रेलवे स्टेशन बोर्ड पर आखिर क्यों लिखी जाती है समुद्र तल से ऊंचाई

07 अक्तूबर 2019   |  अभय शंकर   (508 बार पढ़ा जा चुका है)

रेलवे स्टेशन बोर्ड पर आखिर क्यों लिखी जाती है समुद्र तल से ऊंचाई

आप में से लगभग सभी लोगों ने ट्रेन का सफर तो किया ही होगा. ट्रेन का सफर करने के लिए रेलवे स्टेशन भी गए होंगे. अगर आप किसी रेलवे स्टेशन पर गए होंगे तो आपने वहां एक साइन बोर्ड को तो देखा ही होगा, जिस पर स्टेशन का नाम लिखा होता है. अगर आपने ध्यान दिया हो तो आपको उसमें स्टेशन के नाम के साथ ही समुद्र तल से ऊंचाई के बारे में भी बताया जाता है.


लेकिन क्या आपके मन में कभी ये सवाल आया है कि आखिर क्यों रेलवे स्टेशन के साइन बोर्ड पर नाम के साथ समुद्र तल से ऊंचाई के बारे में बताया जाता है ? तो आइए हम आपको बतातें हैं कि आखिर क्यों ऐसा लिखा होता है. लेकिन उससे पहले आपे लिए ये जानना जरूरी है कि समुद्र तल से ऊंचाई का मतलब क्या होता है ?

क्या होती है समुद्र तल से ऊंचाई

हम सभी जानते हैं कि पृथ्वी गोल है और दुनिया की एक सामान ऊंचाई नापने के लिए वै ज्ञान िकों को ऐसे पॉइंट की जरुरत होती है, जो एक सामान रहे. इसके लिए समुद्र से अच्छा कोई दूसरा विकल्प नहीं है. इसका कारण ये है कि समुद्र का पानी एक सामान रहता है. इसी के साथ ही इसका इस्तेमाल सिविल इंजीनियरिंग में भी किया जाता है.


ड्राइवर और गार्ड को मिलती है मदद

अब जानते हैं कि रेलवे स्टेशन के साइन बोर्ड पर समुद्र तल से ऊंचाई को क्यों दर्शाया जाता है. दरअसल ये ऊंचाई रेल के ड्राईवर और गार्ड के लिए लिखी होती है. इसका कारण ये है कि मान लीजिये ट्रेन 100 मीटर समुद्र तल की ऊंचाई से ट्रेन 150 मीटर समुद्र तल की ऊंचाई पर जा रही है.


बिजली के तारों को बिछाने में मदद

इस साइन बोर्ड देखकर ड्राईवर को अंदाजा हो जाता है कि उसको किस हिसाब से ट्रेन के इंजन की स्पीड बढ़ानी है. इसके अलावा इसकी मदद से ट्रेन के ऊपर लगे बिजली के तारों को एक सामान ऊंचाई देने में भी मदद मिलती है. जिससे बिजली के तार ट्रेन के तारों से हर समय टच होते रहें.

https://shabd.in/post/62470/railway-station-board-akhir-kyo-likhi-jati-samud

अगला लेख: 15 की उम्र में रेखा को 25 साल बड़े एक्टर के साथ करना पड़ा था किस सीन, रातों-रात मचा था तहलका



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
04 अक्तूबर 2019
यह पोस्ट ‘Phrasal Verb’ पर आधारित है. इस पोस्ट हम फ्रेजल वर्ब का Definition जानेंगे साथ ही English Language में सामान्य रूप से में प्रयोग होने वाले और Competitive Exam की दृष्टि से उपयोगी सभी फ्रेजल वर्ब ( Phrasal verbs ) को अंग्रेजी और हिंदी अर्थों के साथ एक सूची (में शा
04 अक्तूबर 2019
30 सितम्बर 2019
क्
आजकल दौड़ भाग वाली जिंदगी में सभी लोग परेशान रहते है . किसी न किसी परेशानी से ग्रषित होते है. किसी को नौकरी नहीं मिल रही है , कोई अपने करियर को लेकर परेशान है , कोई पैसो की कमी से परेशान है , तो किसी को शरीर में होने वाली बीमारियों से परेशान है , अब आपको परेशान होने की जरुरत नहीं है आपको बस अपनी प
30 सितम्बर 2019
26 सितम्बर 2019
कार में हेलमेट नहीं पहना तो चालान.चप्पल पहनकर बाइक चलाई तो चालान.शर्ट की बटन खुली तो चालान.फुल शर्ट नहीं पहनी तो चालान.और अब बाटी चोखा देने में देरी की तो चालान.जी. ये लास्ट फरमान लखनऊ की सिविल पुलिस ने निकाला है. मामला राजाजी पुरम पोस्ट ऑफिस के सामने का है. जहां का एक व
26 सितम्बर 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x