Panchatantra Stories in hindi हिंदी पंचतंत्र की १४ खूबसूरत कहानियां

18 अक्तूबर 2019   |  अभिषेक पाण्डेय   (456 बार पढ़ा जा चुका है)

Panchatantra Stories in hindi हिंदी पंचतंत्र की १४ खूबसूरत कहानियां

Panchatantra Stories in Hindi – पंचतंत्र की कहानियां हिंदी में


Panchatantra Stories in hindi एक कंजूस धोबी के पास एक गधा था. धोबी उस गधे से खूब काम लेता, लेकिन गधे के चारे का कोई प्रबंध नहीं करता. बस रात को गधे को चरने के लिए खुला छोड़ देता. निकट में कोई चारागाह नहीं था.



जंगल में बड़े जानवरों का भय था. इससे गधा बहुत ही कमजोर हो गया था. एक रात उसकी मुलाक़ात एक गीदड़ से हुई. गीदड़ बोला, ” अरे, गद्धूराम तू तो बड़ा कमजोर हो गया है बे. तेरा मालिक खाने-पीने को कुछ नहीं देता है क्या?”



गधे ने दुखी स्वर में सारी रामकहानी कह सुनाई.गीदड़ को बड़ी दया आई. वह बोला, ” सुन भाई! आज से अपुन तेरा दोस्त है. अब समझ तेरे गरीबी के दिन ख़त्म हो गेले हैं.अभी अपुन जैसा बोलरेला है वैसा इच का. तू मस्त मोटा-तगड़ा आइटम हो जाएगा बॉस.”



गधा गीदड़ के पीछे चल पड़ा. एक गुप्त मार्ग से होते हुए दोनों एक सब्जी के बाग में आ पहुंचे. वहाँ तरह- तरह की सब्जियां उगी हुई थीं. खीरे, ककड़ी, टोरी, गाजर, बैगन की बहार थी. गधा तो दंग रह गया. उसने पेट भरकर सब्जिया खाई और डकार लेते हुए बोला,” भाई मज़ा आ गया. बड़े दिनों बाद पेट भरा है”.



अबे धीरे बोल नहीं तो इधर का वाचमैन लोग बहुत डेंजर है. इधर इच तेरी समाधि बना देंगा. अभी उन दोनों की यह रोज की आदत हो गयी. धीरे- धीरे गधे की तबियत सुधरने लगी. यह देखकर गधे का मालिक भी बड़ा खुश था. अब गधा दोगुना काम करता. वह अपनी भुखमरी के दिन भूल गया था.



एक रात गधे खूब छककर सब्जियां खायी. उसकी तबियत एकदम मस्त हो गयी.वह झूमने लगा और अपना मुंह ऊपर उठाकर कान फड़फडाने लगा. यह देखकर गीदड टेंशन में आ गया. वह बोला, “ब्रो, क्या होरेला है तुमको. तबियत तो बराबर है ना”.



“ओये यार, आज अपुन का गाने का मन कररेला है”. गधा बोला



ओये तुम तो हमारी भाषा बोलता है रे बाबा.बात इधर गाने का नहीं रे. तुमको अपुन बताया था ना इधर का वाचमैन लोग बहुत डेंजर है. सिर्फ खाने का पीने का मस्त रहने का. लेकिन गीदड़ के लाख समझाने पर भी गद्धूराम नहीं माना.



गधा गीदड़ से झगड़ा करने लगा. इधर गीदड़ को वाचमैनो के जागने का एहसास हो गया था. उसने गद्धूराम को बोला” भाई देख, अभी तक मैंने तेरा गाना कभी सूना नहीं. तू मेरे सामने पहली बार गायेगा तो तेरे सम्मान के वास्ते अपुन माला लेकर आता है.



मेरे आने के पहले तुम मत गाना.” यह कहकर गीदड़ तेजी से भागा और इधर गधे का तो मौसम बन गया था. उसने रेंकना शुरू किया. उसकी आवाज सुनकर चकिदार लाठी लेकर दौड़ पड़े और उसकी बड़ी पिटाई कर दी. अब गधा तो गया ही बेचारे गीदड़ का भोजन भी गया.









Stories in Hindi – चतुर खरगोश और हाथी की कहानी – पंचतंत्र की कहानी



२-Panchatantra Stories in hindi- एक जंगल में हाथियों का एक झुण्ड रहता था. उनका सरदार बहुत ही समझदार और सुलझा हुआ हाथी था. एक बार बड़ा ही भीषण सूखा पड़ा. कई वार्षों तक बार्ष नहीं हुई. पेड़-पौधे सुखने लगे. धरती फट गयी. पुरे जंगल में हाहाकार मच गया.



हर कोई इधर – उधर भागने लगे. हाथियों ने अपने सरदार से कहा, ” कुछ कीजिये. ऐसे तो हम लोग मर ही जायेंगे.बच्चो की तड़प देखि नहीं जा रही है”. सरदार पहले से ही चिंतित था. उसे समझ में नहीं आ रहा था की क्या किया जाए.



वह गहरी सोच में डूब हया और अचानक चहक कर बोला, ” दादा जी बताते थे की यहाँ से पुरब की दिशा में एक बहुत ही बड़ा ताल है. वह भूमिगत जल से जुड़े होने कारण कभी नहीं सूखता है. हमें वहाँ चलना चाहिए”.



सभी हाथी उस तरफ चल दिए. कई दिनों के बाद वे वहाँ पहुंचे तो उनकी ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहा. वहाँ खूब पानी था. हाथियों ने खूब मजे से जलक्रीडा की.



उसी क्षेत्र में खरगोशों की बड़ी घनी आबादी थी. सैकड़ों खरगोश हाथियों के पैरों तले कुचल कर मर गए. बहुत से घायल हुए. उनके बिल रौंद गए. खरगोशों में हाहाकार मच गया.



एक खरगोश ने कहा हमें यहाँ से भाग जाना चाहिए. कई खरगोशों ने उसका समर्थन किया. उसमें एक बहुत ही चतुर खरगोश था. उसने कहा भागना उचित नहीं है.



हमें उनसे बात करनी चाहिए. एक हाथी बोला यह तो ठीक है, लेकिन हम क्या बात करेंगे? क्या हम उन्हें यहाँ से जाने को कहेंगे? क्या वे हमारी बात मानेंगे? इस पर चतुर खरगोश बोला, ” हाथी अन्धविश्वासी होते हैं. हम चंद्रवंशी है. तुम्हारे इस जघन्य अपराध से चंद्र देव तुम लोगों पर रुष्ट हो गए हैं. अगर तुम लोग यहाँ से नहीं गए तो वे तुम्हारा विनाश जरुर करेंगे.”



लेकिन अगर हाथी नहीं माने और बोले कहाँ हैं चन्द्रमा तो क्या होगा? एक खरगोश चिंतित स्वर में बोला.



उचित प्रश्न है. लेकिन मैं इसे आसानी से कर लूँगा. मैंने इसका भी प्लान तैयार रखा है. चतुर खगोश बोला.



चतुर खरगोश हाथियों के सरदार के पास गया और प्लान के मुताबिक़ सब कुछ कह डाला. लेकिन वही हुआ जिसका डर था. हाथियों के सरदार ने प्रश्न किया, कहाँ हैं चंद्र देव? मैं स्वयं उनका दर्शन कर उन्हें प्रणाम करना चाहता हूँ.



जैसा आप उचित समझे. आज की रात असंख्य मृत खरगोशों को श्रद्धांजलि देने के लिए चंद्र देव स्वयं ताल पर पधारेंगे. आप आईये और उनका आशीष लीजिये, लेकिन ध्यान रखियेगा वह आपसे और अन्य हाथियों से बहुत ही क्रुद्ध हैं और अगर आप नहीं आते हैं तो वे खुद यहाँ आयेंगे और सबका सर्वनाश कर देंगे” चतुर खरगोश बड़ी ही ऊर्जा से बोला.



हाथियों का सरदार इससे बहुत ही डर गया. वह रात्री में ताल पर आया . वहाँ का माहौल एक अजीब तरह का हो गया था. सभी खरगोशों में रोष और क्रोध था. यह सब पूरी तरह से प्लान किया गया था.



चतुर खरगोश हाथी को जल के पास ले गया और बोला चंद्र देव आपसे बहुत ही क्रुद्ध हैं. जैसे हाथी पानी के निकट पहुंचा उसके सूंड से निकली हवा से पानी में हलचल हुई और चाँद का प्रतिबिंब कई भागो में बंट गया और विकृत हो गया.



यह देखकर हाथियों का सरदार घबरा गया और पीछे हट गया. यह देखते ही सारे खरगोश चंद्रदेव की जयकार करने लगे. उनके जयघोष में उग्रता थी.



अब हाथियों का सरदार बेहद डर गया और उसके बाद समस्त हाथियों के साथ रातो रात पलायन कर गया. अब खरगोशो को शान्ति मिली. हाथियों के जंगल वापस लौटने के कुछ ही दिनों बाद तेज वर्षा हुई और पानी की समस्या का निवारण हो गया और हाथी भी ख़ुशी से रहने लगे. इस कहानी से यही शिक्षा मिलती है की चतुराई से बलवान दुश्मन को भी हराया जा सकता है.



और भी कहानियां नीचे की लिंक पर पढ़ें.



Love Story in Hindi . तेरी मेरी प्रेम कहानी . प्यार की सच्ची कहानियाँ . प्रेम का बंधन

Saraswati Mata. कौन हैं माता सरस्वती जाने पूरी कथा हिंदी में. मां सरस्वती का श्राप

Moral Story In Hindi


Panchatantra Stories in hindi हिंदी पंचतंत्र की १४ खूबसूरत कहानियां

https://www.hindibeststory.com/panchatantra-stories-in-hindi/

अगला लेख: Stories for Kids in Hindi . बच्चों की बेस्ट ४ हिंदी कहानियां. Stories In Hindi



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
सम्बंधित
लोकप्रिय
11 अक्तूबर 2019
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x