी तो अमेरिका तक गए थे और वहाँ राज्य स्थापित किया था जिसके अवशेष भी अमेरिका में मिले है? आस्ट्रेलिया पाताल लोक था जहाँ राक्षस राज करते थे, पता नहीं अभी तक हमने यूरोप, चीन और जापान में हिन्दू धर्म के अवशेष नहीं खोजे, उम्मीद है जल्दी मिल जाएंगे. किसी ने बताया था कि अफगानिस्तान में एक गुफ़ा में पुष्पक विमान मिला है अब पता नहीं उसे भी अमेरिकी फौज शायद अमेरिका ले गई, वरना हमारे पास हवाई ज़हाज़ बनाने की हज़ारो साल पुरानी तकनीक होती. इंडोनेशिया के समुन्द्र के नीचे एक विशाल विष्णु मंदिर मिला है जिसकी खबर विश्व के पुरातत्ववादियों को नहीं है पर हमारे हिन्दुत्ववादियों को ज़रूर है. एक मंदिर में तो 5000 साल पुरानी दिवार पर खुदी साइकिल मिली है? शायद उस ज़माने में भी लोग साइकिलिंग करते थे? अपोलो जब चाँद पर पहुंचा तो हिन्दुस्तान के एक साधू ने कहा था कि मैं तो अपनी शक्तियों से कई बार चाँद जा चुका हूँ, पर ना जाने कहाँ चला गया बेचारा वरना हिन्दुस्तान को इतना खर्च नहीं करना पड़ता चंद्रयान में, उस पैसे से हम एक और मूर्ति बना सकते थे? हमे गर्व है कि विश्व की सबसे ऊँची मूर्ति हमारे देश में है. आगे भी और ऊँची मूर्तियां लगेगी, और हमे गौरवान्वित करेंगी. बात अखंडभारत की कर रहे थे वही वापिस चलते है वरना शराब का नशा हो ना हो मूर्तियां बनाने का नशा चढ़ जाएगा, जो शौक हम जैसो के लिए महंगा है, उसके लिए राजनेता बनना पड़ेगा. हम तो बात पृथ्वी की कर रहे थे पर यह तो भूल ही गए कि इस पृथ्वी की ही नहीं पुरे ब्रह्माण्ड की रचना ब्रह्मा ने की है तो फिर यह पृथ्वी तो बहुत छोटी है पूरा ब्रह्माण्ड ही अखंडभारत है. आज भगवान् राम के पूर्वज मिल गए लेकिन मैं भी और मैं ही क्यों हम सभी ब्रह्मा से उत्पन्न हुए है और ब्रह्मा ख़ुद भगवान् विष्णु की नाभि से पैदा हुए हैं तो हम सभी भगवान् विष्णु के वंशज हैं. भगवान् राम विष्णु के अवतार थे , पर हम तो स्वयं भगवान् विष्णु की संतान है. अखंडभारत की कल्पना कहाँ से और कैसे पैदा हुई? ( अखंडभारत भाग 2 में पढ़िए, आलिम)

अगला लेख: राजनैतिक पार्टियों का भविष्य.



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
03 अगस्त 2019
महाभारत एक युद्ध का नाम है , इसको महाभारत ही क्यों कहा जाता है, महायुद्ध क्यों नहीं कहा जाता. महा का मतलब या तो महान होता है या फिर सबसे बड़ा, तो इस महाभारत का मतलब हुआ महान भारत या बड़ा भारत? महान भारत और युद्ध, कुछ समझ से बाहर की बात नहीं है? जी बिल्कुल ये ज्यादातर लोगो क
03 अगस्त 2019
26 अगस्त 2019
ख़ु
मुल्कपरस्ती या बुतपरस्ती से जिंदगी चलती नहीं, ज़िंदगी को चलाने को ज़रूरी है ख़ुदपरस्ती. मुल्कपरस्ती के नाम पर ज़ंग की मुहिम जो छेड़ते, नाम ले मज़हब का जो आपस में है लड़ रहे, ना तो वो वतनपरस्त है, ना ही है वो मज़हबी .जो कुछ वो कर रहे वही तो होती है ख़ुदपरस्ती. (
26 अगस्त 2019
08 अगस्त 2019
भारत एक राष्ट्र है लेकिन सही मायनों में भारत बहुत से राष्ट्रों का संघ है. जहां भाषा से लेकर विचार, पहनावे से लेकर खानपान सब अलग है. कोई भी अपनी पहचान छोड़ एक पहचान के हक़ में नहीं है. बंगाल में बंगाली है जिन्हे नाज़ है अपनी संस्कृति पर तो पंजाबियों को
08 अगस्त 2019
13 अगस्त 2019
15 अगस्त, 1947 को भारत आजाद हुआ था जो पिछले 200 सालों से ब्रिटिश रूल का गुलाम बना बैठा था। ये लड़ाई साल 1857 से शुरु हुई और साल दर साल क्रांतिकारी पैदा होते चले गए। एक के बाद लोगों ने देश के नाम खुद को शहीद कर दिया लेकिन फिर भी आजादी हाथ नहीं आई। समय के साथ कई क्रांति
13 अगस्त 2019
19 अगस्त 2019
भारत में सबसे ज्याद अरेंज मैरिजी होती है जिसमें लड़के और लड़की के लिए उनके माता-पिता या कोई दूर का रिश्तादार शादी करवाता है। अरेंज मैरिज बहुत से लड़के और लड़कियों को बोझ लगती है लेकिन माता-पिता की खुशी के लिए और समाज की निगाहों से बचने के लिए उन्हें करनी पड़ती है। इस
19 अगस्त 2019
10 अगस्त 2019
फ़ौ
कितना अच्छा लगता है फ़ौज़ के लोगों की तारीफ़ करना, उनकी देशभक्ति का सम्म्मान करना. उस फ़ौज़ियों की वजह से ही हम अपने घरों में आराम से सुरक्षा के साथ रह सकते है अगर वो ना हो तो कोई भी दुशमन मुल्क हमला कर सकता है और हमें गुलाम बना
10 अगस्त 2019
05 अगस्त 2019
नरेंद्र मोदी सरकार ने कश्मीर को लेकर ऐतिहासिक फैसला लिया है। सरकार ने आज राज्यसभा में कश्मीर आरक्षण संशोधन बिल पेश कर दिया है, जिसके तहत धारा 370 का खात्मा किया जाएगा। गौरतलब है कि दशकों बाद पहली बार घाटी के गांव गांव में तिरंगा झंडा फहराए जाने की संभावना है। एक और देशभर की नजरें आज संसद पर टिकी हैं
05 अगस्त 2019
10 अगस्त 2019
ख्
ख्वाहिशें तो बस ख्वाहिशें ही होती है ,बदल जाए गर हकीकत में तो मर जाती है. ख़्वाब को ख़्वाब ही रहने दो तो अच्छा है, हक़ीक़त में बदले ख़्वाब कुछ अच्छे नहीं लगते. तस्वीर में आफ़ताब भी क्या खूब लगता है, तपा दे तो ख़ुद की तस्वीर भी जला
10 अगस्त 2019
01 सितम्बर 2019
पं
न्यायपालिका का जो हाल पिछले कुछ वक्त से हुआ है उसे देखकर लगता है कि मुंशी प्रेमचंद ने इस वक्त के लिए ही कहानी पंच परमेश्वर लिखी थी. गांधीजी को भी इस न्याय प्रक्रिया पर कोई भरोसा नहीं था, उनका मानना सही था कि आज़ादी नहीं मिली बस राज परिवर्तन हुआ है? गांधीजी ने वकालत छोड़ दी
01 सितम्बर 2019
31 अगस्त 2019
आज के दौर में तकनीक ने हर क्षेत्र में अपनी जगह बना ली है और ट्रेन तो बस सुपरफास्ट होती ही जा रही है। ट्रेन में सफर करना बहुत आसान हो जाता है और हमें एक रिजर्व सीट मिल जाती है जिसपर हम सोकर बैठकर अपनी उस जगह पर पहुंच जाते हैं जहां पर भी हम जाना चाहते हैं। AC कोच में बैठकर हम ठंडी हवा लेकर हम अपनी मनप
31 अगस्त 2019
13 अगस्त 2019
रा
राजनैतिक पार्टियों का भविष्य. मैं कोई भविष्य वक्ता नहीं हूँ, पर विश्लेषण कर सकता हूँ. आने वाले दिनों में राजनैतिक दलों की क्या स्थिति रहेगी यह बता सकता हूँ. शुरुवात कांग्रेस से करता हूँ क्योकि वो सबसे पुरानी पार्टी और अब तक सब से ज्यादा वक्त तक राज करन
13 अगस्त 2019
14 अगस्त 2019
15 अगस्त यानी भारत के आजाद होने का दिन, जब पूरा देश एक हो जाता है। हर किसी की देशभक्ति दिखती है और हर कोई आजादी के जश्न में डूब जाता है। इस साल आजादी और रक्षाबंधन का जश्न देश एक साथ ही मना रहा है। रक्षाबंधन का त्यौहार देश के लिए अहम है और इसे हर धर्म के लोग मनाने लगे हैं क्योकि धर्म चाहे जो भी हो ले
14 अगस्त 2019

शब्दनगरी से जुड़िये आज ही

आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x