शादीशुदा महिलाओं को किसी से नहीं बांटनी चाहिए ये चीजें, वरना पति भी.....

20 अगस्त 2019   |  स्नेहा दुबे   (707 बार पढ़ा जा चुका है)

शादीशुदा महिलाओं को किसी से नहीं बांटनी चाहिए ये चीजें, वरना पति भी.....

शादी हर इंसान के जीवन में जरूरी होती है और इसे लोग इस वजह से करते हैं कि एक जीवनसाथी इंसान के जीवन में होना ही चाहिए। जिनके साथ वे सारे सुख-दुख बांटते हुए जीवन को अच्छे से गुजार सकते हैं। महिलाएं अपने पति को लेकर काफी एलर्ट रहती हैं, जैसे उनके खाने का समय, सोने का समय, उठने का समय, घर आने का समय या फिर उनके पति कौन-कौन सी एक्टिविटी करते हैं इन सभी बातों का ख्याल महिलाएं रखती हैं। ऐसे में अगर कोई पराई महिला उनके पति की तरफ आकर्षित होती है या फिर पति ऐसा करते हैं तो फिर वो कुछ भी सह नहीं सकती। शादीशुदा महिलाओं को तो और भी सावधानी बरतनी पड़ती है क्योंकि शादी के बाद उनकी पति के प्रति जिम्मेदारी बन जाती है जिन्हें वो पूरी शिद्दत से निभाती है।


शादीशुदा महिलाएं नहीं बाटें ये चीजें


शादीशुदा महिला


घरों में अक्सर आपने देखा होगा कि विवाहित महिलाएं एक-दूसरे की चीजों को आपस में शेयर कर लेती हैं। सहेली हो या रिश्तेदार महिलाएं अपनी चीजें शेयर करने में परहेज नहीं करती हैं। मगर कुछ चीजें है जो महिलाओं को दूसरी या अपने घर भी महिलाओं के साथ शेयर नहीं करनी चाहिए। इसका प्रभाव पति-पत्नी के रिश्ते पर पड़ता है जिसे फिर महिलाओं को हमेशा भुगतना पड़ता है। अक्सर आपने अपने ही घर में सुना होगा कि तुम्हारी बिंदी अच्छी लग रही, साड़ी अच्छी लग रही या फिर कोई भी श्रृंगार का सामान पसंद आ जाता तो उनमें से महिलाएं उठाकर दे देती हैं लेकिन इन 5 चीजों को कभी दूसरों से ना बाटें।


मांग में लगाने वाला सिंदूर


शादीशुदा महिला


सुहाग की निशानी माना जाने वाला सिंदूर महिलाओं को किसी और को कभी नहीं देना चाहिए। उन्हें अपना सिंदूर कभी भी किसी के माथे से निकालकर नहीं लगाना चाहिए। जिस डिब्बी से वो सिंदूर लगाती हैं उससे किसी दूसरे को सिंदूर नहीं लगाना चाहिए। भगवान को चढ़ाया गया सिंदूर या नई डिब्बी देने में कोई समस्या नहीं है लेकिन इसके अलावा ऐसी मान्यता है कि महिलाओं को किसी के सामने सिंदूर नहीं लगाना चाहिए।


आंखों का काजल


शादीशुदा महिला


महिलाओं को अपना काजल किसी के साथ नहीं बांटना चाहिए, फिर वो आपके परिवार का कोई सदस्य ही क्यों ना हो। ऐसा माना जाता है कि ऐसा करने से पति का प्यार बंट सकत है। दोनों के बीच झगड़े और कलह की स्थिति पैदा हो जाती है और इसका वैज्ञानिक कारण ये भी है कि अपने आंखों का काजल देने से आप अगर उसे वापस लगाती हैं तो आपकी आंखों में जलन हो सकती है।


माथो की बिंदिया


शादीशुदा महिला


हर सुहागिन स्त्री के माथे पर बिंदी लगाना अनिवार्य होता है ऐसा लोग कहते हैं। सिंदूर की तरह बिंदी भी महिलाओं के सुहाग का चिन्ह होता है। ऐसी मान्यता भी है कि इसे कभी अपने सिर से उतारकर किसी को नहीं लगाना चाहिए। अगर बिंदी किसी को देना चाहें तो नई बिंदी खरीद कर दे सकती हैं।


हाथों की मेहंदी


शादीशुदा महिला


सुहागन के हाथों की मेहंदी उसके पति के प्यार और सलामती की निशानी मानी जाती है। ऐसा माना जाता है कि मेहंदी जितनी गहरी रचती है उसका पति उसे उतना ही प्यार करता है। इसलिए मेहंदी को बांटने से पति का प्यार भी बंट जाता है। अहर आप मेहंदी को लगाने के बाद बची हुई मेहंदी को किसी दूसरी शादीशुदा या कुंवारी महिला को देना चाहती हैं तो ये अच्छा नहीं माना जाता है।


हाथ की चूड़ी और पैरों की पायल


शादीशुदा महिला


चूड़ियों और पायल की खनक शादीशुदा महिलाओं को बहुत खुश कर देती हैं। अक्सर देखा गया है कि महिलाओं में चूड़ियों को लेकर अलग ही क्रेज होता है। उन्हें अपनी ड्रेस की मैचिंग की ही चूड़ियां पहनती हैं और ये चीजें दूसरों को भी दे देती हैं लेकिन एक शादीशुदा महिला के लिए ये अशुभ होता है।

शादीशुदा महिलाओं को किसी से नहीं बांटनी चाहिए ये चीजें, वरना पति भी.....

अगला लेख: दुश्मन देश पाकिस्तान में गाना मीका सिंह के लिए बनी मुसीबत, AICWA ने किया बहिष्कार



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
08 अगस्त 2019
भारत में हर तरह की बातें होती हैं लेकिन महिलाओं को लेकर सुरक्षा का मामला बिल्कुल सीरियसली नहीं लिया जाता। यहां पर मां-बहन की गालियां देकर लोग इसमें अपनी वाहवाही समझते हैं जबकि वो लोग नहीं जानते हैं वे अपने ही घरवालों का समाज में मजाक बनवा रहे हैं। भारत की महिलाएं सुरक
08 अगस्त 2019
14 अगस्त 2019
आज के समय में सोशल मीडिया एक ऐसी ताकत है जहां हर कोई फेमस हो सकता है और आप किसी का भी पर्दाफाश कर सकते हैं। ऐसा ही कुछ हुआ स्टेशन पर गाने वाली एक गरीब महिला के साथ जो पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इनकी आवाज लता मंगेशकर से मिलाकर बताई जा रही है और इनके गाने के एक नहीं ना जाने कित
14 अगस्त 2019
12 अगस्त 2019
आजादी कौन नहीं चाहता....एक पक्षी भी पिंजड़े में फड़फड़ाता है क्योंकि उसे आजादी चाहिए होती है। जब बकरे को काटने के लिए ले जाते हैं तब भी आजादी की चाहत लिए बकरा चिल्लाता रहता है क्योंकि हम सभी जानते हैं कि आजादी है तो जीवन है वरना इंसान घुटने लगता है। मगर आज से करीब 73 साल पहले भारत देश गुलाम था अंग्र
12 अगस्त 2019
08 अगस्त 2019
दुनिया के इतिहास में ऐसी-ऐसी घटनाएं हुई हैं कि बहुत से लोग प्रभावित हुए हैं और इसके बारे में हमें हमारे पूर्वजों से पता चला है। जिस तरह से भारत अंग्रेजों का गुलाम बन गया था वैसे ही दूसरे देशों के साथ भी बहुत कुछ हुआ है जिसके प्रमाण इतिहास में मिलते हैं। कुछ ऐसा ही 6 अ
08 अगस्त 2019
08 अगस्त 2019
भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज रात 8 बजे देश की जनता को संबोधित करने जा रहे हैं। ये जानकारी पीएमओ ने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से दी है। ऐसा माना जा रहा है कि पीएम मोदी का संबोधन जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को खत्म करने के फैसले को लेकर केंद्रित रहेगा। संसद ने जम्मू-
08 अगस्त 2019
08 अगस्त 2019
भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज रात 8 बजे देश की जनता को संबोधित करने जा रहे हैं। ये जानकारी पीएमओ ने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से दी है। ऐसा माना जा रहा है कि पीएम मोदी का संबोधन जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को खत्म करने के फैसले को लेकर केंद्रित रहेगा। संसद ने जम्मू-
08 अगस्त 2019
14 अगस्त 2019
15 अगस्त यानी भारत के आजाद होने का दिन, जब पूरा देश एक हो जाता है। हर किसी की देशभक्ति दिखती है और हर कोई आजादी के जश्न में डूब जाता है। इस साल आजादी और रक्षाबंधन का जश्न देश एक साथ ही मना रहा है। रक्षाबंधन का त्यौहार देश के लिए अहम है और इसे हर धर्म के लोग मनाने लगे हैं क्योकि धर्म चाहे जो भी हो ले
14 अगस्त 2019
14 अगस्त 2019
जब से पुलवामा हमला हुआ है तब से पूरा देश और भारत सरकार एकजुट होकर पाकिस्तान का बहिष्कार करने में लगा हुआ है। छुट्टी से ड्यूटी पर लौट रहे भारतीय जवानों की बस में धमाका करवाने वाले आतंकियों का समूह जैश-ए-मोहम्मद का था लेकिन पाकिस्तान ने इस बात से इंकार कर दिया। भारत ने इसका सबूत दिया फिर भी पाक को अपन
14 अगस्त 2019
16 अगस्त 2019
भारत बलिदानों का देश यूहीं नहीं कहा जाता है, यहां पर ना जाने कितने वीरों ने अपनी जान दे दी आजादी के लिए और जब आजादी हुई तो पड़ोसी देश के हमलों से ही ना जाने कितने वीरों की जान चली गई। हमारे देश के जवानों मे यही खासियत है कि वे आखिरी समय तक डटे रहते हैं और भले अपनी जान खत्म कर दें लेकिन भारत पर आंच न
16 अगस्त 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x