5 अक्टूबर से चलने वाली 'वंदे भारत एक्सप्रेस' है माता के भक्तों के लिए खास, जानिए 10 खूबियां

04 अक्तूबर 2019   |  स्नेहा दुबे   (451 बार पढ़ा जा चुका है)

5 अक्टूबर से चलने वाली 'वंदे भारत एक्सप्रेस' है माता के भक्तों के लिए खास, जानिए 10 खूबियां

आधुनिक भारत में बहुत सारी चीजें बदल रही हैं, चीजें डिजिटल हो रही हैं। हर जगह आधुनिकता ही काम हो रहे हैं, रेलवे हो या सिनेमाहॉल जगह डिजिटल भारत अपना परचम लहरा रहा है। अब तक लोगों को जानकारी थी कि अगर लंबी दूरियां तय करनी है तो फ्लाइट का सहारा लिया जाता है लेकिन अगर दिल्ली से वैष्णों देवी जाना है तो 12 से 13 घंटे लगने ही हैं। मगर अब भारत सरकार की तरफ से देश को एक सौगात मिली है और 3 अक्टूबर को गृह मंत्री अमित शाह दिल्ली-कटरा वंदे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखा दी है और अमित शाह ने नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लिया। वंदे भारत एक्सप्रेस को दिल्ली से कटरा के लिए हरी झंडी दिखाई और लोगों को शुभमानाएं भी दीं। इस ट्रेन का नियमित संचालन 5 अक्टूबर से शुरु होगा।


'वंदे भारत एक्सप्रेस' में हैं ये सारी खूबियां


'वंदे भारत एक्सप्रेस'

3 अक्टूबर यानी गुरुवार को अमित शाह ने वंदे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दी थी और इस खास मौके पर अमित शाह के सात रेल मंत्री पीयूष गोयल, स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन और केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह भी मौजूद रहे। दिल्ली से कटरा के बीच चलने वाली इस हाई स्पीड वंदे भारत एक्सप्रेस को आम लोगों के लिए 5 अक्टूबर को शुरु होगी जिसकी बुकिंग IRCTC की वेबसाइट पर शुरु हुई।

1. वंदे भारत एक्सप्रेस की सबसे खास बात ये है कि ट्रेन पूरी तरह से 'मेड इन इंडिया' है।

2. वंदे भारत एक्सप्रेस दिल्ली-कटरा के बीच 160 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड पर चलेगी।

3. इस हाई स्पीड ट्रेन ने दिल्ली और कटरा के बीच की 12 घंटे की यात्रा को कम करके 8 घंटे किया गया है।


'वंदे भारत एक्सप्रेस'

4. 'वंदे भारत एक्सप्रेस' में 16 फुल एसी कोच रहेंगे, शानदार इंटीरियर और ऑटोमैटिक दरवाजे लगे हैं। Wi-Fi, GPS और CCTV जैसी सुविधाएं उपलब्ध होंगी।

5. 'वंदे भारत एक्सप्रेस' के फर्स्ट क्लास में सीटें 360 डिग्री घूमने वाली है। किताब पढ़ने वालों के लिए अलग से लाइट्स लगी गै और साथ ही सीटों की नंबरिंग ब्रेल लिपि में लगी हैं।

6. 'वंदे भारत एक्सप्रेस' में बायो-वैक्यूम शौचालय लगे हैं, जो एनारोबिक बैक्टीरिया की मदद से मलमूत्र को पानी और गैस में परिवर्तित कर देता है। इससे पटरियों पर फ़ैलने वाला कचरा भी बहुत कम होगा।

7. वंदे भरत एक्सप्रेस अंबाला कैंट, लुधियाना और जम्मू तवी स्टेशनों पर सिर्फ 2-2 मिनटों के लिए रुकेगी। ये ट्रेन मंगलवार को छोड़कर हर दिन चलेगी।

8. 'वंदे भारत एक्सप्रेस' सुबह 6 बजे नई दिल्ली से चलकर दोपहर 2 बजे कटरा पहुंचेगी। वहां से इसकी वापसी का टाइम दोपहर 3 बजे कटरा से रवाना होकर रात 11 बजे नई दिल्ली आ जाएगी।


'वंदे भारत एक्सप्रेस'

9. नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से श्री वैष्णो देवी कटरा के बीच चेयर कार (CC) का न्यूनतम किराया 1630 रुपया रखा गया है, जबकि एग्जीक्यूटिव चेयर (EC) कार के लिए 3015 रुपये का किराया है।

10. 'वंदे भारत एक्सप्रेस' में 'डायनामिक फ़ेयर' लागू नहीं किया गया है जो सिर्फ दिल्ली-कटरा का ही है। वरना दिल्ली-वाराणसी के बीच चलने वाली 'वंदे भारत एक्सप्रेस' में भी ये किराया प्रणाली लागू नहीं होंगे।

अगला लेख: KBC में सोनाक्षी सिन्हा का बुरी तरह उड़ा मजाक, आलिया से तुलना करते हुए बन रहे हैं Memes



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
11 अक्तूबर 2019
अक्सर आम लोगों में पेट्रोल और डीज़ल के भाव को लेकर सरकार से नाराजगी होती है। पेट्रोल और डीजल से लोगों की भावनाएं जैसे जुड़ी रहती हैं क्योंकि इसके बिना लोगों को काफी समस्या होती है खासकर जिनके पास अपनी गाड़ी होती है। सरकार ने अब नई पेट्रोल और डीजल की कीमत बताई है जो आपको जरूर जाननी चाहिए। आम आदमी को
11 अक्तूबर 2019
30 सितम्बर 2019
मां दुर्गा का प्रत्येक स्वरूप मंगलकारी है और एक-एक स्वरूप एक-एक ग्रह से संबंधित है। इसलिए नवरात्रि में देवी के नौ स्वरूप की पूजा प्रत्येक ग्रहों की पीड़ा को शांत करती है।देवी माँ या निर्मल चेतना स्वयं को सभी रूपों में प्रत्यक्ष करती है,और सभी नाम ग्रहण करती है। माँ दुर्गा के नौ रूप और हर नाम में एक
30 सितम्बर 2019
30 सितम्बर 2019
वास्तु शास्त्र के प्रसिद्ध ग्रंथ: समरांगण सूत्रधार, मानसार, विश्वकर्मा प्रकाश, नारद संहिता, बृहतसंहिता, वास्तु रत्नावली, भारतीय वास्तु शास्त्र, मुहूत्र्त मार्तंड आदि वास्तुज्ञान के भंडार हैं। अमरकोष हलायुध कोष के अनुसार वास्तुगृह निर्माण की वह कला है, जो ईशान आदि कोण से आरंभ होती है और घर को विघ्नों
30 सितम्बर 2019
16 अक्तूबर 2019
नागालैंड की राजधानी कोहिमा में 5 अक्टूबर को मिस कोहिमा ब्यूटी पीजेंट 2019 का फाइनल राउंड आयोजित हुआ ता। इनमें तीन विनर्स को चुना गया और उनसे अलग-अलग तरह के सवाल किए जा रहे थे। अब इनमें एक कंटेस्टेंट से ऐसा सवाल पूछा गया जिसका जवाब उसने अपनी सूझ-बूझ के साथ दिया। ये सवाल भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र म
16 अक्तूबर 2019
14 अक्तूबर 2019
आज के समय में महिलाओं की दशा काफी चिंताजनक है, क्योंकि जितना खुलापन आज के दौर में महिलाओं में देखने को मिल रहा है उतनी ही वारदातें उनमें हो रही हैं। सबसे ज्यादा पर्दा मुस्लिम धर्म में होता है और ये बहुत पुरानी प्रथा है जो आज तक चल रही है। मगर विदेशी लड़कियों में खुलापन आज से नहीं बल्कि उस समय से है
14 अक्तूबर 2019
29 सितम्बर 2019
केवल जन आन्दोलन से प्लास्टिकमुक्ति अधूरी कोशिश होगीवैसे तो विज्ञान के सहारे मनुष्यने पाषाण युग से लेकर आज तक मानव जीवन सरल और सुगम करने के लिए एक बहुत लंबासफर तय किया है। इस दौरान उसने एक से एक वो उपलब्धियाँ हासिल कीं जोअस्तित्व में आने से पहले केवल कल्पना लगती थीं फिर चाहे वो बिजली से चलने वालाबल्ब
29 सितम्बर 2019
10 अक्तूबर 2019
Bigg Boss-13 की शुरुआत हो चुकी है और ऐसे में घर में आने वाले कंटेस्टेंट्स का भी अपना-अपना शुरु हो गया। कोई खुद को अच्छा दिखाने में लगा है तो कोई बुरा बताना चाहता है। इस शो में यही तो खासियत है कि जो प्रतियोगी जितना लड़ते-झगड़ते हैं उन्हें उतना ही देखा जाना पसंद किया जाता है। बिग बॉस सीजन 11 में सलमा
10 अक्तूबर 2019
04 अक्तूबर 2019
फिल्मों में काम दो तरीकों से मिलता है पहला आप स्टारकिड होने चाहिए या तो आपके अंदर कोई ना कोई खास टैलेंट हो जिसमे आप फिल्म प्रोड्यूसर के कहने के मुताबिक कुछ भी कर दें। खासकर इनमें एक्ट्रेसेस का बोलबाला ज्यादा रहता है जब फिल्म मेकर के कहने पर वे कैसा भी सीन शूट कर देती थीं फिर इसके लिए उन्हें कुछ भी क
04 अक्तूबर 2019
14 अक्तूबर 2019
आज के दौर में हर किसी को पहचान पाना मुश्किल है। महिला हो या पुरुष किसी का भी दिमाग गलत रास्ते पर निकल सकता है और आमतौर पर हम सभी पुरुष को ही गलत समझते हैं जबकि महिलाएं भी कुछ कम नहीं होती है। ऐसा ही एक किस्सा बिहार की राजधानी पटना में न
14 अक्तूबर 2019
10 अक्तूबर 2019
भारत में चुनाव का जब माहौल होता है तब कुछ ऐसे चेहरे सामने आते हैं जिन्हें आपने पहले कभी नहीं देखा होता है लेकिन चुनाव के दौरान वे आपसे ऐसे बात करते हैं जैसे उनका आपका सदियों का नाता हो। कुछ ऐसा ही अब महार
10 अक्तूबर 2019
30 सितम्बर 2019
प्रिय पाठकों/मित्रों, पृथ्वी, आकाश, जल, अग्नि एवं वायु इन पंचतत्वों तथा दसों दिशाओं के कल्याणकारी सूत्र एवं सिद्धान्त ही वास्तु शास्त्र की मूल अवधारणा है। प्रकृति के इन नियमों का पालन मनुष्य किस तरह शारीरिक एवं मानसिक विकास हेतु करके सुखी एवं सम्पन्न रहे, यही वास्तु श
30 सितम्बर 2019
23 सितम्बर 2019
ह्यूस्टन में हुआ ‘Howdy, Modi’ इवेंट. स्टेडियम में 50 हज़ार से ज़्यादा भारतीय मूल के अमेरिकी मौजूद थे. मंच पर थे नरेंद्र मोदी और डॉनल्ड ट्रंप. यहां डेमोक्रैटिक पार्टी के नेता स्टेनी होयर भी आए. उन्होंने नेहरू-गांधी के भारत का ज़िक्र किया. उन्होंने नेहरू के सपनों के भारत की बात की. धर्मनिरपेक्ष लोकतं
23 सितम्बर 2019
14 अक्तूबर 2019
साल 1992 से राम जन्मभूमि और बाबरी मस्जिद विवाद चल रहा है और इसपर आज तक कोई फैसला नहीं लिया गया। अयोध्या में उस स्थान पर मंदिर बनेगा या मस्जिद होगी ये कहा जाना अभी मुश्किल है लेकिन बहुत जल्द ऐसा समय आने वाला जब किसी एक के हक में फैसला आ जाएगा। अभी सुनवाई का दौर सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है और इस संभाव
14 अक्तूबर 2019
11 अक्तूबर 2019
जब से भारत ने जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटाया है तब से पाकिस्तान में खलबली मची है। ऐसा लग रहा है कि भारत ने उनके देश के लिए कोई फैसला ले लिया हो। तब से भरात पर कोई ना कोई बयान कसते हुए ये देश अपनी हरकतों से बाज नहीं आया। हमेशा उल्टे-सीधे बयान देकर पाकिस्तान पूरी दुनिया मेंं हंसी के पात्र बन गया लेकि
11 अक्तूबर 2019
23 सितम्बर 2019
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अभी अमेरिका में हैं. 22 सितंबर के दिन टेक्सस के ह्यूस्टन शहर में उनका एक बड़ा इवेंट हुआ. नाम था Howdy Modi. पीएम मोदी ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप के साथ मंच शेयर किया. दोनों की साथ में बहुत सारी तस्वीरें
23 सितम्बर 2019
30 सितम्बर 2019
आज का समय असल में बहुत खराब हो गया है और इन दिनों महिलाएं पूरी तरह से सुरक्षित हैं ये भी कहना आसान नहीं है। हर जगह छेड़छाड़, बलात्कार और शोषण होने की घटनाएं आती रहती हैं और ऐसे में महिलाएं भी अपनी सुरक्षा कैसे करें ये एक बड़ा सवाल बन जाता है। पुलिस या प्रशासन की तरफ से कोई खास कदम या कानून भी नहीं ब
30 सितम्बर 2019
19 सितम्बर 2019
बहुत साल हो गए लेकिन आज भी अयोध्या में राम जन्मभूमि को लेकर विवाद नहीं सुलझ पाया है। हर कोई इसके बारे में बात करता है लेकिन इस मुद्दे को आज तक कोई हल नहीं कर पाया। मोदी सरकार ने साल 2014 में सत्ता आने पर कहा था कि अब मंदिर वहीं बनेगा लेकिन इस बात को 5 साल बीत गए और केंद्र में उनकी दोबारा सरकार आ गई
19 सितम्बर 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x