Navratri 2019- नवरात्रि में होते है सभी शुभ कार्य, फिर शादी क्यों नहीं जानिए क्यों ?

26 सितम्बर 2019   |  दैनिक राशिफल   (442 बार पढ़ा जा चुका है)

Navratri 2019- नवरात्रि में होते है सभी शुभ कार्य, फिर शादी क्यों नहीं जानिए क्यों ?

माँ शक्ति के नौ स्वरूपों की पूजा, अर्चना, उपासना की जाती है। इस साल शारदीय नवरात्रि २९ सितम्बर से शुरू हो रही है। नवरात्रि का पूर्व हिन्दू धर्म से लोगो के लिए बहुत ही महत्व पूर्ण होता है। इन नौ दिनों तक माँ दुर्गा के शक्ति रूपों की पूजा की जाती है हर दिन एक रूप की पूजा की जाती है। नवरात्री के पहले दिन से ही शुभ कार्य होने लगते है जिसमे घर प्रवेश,नया कारोबार, नए सौदे, और नए वाहन की खरीदारी कर सकते है। शुभ कार्य और नए खरीदारी से हिसाब से नवरात्रि को शुभ मना जाता है और फलदायक भी होते है मगर क्या आप जानते है की फिर भी इन दिनों में शादी जैसे मांगलिक कार्य क्यों नहीं होते है, तो आईये जानते है।


Navratri Puja


नवरात्रि में देवी के नौ रूपों की पूजा करने की अनेक मान्यता है, जैसे घर में या मंदिर कलश की स्थापना करना, जौ रोपना, के साथ ही माता के नौ रूपों की आराधना करना। हिन्दू धर्म की मान्यता है की जब सृष्टि की शुरुआत हुई तो सबसे पहेली फसल जौ ही थी।


Navratri 2019


वैसे बसंत ऋतू की पहेली फसल भी जौ ही होती है, जिसे हम माता जी की अर्पित करते है इसलिए इसे भविष्य की फसल भी कहा जाता है। इन नौ दिनों में जौ रोपे जाते है वह तेजी से साथ बढ़ते है जिससे घर में सुख समृद्धि आती है। यही भी मान्यता है की माँ देवी की कृपा से पुरे साल घर में धन धान्य से भरा रहता है।


Navratri 2019

अब जानते है की इन दिनों शादी विवाह क्यों नहीं होते है-
नवरात्रि पर्व को पवित्र मना जाता है जिसमे सभी लोग नौ दिनों तक माँ शक्ति की सच्चे मन से आराधना करते है जिसमे पवित्रता,सात्विकता,के साथ माता की पूजा करते है। नौ दिनों के दौरान शारीरिक और मानसिक शुद्धता के लिए व्रत करते है।
इन दिनों बहुत से श्रद्धालु बाल काटने , सेविंग बनवाने, पलंग पर सोने से भी परेज करते है। विष्णु पुराण के मुताबिक कहा जाता है की नवरात्रि व्रत करते समय बार बार पानी पीना, दिन में सोना, तम्बाकू चबाना, और स्त्री के साथ सहवास करने से भी व्रत खंडित हो जाता है और विवाह का उद्देश्य संतति के उत्पन होने से वंश को आगे चलाना मना जाता है इसलिए इन दोनों शादी जैसे आयोजन नहीं करना चाहिए।


यह भी पढ़ें :-

Navratri 2019- नवरात्रि में होते है सभी शुभ कार्य, फिर शादी क्यों नहीं जानिए क्यों ?

https://life24by7.com/navratri-me-hote-hai-shubh-kary-lekin-shadi-kyu-nahi/

अगला लेख: अश्विन मास है बहुत खास, करें मां शक्ति की उपासना, जानिए महत्व



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
30 सितम्बर 2019
आज नवरात्री का दूसरा दिन है। आज आपको माँ दुर्गा की उपासना के बारे में बतायेगे. नवरात्रि के दौरान बहुत से लोग दुर्गा सप्तशती का पाठ करते है लेकिन ये नहीं जानते है की अगर सही तरीके से नहीं किया जाये तो माँ क्रोधित हो जाती है। दुर्गा सप्तशती में १३ अध्याय है जिसमे माँ दुर्गा
30 सितम्बर 2019
23 सितम्बर 2019
गिरते-संभलते जैसे तैसे जीवन मे चलना सीखा था,खुदा ईशवर बस नाम ही सुनाये कभी कहा दिखा था।बचपन से माँ की ममता देखते पले बड़े,आज भी ममता के आंचल के कारण है खड़े।ईश्वर की माया देखी जो मा मिली है।जिसके कारण जिंदगी आज खिली खिली है।जन्म से जिसकी सूरत देखी,जिसको सबसे पहले पहचाना,लगता नही आज भी मैंनेउसे भले ढं
23 सितम्बर 2019
25 सितम्बर 2019
हिन्दू धर्म में देखा जाये तो हर महीने का अपना खास महत्तव है। हिन्दू कैलेंडर तथा पंचांक के मुताबिक साल का सांतवा महीना अश्विन माह होता है। यह महीना देव पूजा और पितृ पूजा दोनों के लिए महत्वपूर्ण होता है। इस महीने से सूर्य का प्रभाव धीरे धीरे कमजोर होने लगता है, वही शनि और तमस का प्रभाव बढ़ने लगता है। इ
25 सितम्बर 2019
20 सितम्बर 2019
A
इस बार घट स्थापना वो ही करेजिसने कोई बेटी रुलायी न होवरना बंद करो ये ढोंग नव दिन देवी पूजने का जब तुमको किसी बेटी की चिंता सतायी न हो सम्मान,प्रतिष्ठा और वंश के दिखावे में जब तुम बेटी की हत्या करते हो अपने गंदे हाथों से तुम ,उसकी चुनर खींच लेते होइस बार माँ पर चुनर तब
20 सितम्बर 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
08 अक्तूबर 2019
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x