क्या है PM मोदी के चमकते चेहरे का राज? बाजार में ये बिक रहा है 30 हजार रुपये किलो

13 सितम्बर 2019   |  स्नेहा दुबे   (474 बार पढ़ा जा चुका है)

क्या है PM मोदी के चमकते चेहरे का राज? बाजार में ये बिक रहा है 30 हजार रुपये किलो

हम सभी को अपनी सेहत की फिक्र है लेकिन समय ना होने के कारण हम अपने लिये ही समय नहीं निकाल पाते। फिर होती हैं कई तरह की बीमारियां और समय पर काम ना करने की परेशानी जो बहुत से लोगों के साथ अक्सर होता ही है। मगर कुछ चीजें ऐसी होती हैं जो आपकी सेहत को सही रखते हुए आपके चेहरे को हमेशा चमका कर रखता है। अक्सर लोग कहते हैं भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का चेहरा हमेशा चमकता रहता है इसके पीछे का कराण क्या है? वे शुद्ध शाकाहारी भोजन ग्रहण करते हैं और उनका खाना महंगा तो है लेकिन ये उनके लिए बहुत जरूरी भी है। अगर आपको भी इस चीज का सेवन करना है तो इसके बारे में पहले आपको अच्छे से जान लेना चाहिए।


30 हजार रुपये किलो है मशरूम


मशरूम


30 हजार रुपये प्रति किलो बिकने वाला गुच्छी जिसे आमभाषा में मशरूम कहते हैं। ये सब्जी हिमाचल, कश्मीर और हिमालय के ऊंचे पर्वतीय इलाकों में ज्यादा मिलता है। ये गुच्छी बर्फ पिघलने के कुछ दिन बाद ही उगती है और इस सब्जी का उत्पादन पहाड़ों पर बिजलियों की गड़गड़ाहट और चमसे निकलने वाली बर्फ से होता है। प्राकृतिक रूप से जंगलों में उगने वाली गुच्छी शिमला जिले के लगभग सभी जंगलों में फरवरी से लेकर अप्रैल के महीने में पाई जाती है। गुच्छी की तलाश अक्सर जंगलों में ज्यादा होते हैं और अब जबकि जंगलों से पेड़ों को काटा जा रहा है इसलिए मशरूम की पैदावार अब बहुत कम हो गई। पैदावर कम और लोगों में इसकी डिमांड के चलते इस सब्जी की कीमत 30 हजार रुपये प्रति किलो है जिसे खरीदने वाले खरीदते हैं। मशरूम की डिमांड भारत के अलावा फ्रांस, यूरोप, अमेरिका, चाइना जैसे बड़े देशों को भी है। इस महंगी दुर्लभ सब्जी को कई बड़ी कंपनियां और होटल वालो सबसे पहले खरीदना चाहते हैं। इस महंगी सब्जी को बड़ी कंपनियां 10 से 15 हजार रुपये प्रति किलो में खरीदते हैं। ऐसा माना जाता है कि ये सब्जी औषधीय गुणों से भरपूर माना जाता है और इसको नियमित रूप से सेवन करने से दिल की बीमारियां नहीं होती हैं। गुच्छी यानी मशरूम में विटामिन बी और डी के अलावा सी भी पाया जाता है। इस गुच्छी को बनाने की विधि सूखा मेवा और देसी घी का इस्तेमाल होना जरूरी होता है और इसकी सब्जी को बेहद लजीज पकवानों में गिना जाता है।


मशरूम


फरवरी से मार्च के महीने में प्राकृतिक रूप से पैदा होने वाली गुच्छी की जहां पैदावर होती है तो ग्रामिणों को इसके अच्चे दाम मिल जाते हैं। कई बीमारियों की दवाइयों के लिए भी इसका इस्तेमाल करते हैं और कई बड़े होटलों से भी खास ऑर्डर पर इसके दाम मिल जाते हैं। हिमाचल के ऊपरी भागों में पाई जाने वाली इस गुच्छी की कीमत 10 से 30 हजार रुपये है। इसे खाने से स्तन कैंसर, ट्यूमर, शरीर के किसी भी भाग में सूजन, कीमोथेरेपी के दौरान कमजोरी होना, मोटापा, सर्दी और जुकाम जैसी कई बीमारियों में फायदा करता है।


इसका सेवन प्रधानमंत्री भी करते हैं


मशरूम


जब पीएम मोदी ने अपना घर छोड़कर हिमाचल में रहने गए थे तब उन्हें खाने में ज्यादातर मशरूम ही खाने को मिलता था। फिर धीरे-धीरे ये उनकी फेवरेट बन गई। गुजरात में सीएम बने रहने के दौरान भी नरेंद्र मोदी इसका सेवन करते रहे और आज भी उनके हर दिन के खाने में मशरूम जरूर शामिल होता है। इस बारे में पीएम मोदी ने खुद बताया है कि जो प्रोटीन लोग नॉनवेजिटेरिनय खाने में ढूंढते हैं उससे कई गुना प्रोटीन मशरूम में पाया जाता है। पीएम मोदी ने मुख्यमंत्री बने रहने के दौरान कुछ पत्रकारों को इंटरव्यू दिया था जिसमें उन्होंने कहा था, 'जब मैं एक पार्टी कार्यकर्ता था तब हिमाचल में रहने के दौरान उन्होंने मशरूम ही ज्यादा खाया करता था। फिर ये मेरा पसंदीदा व्यंजन बन गया और अब इसे खाने की आदत हो गई है। इसे खाने से ही मैं खुद को एनर्जी से भरपूर रख पाता हूं और देश के लिए कुछ ना कुछ अलग सोच पाता हूं।'


अगला लेख: अपने बच्चे की मौत के बदले की चाह में कौआ साथियों सहित कातिल आदमी पर करता था हमला, ऐसे सामने आया मामला



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
12 सितम्बर 2019
उत्तर प्रदेश के रायबरेली ज़िले में सालोन नाम की एक तहसील है. इस तहसील के एक गांव में 25 साल की औरत को पीट-पीटकर मार डाला गया. उसे मारने वाले उसके भाई और अंकल ही हैं. औरत अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) की थी. उसने परिवार वालों के खिलाफ जाकर गांव के ही एक दलित लड़के से लव मैरिज की थी. इस वजह से उसके परिवार वाल
12 सितम्बर 2019
12 सितम्बर 2019
Narendra Modi Biography- देश के प्रतिष्ठित न्यूज चैनल एबीपी न्यूज ने करीब 11 हजार लोगों के साथ देशभर में मोदी सरकार के 100 दिनों के कार्यकाल को लेकर एक सर्वे किया। इस सर्वे में ज्यादातर लोगों ने Narendra Modi को आजाद भारत का सबसे दमदार प्रधानमंत्री बताया गया है। नरेंद्र मोदी ऐसी सख्शियत हैं जो देश य
12 सितम्बर 2019
31 अगस्त 2019
कौन थी अमृता प्रीतम ?गूगल ने आज अपने डूडल में प्रसिद्ध पंजाबी लेखिका अमृता प्रीतम को श्रद्धांजलि दी है और उनका ये अंदाज सिर्फ महान लेखिका को समर्पित किया है। आज अमृता प्रीतम का 100वां जन्मदिन है और गूगल का ये डूडल काफी खास अंदाज में बनाया भी गया है। अमृता अपने समय की मशहूर लेखिकाओं में से एक रही हैं
31 अगस्त 2019
03 सितम्बर 2019
सोशल मीडिया पर बहुत से लोग उसे अपने टाइमपास के लिए इस्तेमाल करते हैं। फेसबुक हो या फिर कोई और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ज्यादातर लोग यहां पर दोहरे चेहरे लगाकर ही घूमते हैं। इंसान अपने मन को खुश रखने के चक्कर में बहुत से लोगों के साथ खेल जा
03 सितम्बर 2019
05 सितम्बर 2019
देशभर में गणपति की धूम है और उत्तर भारत से लेकर दक्षिण भारत तक लोग गणेश पूजन करके उन्हें प्रसन्न करने की कोशिश में रहते हैं। गणेश जी हर किसी की मनोकामनाएं पूरी करने वाले देवता है और अगर उनके भक्त परेशानी में रहते हैं तो वे उनके दुख भी हर लेते हैं। गणेश भगवान का पूजन करने से विचलित व्यक्ति भी स्थिर ह
05 सितम्बर 2019
03 सितम्बर 2019
जब किसी को अचनाक दौलत मिलती है तो वो शायद उसकी कद्र नहीं करे लेकिन जब किसी गरीब को शोहरत मिलने लगती है या फिर जब वो पाई-पाई का मोहताज होता है तब उसे वो मुकाम मिल जाता है जिसके बारे में उसने सोचा भी नहीं तो वो लोग उस शोहरत को मिलने के जरिए को कभी नहीं भूलते हैं। पिछले कुछ समय से इंटरनेट सेशन बनी रानू
03 सितम्बर 2019
03 सितम्बर 2019
जब किसी को अचनाक दौलत मिलती है तो वो शायद उसकी कद्र नहीं करे लेकिन जब किसी गरीब को शोहरत मिलने लगती है या फिर जब वो पाई-पाई का मोहताज होता है तब उसे वो मुकाम मिल जाता है जिसके बारे में उसने सोचा भी नहीं तो वो लोग उस शोहरत को मिलने के जरिए को कभी नहीं भूलते हैं। पिछले कुछ समय से इंटरनेट सेशन बनी रानू
03 सितम्बर 2019
05 सितम्बर 2019
Old is Gold...इस बारे में तो आपने सुना ही होगा ? पुरानी चीजों की कद्र एक समय के बाद होती है। 90 के दशक में बड़े होने वाले सभी बच्चों में एक खास तरह का उत्साह रहता था। उस दौर में बच्चों के पास क्रिएटिविटी करने के बहुत मौके हुआ करते थे। 90 के दशक के बच्चों को खाली समय में बहुत कुछ करने को होता था, जिस
05 सितम्बर 2019
17 सितम्बर 2019
बहुत से लोगों के मन में ऐसी बातें हैं कि आखिर लोग नरेंद्र मोदी को इतना तवज्जों क्यों देते हैं लेकिन सच तो ये है कि पिछले दिनों जब आजाद भारत के सबसे लोकप्रिय प्रधानमंत्री कौन है इसपर सर्वे हुआ तो 80 प्रतिशत लोगों ने नरेंद्र मोदी का नाम लिया। ये सर्वे ABP News ने अपने 11 हजार साथियों के साथ किया था। न
17 सितम्बर 2019
23 सितम्बर 2019
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अभी अमेरिका में हैं. 22 सितंबर के दिन टेक्सस के ह्यूस्टन शहर में उनका एक बड़ा इवेंट हुआ. नाम था Howdy Modi. पीएम मोदी ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप के साथ मंच शेयर किया. दोनों की साथ में बहुत सारी तस्वीरें
23 सितम्बर 2019
29 अगस्त 2019
भारत में महिलाओं को देवी का अवतार कहा जाता है लेकिन वे अपने परिवार की सलामती के लिए बहुत से काम करती हैं। अपने पति के लिए, संतान के लिए और परिवार में सुख-समृद्धि रखने के लिए व्रत और पूजा-पाठ करती रहती हैं। अब आने वाले व्रत में हरितालिका तीज व्रत आने वाला है जिसमें वे व्रत रखकर अपने पति की लंबी उम्र
29 अगस्त 2019
31 अगस्त 2019
आज के दौर में तकनीक ने हर क्षेत्र में अपनी जगह बना ली है और ट्रेन तो बस सुपरफास्ट होती ही जा रही है। ट्रेन में सफर करना बहुत आसान हो जाता है और हमें एक रिजर्व सीट मिल जाती है जिसपर हम सोकर बैठकर अपनी उस जगह पर पहुंच जाते हैं जहां पर भी हम जाना चाहते हैं। AC कोच में बैठकर हम ठंडी हवा लेकर हम अपनी मनप
31 अगस्त 2019
23 सितम्बर 2019
ह्यूस्टन में हुआ ‘Howdy, Modi’ इवेंट. स्टेडियम में 50 हज़ार से ज़्यादा भारतीय मूल के अमेरिकी मौजूद थे. मंच पर थे नरेंद्र मोदी और डॉनल्ड ट्रंप. यहां डेमोक्रैटिक पार्टी के नेता स्टेनी होयर भी आए. उन्होंने नेहरू-गांधी के भारत का ज़िक्र किया. उन्होंने नेहरू के सपनों के भारत की बात की. धर्मनिरपेक्ष लोकतं
23 सितम्बर 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x