'40 हजार करोड़ बचाने के लिए सीएम बने थे देवेंद्र फडणवीस'- बीजेपी सांसद, जानिए पूरा बयान

02 दिसम्बर 2019   |  स्नेहा दुबे   (458 बार पढ़ा जा चुका है)

'40 हजार करोड़ बचाने के लिए सीएम बने थे देवेंद्र फडणवीस'- बीजेपी सांसद, जानिए पूरा बयान

पिछले कुछ दिनों से महाराष्ट्र में जो कुछ भी हो रहा है उससे हर कोई वाकिफ है लेकिन असल में वहां की रणनीति कोई समझ ही नहीं पाता। जब भाजपा को वहां की सत्ता मिल गई थी तो इस्तीफा देने का क्या मतलब था। इस सवाल के साथ कई बीजेपी नेताओं ने पार्टी से सवाल किया लेकिन इसका जवाब किसी ने नहीं दिया। मगर अब इसका जवाब एक सांसद के द्वारा सामने आया है और उन्होंने बताया कि आखिर किस वजह से बीजेपी के देवेंद्र फडणवीस ने इस्तीफा दे दिया। अगर आप राजनीति में दिलचस्पी रखते हैं तो आपको इसके बारे में जानना चाहिए।


इस वजह से देवेंद्र फडणवीस ने दिया था इस्तीफा


महाराष्ट्र में अब शिवसेना और भारतीय जनता पार्टी के बीच तकरार जोरों पर है। जहां एक ओर शिवसेना अपने मुखपत्र सामना के साथ बीजेपी सहित देवेंद्र फडणवीस पर हमला बोल रही है वहीं अनंत हेगड़े ने महाराष्ट्र में तीन दिन के सीएम के पीछे पूरा मामला बताया। उत्तर कन्नड़ (कर्नाटक) से बीजेपी सांसद अनंत कुमार हेगड़े ने बताया कि केंद्र के 40 हजार करोड़ रुपये बचाने के लिए देवेंद्र फडणवीस को महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री बनाया गया था। हेगड़े ने इस बारे में विस्तार से बताते हुए कहा, 'आप सभी जानते हैं कि अभी कुछ दिनों पहले महाराष्ट्र में सिर्फ 80 सीटों के साथ हमारा मुख्यमंत्री बनाया गया। हर कोई जानना चाहता है कि हमने बहुमत के बिना इस तरह का ड्रामा क्यों किया। हमारे (केंद्र) 40 हजार करोड़ रुपये मुख्यमंत्री के अंडर थे और अगर कांग्रेस-एनसीपी और शिवसेना सत्ता में आ जाते तो इस धन का उपयोग गलत तरीके से होता। इस वजह से यह ड्रामा किया गया और यह आश्वस्त किया गया कि यह धन केंद्र तक वापस चला जाए। केंद्र तक पूरा पैसा पहुंच गया और क्या आप जानते हैं इस पैसे का क्या किया जाता। इसका इस्तेमाल लोगों के विकास कामों को खत्म किया जाना था।'


महाराष्ट्र


बता दें 80 घंटे तक मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया और इसके बाद पूरे देश में भाजपा से जुड़े लोगों में खलबली मच गई। इसके बाद शिवसेना ने कांग्रेस और एनसीपी के साथ मिलकर सरकार बना ली। हालांकि उद्धव ठाकरे के इस फैसले से शिवसेना के बहुत से कार्यकर्ताओं ने इस्तीफा दे दिया क्योंकि वे कांग्रेस के साथ रहकर काम नहीं कर सकते थे। सभी ने सोशल मीडिया पर अपना गुस्सा जाहिर किया और बाद में उद्धव ठाकरे ने मुख्यमंत्री पद को संभाल लिया।

'40 हजार करोड़ बचाने के लिए सीएम बने थे देवेंद्र फडणवीस'- बीजेपी सांसद, जानिए पूरा बयान

अगला लेख: सुप्रीम कोर्ट ने पंजाब सरकार को लगाई फटकार, कहा- 'जनता को एक बार में विस्फोटक से उड़ा दो..लेकिन'



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
18 नवम्बर 2019
भारतीय सिनेमा की शुरुआत के बाद इंडस्ट्री में ऐसे-ऐसे लेजेंड्स आए जिनकी जगह कभी कोई ले नहीं सकता। उनमें से एक हैं लता मंगेशकर, जिन्हें सुरों की देवी, कोकिला, नाइटएंगल और लता दी के नाम से पहचाना जाता है। लता मंगेशकर को ना सिर्फ भारत में पहचाना जाता है बल्कि दूसरे देशों में भी लोग जानते हैं कि लता जी ह
18 नवम्बर 2019
18 नवम्बर 2019
भारत का सबसे पुराना और चर्चित अयोध्या मामला 9 नवंबर को खत्म कर दिया गया। 1 अक्टूबर से 16 अक्टूबर तक लगातार ओवर शिफ्ट में काम करके चीफ जस्टिस सीजेआई रंजन गोगाई ने पूरी सुनवाई खत्म की और 8 नवंबर तक फैसले के सभी दस्तावेज तैयार कर लिया। ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि 17 नवंबर को गोगई रिटायर्ड होने वाले थे और इस
18 नवम्बर 2019
25 नवम्बर 2019
मंगलवार का दिन बजरंगबली का होता है और इस दिन इनकी पूजा करने से हर किसी की मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं। बस इस पूजा को बहुत अच्छे और सावधानीपूर्वक करना चाहिए जिससे हनुमानजी को प्रसन्न करने में आसानी रहे। इसके अलावा कुछ ऐसे भी पर्व होते हैं जिस दिन हनुमानजी की पूजा करने से उचित लाभ मिलता है। और इस बार
25 नवम्बर 2019
18 नवम्बर 2019
भारत का सबसे पुराना और चर्चित अयोध्या मामला 9 नवंबर को खत्म कर दिया गया। 1 अक्टूबर से 16 अक्टूबर तक लगातार ओवर शिफ्ट में काम करके चीफ जस्टिस सीजेआई रंजन गोगाई ने पूरी सुनवाई खत्म की और 8 नवंबर तक फैसले के सभी दस्तावेज तैयार कर लिया। ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि 17 नवंबर को गोगई रिटायर्ड होने वाले थे और इस
18 नवम्बर 2019
18 नवम्बर 2019
दुनिया में बहुत सी अजीबोगरीब बातों के बारे में आपने सुना होगा लेकिन समय के साथ-साथ कुछ ऐसी खबरें सामने आती हैं जिनके बारे में जानना सच में हैरान कर देता है। मच्छर को मारने के लिए आप आमतौर पर क्या करते हैं? गुडनाइट क्वाइल जलाते होंगे, या कोई नई तकनीक का इस्तेमाल करते होंगे। मगर सच्चाई ये है कि कुछ लो
18 नवम्बर 2019
25 नवम्बर 2019
छोटे पर्दे का सबसे पॉपुलर रिएलिटी और भड़काऊ शो 'बिग बॉस' का 13वां सीजन अपने आखिरी पड़ाव पर चल रहा है। इसमें एक से बढ़कर एक कंटेस्टेंट्स अपनी धाक जमाकर रखे हैं और दमदार कंटेस्टेंट्स में हिंदुस्तानी भाऊ भी शामिल हैं। इस घर में लड़ाई-झगड़े बहुत होते हैं और इसके कारण ही ब
25 नवम्बर 2019
18 नवम्बर 2019
दुनिया में बहुत सी अजीबोगरीब बातों के बारे में आपने सुना होगा लेकिन समय के साथ-साथ कुछ ऐसी खबरें सामने आती हैं जिनके बारे में जानना सच में हैरान कर देता है। मच्छर को मारने के लिए आप आमतौर पर क्या करते हैं? गुडनाइट क्वाइल जलाते होंगे, या कोई नई तकनीक का इस्तेमाल करते होंगे। मगर सच्चाई ये है कि कुछ लो
18 नवम्बर 2019
22 नवम्बर 2019
पिछले दिनों सोशल मीडिया पर रानू मंडल का मेकअप काफी वायरल हुआ था और इस मेकअप के बाद उन्हें इतनी बुरी तरह से ट्रोल किया गया कि ट्विटर पर सिर्फ वे सबसे ज्यादा ट्रेंड करने लगीं। रानू मंडल बॉलीवुड की उभरती सिंगर हैं लेकिन गानों से ज्यादा वे अपने किसी ना किसी लुक के कारण सुर्खियां बटोरती हैं। अब सोशल मीडि
22 नवम्बर 2019
19 नवम्बर 2019
1 अक्टूबर को पूरे देश में ट्रैफिक रूल बदल गया और इसपर पूरे देश में एक सख्त कानून बन गया है जिसे हर किसी को फॉलो करना पड़ रहा है। जुर्माना ज्यादा होने के कारण लोग अपनी सेफ्टी का खास ख्याल रख रहे हैं। हर कोई हेलमेट में घूम रहा है और हर कोई अपने सभी दस्तावेज कंपलीट रखे हैं। पिछले दिनों ANI ने ट्विटर पर
19 नवम्बर 2019
19 नवम्बर 2019
कुछ दिन पहले हमने आपको बताया था कि भारत की प्रतिष्ठित कंपनी 'पतंजलि' एक मल्टी नेशनल कंपनी होने की बात सामने आ रही है। इस बारे में पतंजलि के CEO ने बालकृष्ण ने मीडिया को इस बारे में जानकारी दी। अब बाबा रामदेव का स्टेटमेंट सामने आ रहा है कि ये कंपनी MNCs क्यों हो रही है। इसके अलावा कांग्रेस ने इस बारे
19 नवम्बर 2019
21 नवम्बर 2019
साल 2014 से मोदी सरकार ने की सारी योजनाएं देश के हित में लेकर आए हैं लेकिन कुछ चीजें ऐसी इनकी सरकार में हो रही है जिससे ज्यादातर लोगों को सिर्फ परेशानी ही हो रही है। अब कारपोरेट सेक्टर से खबरें आ रही हैं कि मोदी सरकार कुछ कंपनियों को बेचने की तैयारी में है क्योंकि इसस
21 नवम्बर 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x