चलती गाड़ी से चाबी नहीं निकाल सकती पुलिस, सिर्फ इन्हें है चालान करने का अधिकार

10 सितम्बर 2019   |  अभय शंकर   (485 बार पढ़ा जा चुका है)

चलती गाड़ी से चाबी नहीं निकाल सकती पुलिस, सिर्फ इन्हें है चालान करने का अधिकार

देश में 1 सितंबर 2019 से संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट लागू कर दिया गया है और ऐसे में ट्रैफिक पुलिस धड़ल्ले से चालान भी काटे जा रही है। ऐसा सही भी है, अगर आप भी ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करेंगे तो आपके साथ भी ऐसा ही होगा। इसलिए हमेशा ट्रैफिक नियमों का पालन करें और गाड़ी के पेपर अपने पास पूरे रखें तो पुलिस आपका 1 रुपये का भी चालान नहीं काट सकती। खैर, कुछ पुलिस वाले ऐसे भी होते हैं जो ऐसे नियमों का फायदा उठाते हैं और चलती राह पर लोगों को ड’रा-ध’मका कर चालान काटने के बजाए उनसे हजारों रुपये वसूलते हैं। आज हम अपनी इस रिपोर्ट में आपके भी अधिकार की बात करेंगे कि कहां आप अपने हक के लिए खड़े हो सकते हैं और सवाल-जवाब कर सकते हैं।


कुछ नियम ऐसे भी होते हैं जो वाहन चलाने वालों की मदद के लिए भी हैं। इन नियमों की जानकारी भी वाहन चालकों को उतना ही होना जरूरी है जितना कि चालान की रकम भरना। सड़कों पर अगर आप वाहन चला रहे हैं तो सबसे ज्यादा झगड़े पुलिस के चलती गाड़ी से जबरन चाबी खींचना या हाथ पकड़कर रोकने घटनाओं से सामने आता है, जिससे वाहन चालक दुघर्टना ग्रस्त भी हो सकता है। इसके अलावा कई मामले ऐसे भी आए हैं कि पुलिस वाले बेवजाह पैसा वसूलते हैं।

पुलिस को नहीं है ये करने का अधिकार

  • सामने से आते वाहन को रोकने के लिए चलते वाहन पर चालक का हाथ नहीं पकड़ सकती पुलिस।
  • चलती गाड़ी से चाबी खींचकर आपको नहीं रोक सकती पुलिस।
  • चार पहिया वाहन के सामने अचानक बैरीकेड्स नहीं लगा सकती पुलिस।

आपको है शिकायत करने का हक

सड़क पर टू-व्हीलर राइड करने के दौरान यदि पुलिस जवान या ट्रैफिक वार्डन चाबी खींचकर या दबाव देकर आपको रोकते हैं तो वाहन चालक के पास अधिकार होता है कि वह वरिष्ठ अधिकारियों से उनकी शिकायत कर सकते हैं।

सिर्फ इन्हें है चालान करने का अधिकार

शहर में अक्सर देखा होगा कि सिपाही या हवलदार या असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर स्तर के पुलिसकर्मी हाथ में चालान का कट्टा लेकर कार्रवाई करते रहते हैं। पर यहां भी आपको अपने अधिकारों को जानना जरूरी है। यदि किसी भी चेकिंग प्वॉइंट पर सब इंस्पेक्टर या उससे ऊपर का अधिकारी आप पर चालान करता है तो यह ठीक है। पर सब इस्पेक्टर से नीचे की रैंक के पुलिसकर्मी कहीं भी चालान नहीं काट सकते हैं। इसलिए जरूरी होता है कि ऐसे चेकिंग प्वाइंट जहां पर ट्रैफिक पुलिस वाहन चालकों को यातायात के नियम पूरे न करने पर चालान की कार्रवाई कर रही है। वहां इंचार्ज में सब इंस्पेक्टर या उससे ऊंची रैंक के अधिकारी का होना जरूरी है।

https://shabd.in/post/109852/jiyo-rupay-tv-fri-me

अगला लेख: जियो को 1299 रूपए दो, 4K टीवी फ्री में लो... |



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
26 अगस्त 2019
कहते हैं प्यार अंधा होता है, इसमें कुछ भी अच्छा-बुरा नहीं दिखाई देता. प्यार में सामने वाला सबसे अच्छा लगने लगता है फिर वो कैसा भी हो. आज का दौर इंटरनेट का है और सोशल मीडिया के जरिए लोगों में प्यार होना आम हो गया है. इंटरनेट के जरिए प्यार या शादी होना आपने अक्सर सुना होगा
26 अगस्त 2019
08 सितम्बर 2019
The New Motor Vehicles (Amendment) Act ,19 , 1 Sep.19 से लागू हो जाने के बादसे देश में ट्रैफिक चालान की भारी भरकम कंपाउंड (मिश्रित) जुर्माने की राशि को लेकर चारों ओर हाहाकार मचा है। ₹- 15000/ की स्कूटी - ₹ -23000/-चालान राशि , ट्रैक्टर पर ₹-59000/- जुर्माना , भारी राशि जुर्माने पर नाराज
08 सितम्बर 2019
10 सितम्बर 2019
हमारे समाज की आपसे कई अपेक्षाएं होती हैं. बचपन से लेकर बूढ़े होने तक के सफर में कुछ मापदंड होते हैं. जिनपर आपको खरा उतरना होता है. नहीं तो आप जज किए जाएंगे. बहुत बुरी तरह. मेजर मापदंडों की एक सूची पर नज़र मारते हैं-दसवीं का रिज़ल्ट. बारहवीं का रिज़ल्ट. ग्रेजुएशन. इंजीनियर
10 सितम्बर 2019
06 सितम्बर 2019
एक सितंबर 2019. नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू हुआ. इसके बाद ट्रैफिक नियम तोड़ने पर भारी जुर्माना लग रहा है. कई मामले मीडिया की सुर्खियां बने हैं. क्योंकि गाड़ी की कीमत से ज्यादा का चालान कट रहा है. ट्रैफिक पुलिस की चेकिंग भी बढ़ गई है. चालान से बचने के लिए पलूशन सर्टिफिकेट और
06 सितम्बर 2019
04 सितम्बर 2019
मंगलवार को सीएम नीतीश कुमार की अध्‍यक्षता में कैबिनेट की बैठक हुई। इस मीटिंग में कई एजेंडों पर मुहर लगी। कैबिनेट ने पटना मेट्रो रेल के प्रथम चरण में दो कॉरिडोर के निर्माण की मंजूरी दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड को दी। इसके लिए कैबिनेट ने 482.87 करोड़ भुगतान की स्वीक
04 सितम्बर 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x