कृति की तरह बनें महाराष्ट्रीयन ब्राईड

14 दिसम्बर 2019   |  शिल्पा रोंघे   (530 बार पढ़ा जा चुका है)

कृति की तरह बनें महाराष्ट्रीयन ब्राईड

पानीपत के लिए कृति सेनन ने मराठी स्टाईल अपनाया है, इस फिल्म में वो दुल्हन के रुप में भी नज़र आई है।इस फिल्म से पहले बाजीराव मस्तानी में प्रियंका चोपड़ा और मनीकर्णिका में कंगना ने झांसी की रानी में रॉयल ब्राईड लुक अपनाया था। जिसकी काफी तारीफ हुई थी। अब कृति की खूबसूरती में चार चांद लग गए है।

पूरा लेख पढ़ने के लिए आगे दी गई लिंक पर क्लिक करे- कृति की तरह बनें महाराष्ट्रीयन ब्राईड



https://silverscreenshilpa.blogspot.com/2019/12/blog-post.html

कृति की तरह बनें महाराष्ट्रीयन ब्राईड

अगला लेख: अभिव्यक्ति की आजादी का अर्थ ये तो नहीं......



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
02 दिसम्बर 2019
इंटरनेट सेंसेशन बनी सिंगर रानू मंडल को लेकर जितनी तेज से उनका गाना वायरल होता है उतनी ही तेजी से उनके मीम्स भी बन जाते हैं। रानू मंडल गाने गाएं या नहीं गाएं लेकिन उनके बारे में खबरें तेजी से वायरल होने लगती हैं। पिछले दिनों उनका एक और वीडियो सामने आया जिसमें उनके साथ पत्रकार बरखा दत्त नजर आ रही हैं
02 दिसम्बर 2019
11 दिसम्बर 2019
हर इंसान के जीवन में शादी बहुत अहम फैसला होती है तभी इसे करने से पहले लोग बहुत सोचते हैं क्योंकि इंसान अपने जीवन में शादी एक बार ही करता है। अगर ये शादी हमेशा चल गई और इंसान खुशी के साथ इसे बिताने लगे तो बस उसकी सारी परेशानी दूर हो जाती है लेकिन अगर ऐसा नहीं हो पाता तो हमेशा के लिए उन्हें भोगना पड़त
11 दिसम्बर 2019
18 दिसम्बर 2019
<!--[if gte mso 9]><xml> <w:WordDocument> <w:View>Normal</w:View> <w:Zoom>0</w:Zoom> <w:TrackMoves/> <w:TrackFormatting/> <w:PunctuationKerning/> <w:ValidateAgainstSchemas/> <w:SaveIfXMLInvalid>false</w:SaveIfXMLInvalid> <w:IgnoreMixedContent>false</w:IgnoreMixedC
18 दिसम्बर 2019
03 दिसम्बर 2019
चा
ना कोई फ़ीस लगती है ना कोईसिफारिश लगती है.चाटुकारिता की शिक्षा बिल्कुल मुफ़्त में मिलती है.शिल्पा रोंघे
03 दिसम्बर 2019
08 दिसम्बर 2019
मी
भेजा था विष का प्याला अमृत बन गया। भेजा था विषैला सांपफूलों का हार बन गया। तेरी ही करामात है ये मोहनकि कलियुग में भी जी रही हूं। बिना डरे तेरी भक्ति के गीतगा रही हूं। शिल्पा रोंघे
08 दिसम्बर 2019
17 दिसम्बर 2019
हर बार सच्चाई की सफाई देना जरुरी नहीं.कभी कभी सही वक्त सब कुछसाफ कर देता हैअपने आप ही.सूरज को ढकनेकी कोशिश करता हैबादल हर कभी, लेकिन उसे रोशनी देनेसे रोक सका हैक्या वो कभी.शिल्पा रोंघे
17 दिसम्बर 2019
02 दिसम्बर 2019
सो
खुश है कुछ लोगइंस्टाग्राम, फ़ेसबुक, और ट्विटरपर अपनी फ़ैन फॉलोइंग को गिनकर.अपनी निज़ी जिंदगी को सार्वजनिककर.मगर भूल जाते है इस वर्चुअल दुनियामें खोकर उस पड़ोस को जो सबसेपहले पूछते है उनका हाल चाल.वो स्कूल कॉलेज और दफ़्तर केदोस्त जो बिना बताएं ही जान लेते हैदिल की बात.उंगल
02 दिसम्बर 2019
06 दिसम्बर 2019
<!--[if gte mso 9]><xml> <w:WordDocument> <w:View>Normal</w:View> <w:Zoom>0</w
06 दिसम्बर 2019
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x