1,41,700 रुपए: ये है अब तक की सबसे बड़ी रकम का चालान, लेकिन पूछिए ये लगा क्यूं?

11 सितम्बर 2019   |  अभय शंकर   (444 बार पढ़ा जा चुका है)

1,41,700 रुपए: ये है अब तक की सबसे बड़ी रकम का चालान, लेकिन पूछिए ये लगा क्यूं?

चालान कटने-काटने का सिलसिला नहीं थम रहा है. चालान पहले भी कट रहे थे लेकिन अब चालान ख़बर बन रहे हैं. नया मोटर व्‍हीकल एक्‍ट (new motor vehicle act 2019) लागू होते ही रोजाना अजीब चालान की खबरें सामने आ रही हैं. कहीं कोई मोटे चालान का दम भर विरोध कर रहा है, तो कहीं कोई चालान की वजह से अपनी गाड़ी ही जलाए दे रहा है. लोग सड़कों पर ट्रैफ़िक पुलिस से ‘भईया बाबू’ करते दिखाई दे रहे हैं. लोग गाड़ी खड़ी करके चालान कटने के बाद ATM खोजते भी नज़र आ रहे हैं.

ये दिल्ली की घटना है. तस्वीर में वो दिख रही है बाइक, जिसे उसके मालिक ने गुस्से में ख़ुद ही आग लगा दी. वो चालान कट जाने से गुस्साया हुआ था (फोटो: इंडिया टुडे)
ये दिल्ली की घटना है. तस्वीर में वो दिख रही है बाइक, जिसे उसके मालिक ने गुस्से में ख़ुद ही आग लगा दी. वो चालान कट जाने से गुस्साया हुआ था (फोटो: इंडिया टुडे)

बहरहाल चालान की रक़म वाले खबरें हर जगह चर्चा में हैं. इस बीच दिल्‍ली से अब तक के सबसे ज्‍यादा राशि के चालान का मामला सामने आया है.

# कितने का कटा

एक लाख इकतालिस हज़ार सात सौ का चालान कट गया. अब तक इतने भारी चालान का कोई मामला सामने नहीं आया था. दिल्ली की रोहिणी कोर्ट में 1 लाख 41 हजार 700 रुपये का चालान कटा है.

दिल्ली की रोहिणी कोर्ट में चालान जमा किया गया है
दिल्ली की रोहिणी कोर्ट में चालान जमा किया गया है

राजस्थान के एक ट्रक मालिक ने दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में चालान की पूरी रकम का भुगतान कर दिया है. ट्रक मालिक राजस्थान के बीकानेर का रहने वाला बताया जा रहा है, जिसका दिल्ली में 5 सितंबर को ओवरलोडिंग की वजह से 70 हजार रुपये का चालान काटा गया. वहीं ट्रक में ज्यादा माल लादने पर उसके मालिक पर भी 70 हजार का और चालान किया गया. ट्रक मालिक का कहना है कि इसके अलावा भी लगभग 1700 रुपये का चालान और किया गया था. चालान की कुल राशि 1 लाख 41 हजार 700 रुपये है. 9 सितंबर को बंदे ने चालान की रकम का भुगतान रोहिणी कोर्ट में कर दिया है.

# चालान के चक्कर में

लोगों में आपाधापी मची हुई है. अब चालान की ख़बरें भी वायरल ख़बरों में शामिल की जा रही हैं. लोग एक दूसरे को भारी चालान वाली ख़बरें फॉरवर्ड कर रहे हैं. अब पता नहीं इसका मतलब ‘between the lines’ क्या है? क्या वो एक दूसरे से ये कह रहे हैं कि अब अपनी सेफ्टी का ख़याल रखो, या फ़िर ये कह रहे हैं कि इतनी चालाकी तो रखो ही जिससे ट्रैफ़िक वाले ना धर लें. वैसे मुद्दा भी यही है. लोग अब ऐसे रास्तों से गुज़रना नहीं चाह रहे जिनपर अमूमन ट्रैफ़िक पुलिस खड़ी रहती है. ‘शॉर्ट कट’ या ‘लॉन्ग वे’ ले लेते हैं. शायद ये भी सोचते हों कि चालान क्यों ही भरा जाए ? लेकिन नज़रिया बड़े काम की चीज़ होता है. सोचा तो ऐसे भी जा सकता है कि ‘क्यों ना सड़क पर फ़ुल सेफ्टी रखी जाए?’

https://www.thelallantop.com/news/delhi-a-truck-owner-from-rajasthan-paid-highest-challan-amount-of-rs-141700-at-rohini-court/

अगला लेख: आम बेचकर पढ़ाई की, नंगे पांव कॉलेज गए और भारत को चांद के इतना करीब लेकर आ गए साइंटिस्ट के. सिवन....



राकेश रॉय
11 सितम्बर 2019

yeh sarkar ki ulti ginti shuru ho chuki hai.

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
21 अगस्त 2019
कल एक लेख में मैंने वामपंथी मीडिया की कार्यशैली में आए बदलाव की बात की थी कि कैसे मोदी के 2014 में आने से पहले और उसके बाद, उनकी रिपोर्टिंग, विश्लेषण और लेखों के मुद्दों को प्रोपेगेंडा की चाशनी में डुबा कर छा
21 अगस्त 2019
26 अगस्त 2019
कहते हैं प्यार अंधा होता है, इसमें कुछ भी अच्छा-बुरा नहीं दिखाई देता. प्यार में सामने वाला सबसे अच्छा लगने लगता है फिर वो कैसा भी हो. आज का दौर इंटरनेट का है और सोशल मीडिया के जरिए लोगों में प्यार होना आम हो गया है. इंटरनेट के जरिए प्यार या शादी होना आपने अक्सर सुना होगा
26 अगस्त 2019
04 सितम्बर 2019
नई दिल्ली: भीड़ द्वारा पिटाई और मौत का सिलसिला रूकने का नाम नहीं ले रहा है. ताज़ा मामला देश की राजधानी दिल्ली का है. यहां के मौजपुर इलाक़े में साहिल को मुसलमान समझकर सिर्फ़ इसलिए मार दिया गया क्योंकि वो पंडितों की गली में चला गया था. अब जब पता चला कि साहिल मुसलमान नहीं था
04 सितम्बर 2019
04 सितम्बर 2019
सूरत के हीरा कारोबारी महेशभाई लगातार 10 वें साल से गरीब और बेसहारा लड़कियों की शादी करवाते आ रहे हैं। वो अब तक 3 हजार से ज्यादा बेटियों की शादी करवा चुके हैं वो इस शुभकाम में ना धर्म देखते हैं ना ही जाति। जो गरीब इनतक पहुंचता है उसकी बहन-बेटी की शादी ये करवा देते हैं। शाद
04 सितम्बर 2019
08 सितम्बर 2019
The New Motor Vehicles (Amendment) Act ,19 , 1 Sep.19 से लागू हो जाने के बादसे देश में ट्रैफिक चालान की भारी भरकम कंपाउंड (मिश्रित) जुर्माने की राशि को लेकर चारों ओर हाहाकार मचा है। ₹- 15000/ की स्कूटी - ₹ -23000/-चालान राशि , ट्रैक्टर पर ₹-59000/- जुर्माना , भारी राशि जुर्माने पर नाराज
08 सितम्बर 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x