मायावती ने कांग्रेस की जड़ नेहरू पर किया वार, पहली बार कश्मीर मुद्दे पर तोड़ी चुप्पी

29 अगस्त 2019   |  स्नेहा दुबे   (478 बार पढ़ा जा चुका है)

मायावती ने कांग्रेस की जड़ नेहरू पर किया वार, पहली बार कश्मीर मुद्दे पर तोड़ी चुप्पी

5 अगस्त को भारत के गृहमंत्री अमित शाह ने सांसद में धारा 370 हटाने का एलान किया और फिर 9 अगस्त को ये बिल लोकसभा में भी पास हो गया। इसके बाद पाकिस्तान और कांग्रेसियों में जो विरोध हो रहा है ये मंजर देखने वाला है। विपक्ष दल में बसपा और सपा ने भाजपा का समर्थन किया था और कांग्रेस के कुछ लोगों ने भी मोदी सरकार के इस फैसले का सम्मान किया लेकिन कुछ लोगों को आज भी इस फैसले से समस्या है। बसपा प्रमुख मायावती ने ट्वीट के जरिए इस फैसले का समर्थन किया था लेकिन अब उन्होंने इस मुद्दे पर खुलकर बोला है। मायावती ने सीधा वार कांग्रेस की जड़ जवाहरलाल नेहरू पर किया है। ऐसे में आपको पता होना चाहिए कि राजनीति गलियारों में क्या हो रहा है?


मायावती ने किया कांग्रेस की जड़ पर वार

मायावती


ये बदलते राजनैतिक समीकरण और नई राहों का परिचारक हो गया है। एक दम से आमूलचूल परिवर्तन दिखाई देने लगा है और मायावती में जो आज जो बदलाव नजर आ रहे हैं ये किसकी तरफ इशारा करते हैं ये तो नहीं पता लेकिन उनके अंदर बदलाव तो आए हैं। कभी समाजवादी पार्टी के साथ कंधा से कंधा मिलाकर चलने की बात की जाती थी वो आज भाजपा की तारीफ करते थक नहीं रही हैं। ध्यान देने वाली बात ये है कि धारा370 हटाने का समर्थन करने पर कांग्रेस को चौंकाने वाली मायावती ने एक बार फिर कांग्रेस को बड़ा झटका दिया है। परोक्ष के रूप में कश्मीर का गुनाहगार सीधा नेहरू को ही बताया है। बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती ने कश्मीर के हालात के लिए सीधी देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने नेहरू को गलत बताते हुए कहा कि कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाया जाना देश की तरक्की है इसे हर किसी को अपनाना चाहिए।


मायावती


राजनीति के लिए पाकिस्तान तक को खुश करने वाले कुछ नेताओं को उन्होंने आड़े हाथ लेते हुए बयान दिया। मायावती ने कहा, 'कश्मीर में हालात सामान्य होने तक विपक्षी दलों को संयम रखना चाहिए।' बुधवार को एक बार फिर बसपा की अध्य़क्ष चुने जाने वाली मायावती ने कहा, 'बाबा साहेब अंबेडकर भी कश्मी में अनुच्छेद 370 के प्रावधान के पक्ष में नहीं थे। असल में इस समस्या की मूल जड़ में कांग्रेस औऱ जवाहर लाल नेहरू ही हैं। अगर इनके कश्मीर जाने से हालाथ थोड़े बिगड़ जाके को क्या केंद्र सरकार इसका दोष इन पार्टियों पर नहीं थोपती ? बिल्कुल ऐसा करते वे लोग। बहुत से लोगों ने उस समय धारा 370 हटाने की बात कही लेकिन नेहरू ने कुछ नहीं सुना।' मायावती ने पीएम नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह के इस कदम को एतिहासिक और जिगर वाला बताया है।


मायावती ने कई बार की है पीएम की तारीफ

मायावती


पीएम नरेंद्र मोदी भले ही भाजपा को सपोर्ट करते हैं और केंद्र में उनकी सरकार भी इसी पार्टी के नेतृत्व में रहकर बनी है लेकिन उन्होंने कई विपक्ष नेताओं के दिलों पर असर छोड़ा है। मायावती की बसपा और पीएम नरेंद्र मोदी की भाजपा ने पहले भी गठबंधन किया है और देश को आगे बढ़ाया है। मायावती अक्सर भाजपा को हराने का सपना लेकर राजनीति के मैदान में उतरी हैं लेकिन कटाक्ष बोलने में भी वो पीछे नहीं रही हैं। अगर किसी भी विपक्ष या भाजपा ने देश के हित में कुछ अच्छा काम किया है तो उन्होने इसका समर्थन भी किया है। अपने ट्वीट्स या भाषण में वे इस बात का जिक्र जरूर करती हैं।

अगला लेख: पाकिस्तान को हराने के लिए इस खिलाड़ी को मिली थी हाईटेक AUDI, टीम इंडिया ने इस तरह मनाया था जश्न



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
19 अगस्त 2019
भारत में क्रिकेट को सबसे ज्यादा तवज्जो दिया जाता है। वैसे तो हॉकी यहां का अस्थायी नेशनल गेम है लेकिन क्रिकेट की दीवानगी हर किसी के सिर चढ़ कर बोलती है। भारतीय क्रिकेट में कपिल देव, सुनील गावस्कर, सौरव गांगुली, राहुल द्रविण, विरेंद्र सहवाग, सचिन तेंदुलकर, युवराज सिंह, महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली
19 अगस्त 2019
19 अगस्त 2019
अक्सर लोग इंसान की खूबसूरती उनके चेहरे में ढूंढते हैं जबकि जो दिल से खूबसूरत होते हैं वे ही असली खूबसूरती होती है। मगर जो सूरत और सीरत दोनों से खूबसूरत होते हैं उनका कोई जवाब नहीं होता है। हम बात बीजेपी के उस सांसद की कर रहे हैं जिसने धारा 370 हटने के विरोध में खड़े लोगों को ऐसी लताड़ लगाई है कि वे
19 अगस्त 2019
16 अगस्त 2019
भारत बलिदानों का देश यूहीं नहीं कहा जाता है, यहां पर ना जाने कितने वीरों ने अपनी जान दे दी आजादी के लिए और जब आजादी हुई तो पड़ोसी देश के हमलों से ही ना जाने कितने वीरों की जान चली गई। हमारे देश के जवानों मे यही खासियत है कि वे आखिरी समय तक डटे रहते हैं और भले अपनी जान खत्म कर दें लेकिन भारत पर आंच न
16 अगस्त 2019
16 अगस्त 2019
अटल बिहारी बाजपेयी..राजनीति का एक ऐसा चेहरा जिसकी जगह शायद ही कोई ले पाए। जिन्होंने सोचा तो पत्रकार बनने का था लेकिन आ राजनीति में गए थे। इस वजह से वे पत्रकारों का बहुत सम्मान करते थे और उनसे कहते थे 'जो मैं करना चाहता था वो आप लोग कर रहे हैं।' अटल बिहारी बाजपेयी 16 अगस्त, 2018 को लंबे समय से बीमारी
16 अगस्त 2019
21 अगस्त 2019
5 अगस्त को मोदी सरकार ने सबसे बड़ा काम किया और जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाकर जम्मू-कश्मीर को भारत काे आम राज्य की तरह बना ली है। इसके साथ ही लद्दाख को केंद्र शासित राज्य बनाया और उनके इस काम की सराहना हर तरह कर रहे हैं। कुछ विरोधी भी हैं जो मोदी के इस कदम को ऐतिहासिक और सबसे अच्छा मान रहे हैं। इन स
21 अगस्त 2019
16 अगस्त 2019
हिंदू धर्म में पूजा पाठ का अलग ही स्थान होता है और हर देवता का अलग ही महत्व होता है। यहां सोमवार का दिन शंकर जी, मंगलवार का दिन बजरंगबली, बुधवार का दिन गणेश जी, गुरुवार का दिन विष्णु जी, शुक्रवार का दिन वैभव लक्ष्मी, शनिवार का दिन शनिदेव और रविवार का दिन सूर्यदेव को समर्पित होता है। भक्त के जीवन में
16 अगस्त 2019
19 अगस्त 2019
भारत और पाकिस्तान का रिश्ता बहुत अजीब है, कहने को हम पड़ोसी हैं लेकिन ना हम इस देश को पसंद करते हैं ना वो देश हमारे देश को कुछ मानता है. इस वजह से दोनों देशों की आम जनता भी एक-दूसरे से नफरत करते हैं। भारत और पाकिस्तान आमने सामने या तो जंग के मैदान में आते हैं या फिर क
19 अगस्त 2019
28 अगस्त 2019
साल 2015 में आई फिल्म बाहुबली ने देशभर में तहलका मचा दिया और फिल्म के क्लाइमैक्स में लोगों के लिए एक सस्पेंस छोड़ दिया कि कटप्पा ने बाहुबली को क्यो मारा ? साल 2017 में इस फिल्म का दूसरा पार्ट आया और फिर सारे कंफ्यूजन दूर हुए। दोनों फिल्मों का बजट लगभग 450 करोड़ था और
28 अगस्त 2019
28 अगस्त 2019
दुनिया में हर तरह के लोग पाए जाते है जो अपनी जरूरतों के हिसाब से किसी ना किसी चीज का अविष्कार करते रहते हैं। कुछ लोग अपने मन से चीजों को बनाते हैं तो कुछ अपनी जिद में कुछ नयी चीजें बना देते हैं। कुछ इस तरह का इनवेंट एक 12वीं के छात्र ने कर दिया क्योंकि उसे पास की किराने की दुकान पर कुछ उधार देने से
28 अगस्त 2019
14 अगस्त 2019
आज के समय में सोशल मीडिया एक ऐसी ताकत है जहां हर कोई फेमस हो सकता है और आप किसी का भी पर्दाफाश कर सकते हैं। ऐसा ही कुछ हुआ स्टेशन पर गाने वाली एक गरीब महिला के साथ जो पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इनकी आवाज लता मंगेशकर से मिलाकर बताई जा रही है और इनके गाने के एक नहीं ना जाने कित
14 अगस्त 2019
16 अगस्त 2019
अटल बिहारी बाजपेयी..राजनीति का एक ऐसा चेहरा जिसकी जगह शायद ही कोई ले पाए। जिन्होंने सोचा तो पत्रकार बनने का था लेकिन आ राजनीति में गए थे। इस वजह से वे पत्रकारों का बहुत सम्मान करते थे और उनसे कहते थे 'जो मैं करना चाहता था वो आप लोग कर रहे हैं।' अटल बिहारी बाजपेयी 16 अगस्त, 2018 को लंबे समय से बीमारी
16 अगस्त 2019
21 अगस्त 2019
कल एक लेख में मैंने वामपंथी मीडिया की कार्यशैली में आए बदलाव की बात की थी कि कैसे मोदी के 2014 में आने से पहले और उसके बाद, उनकी रिपोर्टिंग, विश्लेषण और लेखों के मुद्दों को प्रोपेगेंडा की चाशनी में डुबा कर छा
21 अगस्त 2019
21 अगस्त 2019
15 अगस्त के मौके पर लाल किला की प्राचीर से झंडा रोहण के बाद पीएम मोदी ने देश को ऊंचाईयों पर ले जाने की कई सारी बातें की। इसमें तकनीकी बदलाव से लेकर लड़कियों की सुरक्षा तक की बातों को प्राथमिकता दी गई और इन बातों को लोगों ने खूब पसंद किय
21 अगस्त 2019
20 अगस्त 2019
लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद कांग्रेस में मंथन का दौर चालू है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपना इस्तीफ़ा कांग्रेस वर्किंग कमिटी यानी CWC को सौंप चुके हैं. कभी खबर आती है कि राहुल गांधी इस्तीफा वापस नहीं लेने पर अड़े हुए हैं. कभी खबर आती है कि वह इस पर नरम पड़ रहे हैं.
20 अगस्त 2019
21 अगस्त 2019
दुनिया में बहुत से ऐसे लोग होते हैं जो अतरंगी काम करके लोगों की नजरों में आना पसंद करते हैं। कोई अजीब सा घर बनाता है तो कोई अजीब सी हरकतें करता है। यहां हम आपको कुछ ऐसी तस्वीरें दिखाएंगे जिन्हें देखने के बाद आपको यही लगेगा आखिर ये बनाने वाला है कहां ? ये तस्वीरें आपको हैरान करने के साथ ही आपकी हंसी
21 अगस्त 2019
18 अगस्त 2019
प्योंगयांग. इमरान खान और उनके मंत्री जिस तरह से परमाणु बम की धमकी दे रहे हैं, ऐसा लगता है जैसे सेल्स वाले इस महीने का टारगेट पूरा कर रहे हों! सुबह चार बार युद्ध की धमकी देने के बाद ही वो गंदे पानी से अपना मुँह धो
18 अगस्त 2019
16 अगस्त 2019
अटल बिहारी बाजपेयी..राजनीति का एक ऐसा चेहरा जिसकी जगह शायद ही कोई ले पाए। जिन्होंने सोचा तो पत्रकार बनने का था लेकिन आ राजनीति में गए थे। इस वजह से वे पत्रकारों का बहुत सम्मान करते थे और उनसे कहते थे 'जो मैं करना चाहता था वो आप लोग कर रहे हैं।' अटल बिहारी बाजपेयी 16 अगस्त, 2018 को लंबे समय से बीमारी
16 अगस्त 2019
16 अगस्त 2019
भारत बलिदानों का देश यूहीं नहीं कहा जाता है, यहां पर ना जाने कितने वीरों ने अपनी जान दे दी आजादी के लिए और जब आजादी हुई तो पड़ोसी देश के हमलों से ही ना जाने कितने वीरों की जान चली गई। हमारे देश के जवानों मे यही खासियत है कि वे आखिरी समय तक डटे रहते हैं और भले अपनी जान खत्म कर दें लेकिन भारत पर आंच न
16 अगस्त 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x