शर्मनाक: इस महान गणितज्ञ के निधन के बाद अस्पताल के बाहर ऐसी हालत में पड़ा रहा शव

14 नवम्बर 2019   |  स्नेहा दुबे   (467 बार पढ़ा जा चुका है)

शर्मनाक: इस महान गणितज्ञ के निधन के बाद अस्पताल के बाहर ऐसी हालत में पड़ा रहा शव

जो भी इंसान इस दुनिया में आया है उसे जाना ही है और यही दुनिया का प्रावधान है। मगर जब कोई लेजेंड इस दुनिया से जाता है और यहां हम बात एक ऐसे गणितज्ञ की करने जा रहे हैं जिन्होंने 14 नवंबर को आखिरी सांस ली। महान गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण सिंह ने 74 साल की उम्र में अपनी आखिरी सांस ली। काफी समय से बीमारी के कारण उन्होंने 14 नवंबर की सुबह आखिरी सांस ली। पटना के मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल उन्हें लाया गया लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। उनके निधन पर बिहार के सीएम ने श्रद्धांजलि जताई है और कहा है कि वशिष्ठ जी का जाना बहुत ही दुख की बाद है क्योंकि वे एक महान आदमी थे।


महान गणितज्ञ नहीं रहे हमारे बीच


गणितज्ञ


2 अप्रैल, स1942 को बिहार में जन्में वशिष्ठ नारायण सिंह भारत के महान गणितज्ञ थे। इन्होंने पटना साइंस कॉलेज से पढ़ाई की और आगे की पढ़ाई कैलिफॉर्निया से की है, मगर अब इनके निधन की खबर आ गई है। वशिष्ठ नारायण सिंह के निधन पर बहुत से लोगों को दुख हुआ है। जहां एक ओर सीएम ने वशिष्ठ नारयण को श्रद्धांजलि दी वहीं दूसरी ओर PMCH की बड़ी लापरवाही भी देखने को मिली। वशिष्ठ नारायण का शव अस्पताल के बाहर बहुत देर तक स्ट्रेक्चर पर पड़ा रहा और उनके परिवार वाले भी देर तक अस्पताल के सामने खड़े रहे। अस्पताल वालों ने बहुत देर तक एंबुलेंस मुहैया नहीं कराया और इस लापरवाही को मीडिया ने सबके सामने दिखाया। जब बात ज्यादा बिगड़ने लगी तब जाकर अस्पताल वालों ने एंबुलेंस की व्यवस्था की थी।


गणितज्ञ


अस्पताल की लापरवाही के कारण वशिष्ठ नारायण के छोटे भाई उनका शव लेकर देर तक ब्लड बैंक के बाहर खड़े रहे। उनके भाई ने बताया कि वशिष्ठ जी के निधन के बाद ना तो कोई अधिकारी आया और ना ही कोई राजनेता ही हमारे दुख में शामिल हुआ। वशिष्ठ नारायण के भाई ने मीडिया को बताया, 'हम अपना किराया लगाकर अपने भाई का शव लेकर जाएंगे। किससे कहें, किसके सामने रोएं। अंधे के सामने रोना, अपने दिल का खोना। कहने से कोई सुनने वाला भी नहीं है।'


गणितज्ञ


हालांकि जब वशिष्ठ नारायण सिंह के शव के साथ होने वाले ऐसे दुर्व्यवहार की खबरें मीडिया में आईं तो अस्पताल की तरफ से एक्शन लिया गया। तुरंत एंबुलेंस बुलाया गया और फिर उनके शव को उनके पैतृक गांव बसंतपुर लेकर गए। वशिष्ठ नारायण सिंह का अंतिम संस्कार आरा में होगा।

अगला लेख: सबको स्वदेशी का पाठ पढ़ाकर क्या अब 'पतंजली' बनेगी विदेशी कंपनी?



शर्मिंदा हूँ

शिल्पा रोंघे
15 नवम्बर 2019

सचमुच बहुत ही दुख की बात है किसी प्रतिभाशाली व्यक्ति के प्रति इस तरह का व्यवहार, हमारे देश में कई बार प्रतिभा की कद्र नहीं होती इसलिए आज युवा विदेश म जाना पसंद करते है।

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
05 नवम्बर 2019
<!--[if gte mso 9]><xml> <o:OfficeDocumentSettings> <o:RelyOnVML/> <o:AllowPNG/> </o:OfficeDocumentSettings></xml><![endif]--><!--[if gte mso 9]><xml> <w:WordDocument> <w:View>Normal</w:View> <w:Zoom>0</w:Zoom> <w:TrackMoves/> <w:TrackFormatting/> <w:PunctuationKer
05 नवम्बर 2019
15 नवम्बर 2019
पिछले कुछ महीनों से सोशल मीडिया पर एक नाम खूब चर्चित है जिसका नाम रानू मंडल है। इन्हें रेलवे स्टेशन पर लता मंगेशकर का गाना गाते देखा गया था। किसी ने वीडियो बनाया और सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया। इसके बाद इनकी पॉपुलैरिटी ऐसी बढ़ी कि सोशल मीडिया पर रानू मंडल सनसेशनल हो गईं और तरफ इनकी आवाज गूंजने लगी।
15 नवम्बर 2019
06 नवम्बर 2019
सुखऔर दुःखजीवन में अनुभूत सुख अथवा दुःख अच्छेया बुरे जीवन का निर्धारण नहीं करते | क्योंकि जीवन सुख-दुख, आशा-निराशा, मान-अपमान, सफलता-असफलता, दिन-रात,जीवन-मृत्यु आदि का एक बड़ा उलझा हुआ सा लेकिन आकर्षक चित्र है | सुखी व्यक्ति वहनहीं है जो सदा “सुखी” रहता है, बल्कि सुखी व्यक्ति वह है जोदुःख में भी सुख
06 नवम्बर 2019
07 नवम्बर 2019
पिछले दो महीनों से सोशल मीडिया पर रानू मंडल नाम का एक सितारा जगमगा रहा है। रेलवे स्टेशन से उठकर आज बॉलीवुड में जा बसी हैं लेकिन स्टारडम का अहम् इनके अंदर आ गया है कि लोगों से इस कदर बात करने लगी हैं। कभी रेलवे स्टेशन पर लता मंगेशकर का पॉपुलर गाना 'एक प्यार का नगमा है' गाया और फिर ये गाना इतना वायरल
07 नवम्बर 2019
07 नवम्बर 2019
हिंदी फिल्मों में आपने कई ऐसी कहानियां देखी होगी जिसमें बच्चा बचपन में मां-पिता से बिछड़ जाता है और फिर बहुत ही गरीबी से जिंदगी गुजारता है। बाद में बड़ा होकर वो अपने परिवार से किसी और ही सूरत में मिलता है। ऐसा असल जिंदगी में भी हुआ जब एक करोड़पति माता-पिता का बेटा बिछड़ गया और जब बड़ा होकर मिला तो म
07 नवम्बर 2019
24 नवम्बर 2019
स्वर्गीय बाला साहब का नारा ‘मराठा मानुष’ से सत्ता की चाह तक उद्धव ठाकरे डॉ शोभा भारद्वाज एक मई 1960 बाम्बे प्रेसिडेंसी टूटने के बाद दो नये राज्यों का निर्माण हुआमहाराष्ट्र एवं गुजरात बाला साहब ठाकरे कोमहाराष्ट्र के राजनीतिक धरातल का भरपूर ज्ञान था | वह ‘मराठी मानुष के गौरव’ के ना
24 नवम्बर 2019
07 नवम्बर 2019
हिंदी फिल्मों में आपने कई ऐसी कहानियां देखी होगी जिसमें बच्चा बचपन में मां-पिता से बिछड़ जाता है और फिर बहुत ही गरीबी से जिंदगी गुजारता है। बाद में बड़ा होकर वो अपने परिवार से किसी और ही सूरत में मिलता है। ऐसा असल जिंदगी में भी हुआ जब एक करोड़पति माता-पिता का बेटा बिछड़ गया और जब बड़ा होकर मिला तो म
07 नवम्बर 2019
14 नवम्बर 2019
14 नवंबर को देश पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू का जन्मदिवस मना रहा है और वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित कई बड़े नेताओं ने उन्हें एक बार फिर श्रद्धांजलि दी है। इनमें नेहरू के नाति राहुल गांधी और नातिन प्रियंका गांधी ने भी ट्विटर पर अपने ग्रैंड फादर को ट्रीब्यूट दिया है। ये नेहरू जी की 130
14 नवम्बर 2019
11 नवम्बर 2019
भारतीय सैनिकों की वाहवाही हमेशा से देशवासी करते आए हैं क्योंकि ये सरहद पर हम सबकी रक्षा करते हैंं। वे वहां पर जगते हैं तभी हम अपने-अपने घरों में चैन से सो पाते हैं और ये एक सच में बहुत बहदुरी का काम है। मगर सरहद पर रहने वाले जवान भी तो आपकी और हमारी तरह इंसान हैं और उनका मन भी किसी ना किसी के प्रति
11 नवम्बर 2019
12 नवम्बर 2019
पिछले कुछ सालों में बॉलीवुड ने एक से बढ़कर एक रत्न को खोया है। बहुत से सितारों का निधन अचानक हुआ जब किसी को इस बात की उम्मीद भी नहीं थी। अब भारतीय सिनेमा की कोकिला लता मंगेशकर की हालत नाजुक है। मुंबई से ऐसी खबर आ रही है कि लता जी को मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में वेंटिलेटर पर लिटाया गया है। लता जी
12 नवम्बर 2019
06 नवम्बर 2019
कि
<!--[if gte mso 9]><xml> <w:WordDocument> <w:View>Normal</w:View> <w:Zoom>0</w:Zoom> <w:TrackMoves></w:TrackMoves> <w:TrackFormatting></w:TrackFormatting> <w:PunctuationKerning></w:PunctuationKerning> <w:ValidateAgainstSchemas></w:Val
06 नवम्बर 2019
22 नवम्बर 2019
पिछले दिनों सोशल मीडिया पर रानू मंडल का मेकअप काफी वायरल हुआ था और इस मेकअप के बाद उन्हें इतनी बुरी तरह से ट्रोल किया गया कि ट्विटर पर सिर्फ वे सबसे ज्यादा ट्रेंड करने लगीं। रानू मंडल बॉलीवुड की उभरती सिंगर हैं लेकिन गानों से ज्यादा वे अपने किसी ना किसी लुक के कारण सुर्खियां बटोरती हैं। अब सोशल मीडि
22 नवम्बर 2019
13 नवम्बर 2019
राजनीति एक ऐसा दलदल माना जाता है जहां पर जाने के बाद कोई वापस नहीं आ पाता और फिर आप चाहे जितने अच्छे काम कर लें लोग आपको गलत समझेंगे ही। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि राजनीति में आने वाले बहुत से लोग अपने मतलब के लिए आते हैं लेकिन जो सच्चे लोग होते हैं और सच में देश के लिए कुछ करना चाहते हैं वो भी शक के
13 नवम्बर 2019
15 नवम्बर 2019
भारत और पाकिस्तान की तानाकशी दशकों से चली आ रही है लेकिन कभी-कभी दोनों देशों में सुलह हो ही जाती है। पाकिस्तान का जब मन होता है तो दोस्ती का हाथ बढ़ा देता है और जब मन होता है तो दुश्मनी का आगाज कर देता है। धारा 370 हटने के बाद से ही पाकिस्तान ने एक के बाद एक भारत के खिलाफ कई मामले दर्ज किए लेकिन अब
15 नवम्बर 2019
15 नवम्बर 2019
भारत और पाकिस्तान की तानाकशी दशकों से चली आ रही है लेकिन कभी-कभी दोनों देशों में सुलह हो ही जाती है। पाकिस्तान का जब मन होता है तो दोस्ती का हाथ बढ़ा देता है और जब मन होता है तो दुश्मनी का आगाज कर देता है। धारा 370 हटने के बाद से ही पाकिस्तान ने एक के बाद एक भारत के खिलाफ कई मामले दर्ज किए लेकिन अब
15 नवम्बर 2019
15 नवम्बर 2019
आज के समय में आधार कार्ड हर इंसान की पहली जरूरत बन गया है। किसी भी ऑफिशियल चीजों के लेन-देन के लिए आधार कार्ड का खास काम होता है। मगर अब आधार कार्ड में भी कई तरह की चीजें सामने आने लगी हैं। टैक्सपेयर्स की सहूलियत के लिए आयकर विभाग ने आधार कार्ड होल्डर्स को पैन कार्ड की जगह आधार का 12 अंकों का बायोमै
15 नवम्बर 2019
11 नवम्बर 2019
9 नवंबर की दोपहर 11 बजे तक भारत का एक ऐसा अहम फैसला आया जिसपर पूरी दुनिया की निगाहें थीं। जैसे ही चीफ जस्टिस रंजन गंगोई और उनकी टीम ने ये फैसला सुप्रीम कोर्ट में सुनाया। एक दिन पहले ही मीडिया द्वारा ये बात सामने आ गई थी कि 9 नवंबर को 10.30 बजे फैसला आएगा और इसके बाद से ही प्रशासन ने यूपी में हाई एलर
11 नवम्बर 2019
15 नवम्बर 2019
आज के समय में TikTok पर 80 करोड़ यूजर्स हैं और इनमें से 20 करोड़ यूजर्स तो सिर्फ भारत से ही हैं। अब इतने बड़े सोशल मीडिया के बाजार में भला फेसबुक की नजर कैसा नहीं पड़ेगी आखिर यूजर्स अपना समय फेसबुक की तरह यहां भी बिता रहे हैं। 20 करोड़ यूजर्स कम नहीं होते हैं इसलिए फेसबुक के मालिक मार्क ज़कर्बर्ग ने
15 नवम्बर 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x