दक्खिन का दर्द

23 दिसम्बर 2019   |   संजय चाणक्य   (5048 बार पढ़ा जा चुका है)

संजय चाणक्य

" तेरा मिजाज तो अनपढ़ के हाथों का खत है!

नजर तो आता है मतलब कहां निकलता है!!’

मेरी नानी बचपन में कहती थी कि दक्खिन की ओर मुह करके खाना मत खाओं,दक्खिन की ओर पांव करके मत सोओं। गांव में बड़े-बुजुर्ग कहते थे कि गांव के दक्खिन टोला में मत जाना। हमेशा सोचता था आखिर इस दक्खिन में है क्या! बचपन से इस दक्खिन की रहस्य को ढूढ़ता रहा। जब बड़ा हुआ पढ़ा-लिखा, समाजिक कार्यो में रूचि बढ़ी, पत्रकारिता के क्षेत्र मे आया, लोगों से मिलना-जुलना शुरू हुआ और बुद्विजीवी के सम्पर्क में आया तो पता चला कि हर गांव के दक्खिन में दलित बस्ती है। हर घर के दक्खिन में औरत है, दुनिया के दक्खिन में एशिया,अफ्रीका और लातीनी अमेरिका है। एशिया का दक्षिणी भाग दुनिया का सबसे ज्यादा गरीबों वाला क्षेत्र है। महाराष्ट के मराठवाड़ा क्षेत्र के दक्खिन टोले में बाबा भीमराव अम्बेडकर पैदा हुए। उनसे पहले ज्योति राव फूले भी उसी इलाके मे अपनी पत्नी सावित्री बाफूले के साथ जाति व्यवस्था और पितृसत्ता को तोड़ने का कार्य किये। इससे ब्राह्राणवाद व पितृसत्ता को जो संकट मराठवाड़ा में खड़ा हुआ उससे उसी इलाके में एक ब्राह्राण राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की स्थापना की।

‘‘ जिनके दिल में दर्द है दुनिया का

वही दुनिया में जिन्दा रहेते है !!

जो मिटाते है खुद को जीते-जी !

वही मरकर जिन्दा रहते हो !!’

Poverty-India


बेशक ! बसपा सुप्रिमो मैडम माया बाबा साहब को आगे कर दक्खिन टोला के कल्याण के नाम पर अपनी सियासत तो चटका ली किन्तु बाद में मनु को आदर्श मानने वालो से हाथ मिलाकर सत्ता पर ऐसे विराजमान हुई कि दक्खिन टोला का उत्थान धरी की धरी रह गई। दक्खिन टोला में दलितों में नवबाभन पैदा हो रहे है। दूसरी तरफ एक दिलचस्प तथ्य यह है कि दुनिया के दक्खिन में बसे लातिनी अमेरिका,अफ्रीका,एशिया का भी भूबाजारीकरण व उसके हथियार जी-8,आईएमएफ विश्व बैंक, विश्व व्यापार संगठन शोषण कर रहे है। भूबाजारीकरण का कलेक्टर बना बैठा संयुक्त राष्ट्र अमेरिका जो दक्खिन टोले का अस्तित्व मिटाने के फिराक में गिद्ध दृष्टि जमाये मौके की तलाश मे बैठा है। अमेरिका अगर आतंकवाद पर हमारा समर्थन करने की बात करता है तो इससे पता चलता है कि घर के दक्खिन में औरत,गांव के दक्खिन में दलित बस्ती व दुनिया के दक्खिन मं बसे देशों का भूबाजारीकरण की नव उपनिवेशवादी ताकतो द्वारा शोषण के बीच चोली-दामन का रिश्ता है। इसको पूरे परिदृश्य में रखकर जब तक घर के दक्खिन (औरत) गांव के दक्खिन टोला (दलित) की लड़ाई लड़ने वाले लोग अपनी नीति व रणनीति नही बनायेगे, तब तक बसपा की राजनीति हो या समाजिक संगठनों का आन्दोलन, दलितो की लड़ाई को भटकाने वाली होगी। जिसका अखिरी परिणाम होगा पूरे अभियान व पहल का चाटुकार हो जाना। इस लिए दक्खिन के दर्द को समझिए, तभी मानवता बचेगी और भूबाजारीकरण की जगह समता मूलक समाज की स्थापना होगी। जहां,जाति,रंग,लिंग के नाम पर कोई भेद-भाव और शोषण नही होगा।

‘‘ सिमटे बैठे हो बुजदिलो की तरह!

आओ मैदान में महारथियों की तरह!!’’

अगला लेख: श्रीराम के बासी नदी को एक भागीरथ की दरकार



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
28 दिसम्बर 2019
🔴 तिलमिलाए शिक्षक ने दी डीआईओएस को जान से मारने की धमकी, मुकदमा दर्ज🔴 अपनी नौकरी हाथ से जाते देख शिक्षक अपने पुत्र के साथ डीआईओएस कार्यालय पहुंचकर किया हंगामा, दी धमकी🔴 डीएम से मिलकर डीआईओएस ने शिकायत, डीएस के निर्देश पर डीआईओएस ने शिक्षक और पुत्र पर कराया मुकदमा दर्ज🔵 संजय चाणक्य कुशीनगर। जिले
28 दिसम्बर 2019
16 दिसम्बर 2019
"मा मुझे आपकी याद सताती है, मेरे पास आ जाओं ! थक गया हू मुझे अपनें आंचल में छुपा लो !! हाथ अपना फेरकर मेरे बालों में ! एक बार फिर से बचपन की लोरिया सुना दो !!’’ 27 जून बहुतेरो के लिए महज एक तारीख है। तमाम भाई-बन्धुओ के लिए यह तारीख खुशियों से भरा यादगार दिन है, इतिहास रचने वा
16 दिसम्बर 2019
28 दिसम्बर 2019
🔴 तिलमिलाए शिक्षक ने दी डीआईओएस को जान से मारने की धमकी, मुकदमा दर्ज🔴 अपनी नौकरी हाथ से जाते देख शिक्षक अपने पुत्र के साथ डीआईओएस कार्यालय पहुंचकर किया हंगामा, दी धमकी🔴 डीएम से मिलकर डीआईओएस ने शिकायत, डीएस के निर्देश पर डीआईओएस ने शिक्षक और पुत्र पर कराया मुकदमा दर्ज🔵 संजय चाणक्य कुशीनगर। जिले
28 दिसम्बर 2019
15 दिसम्बर 2019
" बचाकर रखना बासी को जरूरत कल भी बहुत होगी।यकीनन आने वाली पीढ़ी इतनी पाक भी नही होगी।।" भगवान राम के इच्छा से नारायणी से निकलकर कुशीनगर जनपद के विभिन्न श्रेत्रो से होकर तकरीबन साठ किलो मीटर की यात्रा तय करने के बाद पुन: नारायणी से समाहित हो जाने वाली "बासी नदी "अपने अस्तित्व बचाने के लिए संघर्षरत है
15 दिसम्बर 2019
16 दिसम्बर 2019
"मा मुझे आपकी याद सताती है, मेरे पास आ जाओं ! थक गया हू मुझे अपनें आंचल में छुपा लो !! हाथ अपना फेरकर मेरे बालों में ! एक बार फिर से बचपन की लोरिया सुना दो !!’’ 27 जून बहुतेरो के लिए महज एक तारीख है। तमाम भाई-बन्धुओ के लिए यह तारीख खुशियों से भरा यादगार दिन है, इतिहास रचने वा
16 दिसम्बर 2019
12 दिसम्बर 2019
बॉलीवुड एक्ट्रेस के साथ किसी की भी लिंकअप की खबरें आती रहती हैं लेकिन इससे उन्हे कोई फर्क नहीं पड़ता और वे अक्सर अपनी तस्वीरें एक नए इंसान के साथ शेयर करती रहती हैं। उन्हीं अभिनेत्रियों में एक जैकलीन फर्नाडिज भी हैं जो बॉलीवुड की बोल्ड एक्ट्रेस हैं। जैकलीन एक श्रीलंकन
12 दिसम्बर 2019
15 दिसम्बर 2019
" बचाकर रखना बासी को जरूरत कल भी बहुत होगी।यकीनन आने वाली पीढ़ी इतनी पाक भी नही होगी।।" भगवान राम के इच्छा से नारायणी से निकलकर कुशीनगर जनपद के विभिन्न श्रेत्रो से होकर तकरीबन साठ किलो मीटर की यात्रा तय करने के बाद पुन: नारायणी से समाहित हो जाने वाली "बासी नदी "अपने अस्तित्व बचाने के लिए संघर्षरत है
15 दिसम्बर 2019
15 दिसम्बर 2019
यहा आस्था है, विश्वास है। प्रेम है सदभाव है।यहा हर नाउम्मीदो की उम्मीद है। यहा न कोई बडा है न कोई छोटा । न कोई ब्राह्मण है न कोई छुद्र। यहा ‘ ‘ ‘ राजा हो या रंक ‘ सभी एक समान है।क्योंकि यहां साक्षात देवाधिदेव महादेव बास करते है। यहा सच्चे मन से मागी गई हर मुरादे महादेव की कृपा से पूरी होती है। ऐसी
15 दिसम्बर 2019
26 दिसम्बर 2019
🔴 पूर्व प्रधानमंत्री अटलजी के 95 वी जयंती पर लोकभवन मे प्रतिमा अनावरण के दौरान मौजूद रहे गृहमंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, राज्यपाल आनंदीबेन, सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ व पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी🔴 89 लाख रुपये की लागत से निर्मित 5 हजार किलो के वजन से अष्टधातु की बनी स्व
26 दिसम्बर 2019
14 दिसम्बर 2019
"वक्त लिख रहा कहानी इक नए मजमून की !जिसकी सुर्खियों को जरूरत है हमारे खून की !!"अगर हम आपसे कहे कि आजाद हिन्दुस्तान के दो नाम है पहला गरीब भारत और दुसरा रिच इण्डिया तो शायद आप मुझे सिरफिरा कहेगें। या फिर अवसादग्रस्त । हो सकता है आप अपनी जगह पर सही हो। क्याोंकि आप वही
14 दिसम्बर 2019
13 दिसम्बर 2019
अगर आप मिडिल क्लास फैमिली से हैं तो जब घर में कोई सामान या कपड़े लेने की बातें होती हैं तो एक बात अक्सर सुनने को मिलती है। वो ये कि ये सामान जहां से आपने लिया है वो इस जगह से लेती तो आपको 100-200 रुपये कम में ही मिल जाता। ज्यादातर लोग यही सोचते हैं कि सामान कहां से लें कि सस्ता मिल जाए लेकिन सही जान
13 दिसम्बर 2019
26 दिसम्बर 2019
🔴 पूर्व प्रधानमंत्री अटलजी के 95 वी जयंती पर लोकभवन मे प्रतिमा अनावरण के दौरान मौजूद रहे गृहमंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, राज्यपाल आनंदीबेन, सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ व पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी🔴 89 लाख रुपये की लागत से निर्मित 5 हजार किलो के वजन से अष्टधातु की बनी स्व
26 दिसम्बर 2019
15 दिसम्बर 2019
" बचाकर रखना बासी को जरूरत कल भी बहुत होगी।यकीनन आने वाली पीढ़ी इतनी पाक भी नही होगी।।" भगवान राम के इच्छा से नारायणी से निकलकर कुशीनगर जनपद के विभिन्न श्रेत्रो से होकर तकरीबन साठ किलो मीटर की यात्रा तय करने के बाद पुन: नारायणी से समाहित हो जाने वाली "बासी नदी "अपने अस्तित्व बचाने के लिए संघर्षरत है
15 दिसम्बर 2019
14 दिसम्बर 2019
"वक्त लिख रहा कहानी इक नए मजमून की !जिसकी सुर्खियों को जरूरत है हमारे खून की !!"अगर हम आपसे कहे कि आजाद हिन्दुस्तान के दो नाम है पहला गरीब भारत और दुसरा रिच इण्डिया तो शायद आप मुझे सिरफिरा कहेगें। या फिर अवसादग्रस्त । हो सकता है आप अपनी जगह पर सही हो। क्याोंकि आप वही
14 दिसम्बर 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x