कृष्ण जन्माष्टमी पर ।

24 अगस्त 2019   |  त्रिशला रानी जैन   (446 बार पढ़ा जा चुका है)

जन्माष्टमी पर विशेष ,,,🌹🌹🌹🌹🌹
बाल क्रीडाओं से सम्मोहित करने वाले गोपाल
अच्युत हो तुम ,द्रोपदी के चीर को बढ़ाने वाले
अजया ,अनंता अजमां ,अनंत और असीम
अनिरुदद्दा,बन गए गीता का सन्देश देकर
देवकीनंदन ,देवकी के दुलारे,दानवेन्द्रो तुम
कोरवों को पराजय दिलाकर जयन्तःबन गए
पार्थसारथी ,तुम स्वम बन गए शनतह,
किया कंस का वध कहलाये कामसांतक
गोविंदा तुम थे गोपियों के कमलनयन
मुरली की धुन से मन हरने वाले मुरलीमनोहर
सुमेध,नारायण,त्रिविकृमा, बनवारी,अजेय।
कितने ही नामों से पुकार लो सर्वव्यापी हो
सुनो हमारी प्रार्थना संसार में सुख शांति दो
अरज नही करेंगे कि गोबर्धन उठाओ
बस अम्बर से इस सूखी प्रथ्वी को जल दो
जहाँ उफ़ान पर है नदियां उनको शांत करो
जगन्नाथ हो तुम जगत का करो उद्धार सुदर्शन
विश्व कर्मा हो तुम हो विश्व रूप भी तुम
सहस्त्राकाश ,प्रजापति हमे सही मार्गदर्शन दो
प्रार्थी 🌷 त्रिशला ।

,,

अगला लेख: खुशी तुम कहाँ हो..?



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x