चलो थोड़ा घूमने चलें - २, कल से आगे

11 जनवरी 2020   |  डॉ पूर्णिमा शर्मा   (368 बार पढ़ा जा चुका है)

चलो थोड़ा घूमने चलें - २,  कल से आगे

डॉ दिनेश शर्मा का यात्रा वृत्तान्त कल से आगे...

चलो थोड़ा घूमने चलें - 2 कल से आगे - दिनेश डॉक्टर

मानहाइम आकर चला गया । कुछ लोग उतरे कुछ चढ़े । आजकल बिना किसी अपवाद के हर देश शहर में सब लोग अपने मोबाइल में ही मस्त रहते हैं । ट्रेन पर समस्त उद्घोषणा तीन भाषाओं में बारी बारी से होती है । पहले फ्रेंच फिर जर्मन और सबसे अंत में अंग्रेजी में । ट्रेन मिनट मिनट के हिसाब से एकदम सटीक समय पर चल रही है। रास्ते में सारे स्टेशन चमकते साफ सुथरे और एकदम व्यवस्थित हैं । गंदगी कूड़े का तो कहीं नाम निशान भी नहीं । न ट्रेन के अंदर न ही बाहर । अब ट्रेन की बांयी तरफ चोंडे पाट वाली एक नदी भी साथ साथ है । शायद राइन नदी है। रेलवे ट्रैक के दोनों तरफ भी न कोई कूड़ा है और न ही प्लास्टिक की पन्नियां जैसे कि हमारे देश में आम नज़ारा है ।

ट्रेन अब जर्मनी में है । जहां एक तरफ फ्रांस में हर छोटी बड़ी चीज में, चाहे स्टेशन हो या गाड़ियाँ, रेस्टोरेंट हो या फल सब्ज़ी की दुकानें, उत्कृष्ट कलात्मक अभिरुचि झलकती है, वहीं जर्मनी में हर जगह एक उत्कृष्ट डिसिप्लिन्ड व्यवस्था दिखाई पड़ती है । सड़कें हो या स्टेशन, घर मुहल्ले हों या बाजार, घास के मैदान हो या खेत हर जगह व्यवस्थित जर्मन मस्तिष्क की परिकल्पना आपको प्रभावित करेगी ही करेगी ।

रास्ते में अभी भी कुछेक जगह द्वितीय विश्वयुद्ध के अवशेष स्टेशन्स के आस पास की इमारतों में दिख ही जाते हैं इतने बरसों बाद भी ।

स्मार्ट फोन के एडिक्शन को भले ही कितना भी कोस लो, इसके फायदे तो बहुत हैं । अब देखो न ये सारा किस्सा मैंने अपने स्मार्ट फोन पर ही लिखा । अगर फोन नहीं होता तो इतनी स्पीड पर चलती ट्रेन में हाथ कांपता और लिखना संभव ही न हो पाता । जय हो टेक्नोलॉजी की ।

अभी फ्रेंकफर्ट मुख्य स्टेशन से ट्रेन बदली है वीसबादन मुख्य स्टेशन के लिए । संस्कृत के शब्द वाहन से जर्मन का शब्द बाहन होफ बना है जिसके अर्थ है वाहनों के रुकने का स्टेशन यानी स्थान । इसी प्रकार संस्कृत के शब्द आगार से फ्रेंच शब्द गार यानी के वाहनों के रुकने का स्थान बना है । यथा गार डी लियों यानी के लियों का स्टेशन । गार डी ईस्ट यानी के पूर्व का स्टेशन । अभी मेरा गंतव्य है वीसबादन हबत बाहन होफ यानी के वीसबादन शहर का मुख्य वाहन स्टेशन । अभी कुछ ही महीने पहले मेरे भतीजे डॉ विकास शर्मा जी, जिन्हें सब स्नेह से रिंकू कहते है और जो अत्यंत लब्ध प्रतिष्ठित मनोरोग चिकित्सक और वैज्ञानिक है, बंगलोर से सपरिवार जर्मनी के इस शहर में आकर बसे है किसी महत्वपूर्ण संस्थान में ऊंचे पद पर । बहुत समय से उनसे और उनके परिवार से मिलने का बड़ा मन था । यूरोप किसी काम से आया था - वक़्त मिलते ही निकल पड़ा उनके साथ वीकेंड मनाने ।

जिस जर्मन डिसिप्लिन और उत्कृष्ट व्यवस्था का मैं कायल हूँ उसका सबसे कमाल का नज़ारा जर्मनी के स्टेशनों, बस अड्डों और हवाई अड्डों पर होता है । हर अनुदेश, डायरेक्शन इतना स्पष्ट है कि दूसरे देश से आये किसी व्यक्ति को भले ही जर्मन भाषा न भी आती हो, ट्रेन बदलने में, गंतव्य तक पहुंचने में कोई भी परेशानी हो ही नहीं सकती । मेरे ट्रेन बदलने का अंतराल मात्र दस मिनट का था । भारत में होता तो संभव ही नहीं था कि दूसरी ट्रेन मिल जाती क्योंकि ट्रेन के बीस पचीस मिनट से लेकर सात आठ घंटे लेट पहुंचना आम बात है । पर पेरिस से पहुंचने वाली ट्रेन ठीक टाइम पर फ्रेंकफर्ट पहुंची । तुरंत प्लेटफॉर्म चेंज किया तो जो ट्रेन पकडनी थी उससे भी सात मिनट पहले जो ट्रेन वीसबादन के लिए छूटती थी, वो ही मिल गयी ।

https://shabd.in/post/111661/-2-2901562

अगला लेख: शनि का मकर में गोचर



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
20 जनवरी 2020
वृश्चिक तथा धनु राशि के जातकों के लिए शनि का मकर में गोचरमाघ मास की अमावस्या को यानी शुक्रवार 24 जनवरी 2020 को दिन में नौ बजकर अट्ठावन मिनट के लगभग अनुशासन और न्याय का कारक मानाजाने वाला ग्रह शनि तीन वर्षों से भी कुछ अधिक समय गुरु की धनु राशि में व्यतीतकरके चतुष्पद करण और वज्र योग में उत्तराषाढ़ नक्ष
20 जनवरी 2020
04 जनवरी 2020
आज मे आपको कुछ ऐसे हिल स्टेशन के बारे में बताना चाहता हू जहा आपको जरूर जाना चाहये | उत्तराखंड भारत का एक खूबसूरत राज्य हैं और इसकी राजधानी देहरादून हैं। उत्तराखंड देवभूमि या देवों की भूमि के रूप में भी प्रसिद्ध हैं इसलिए यहाँ का नजारा आपका मन मोह लेन
04 जनवरी 2020
09 जनवरी 2020
शुक्र का कुम्भ राशि में गोचर आज पौष शुक्लचतुर्दशी को सूर्योदय से पूर्व चार बजकर तेईस मिनट के लगभग गर करण और ब्रह्म योगमें समस्त सांसारिक सुख, समृद्धि, विवाह, परिवार सुख, कला, शिल्प,सौन्दर्य, बौद्धिकता, राजनीतितथा समाज में मान प्रतिष्ठा में वृद्धि आदि का कारक शुक्र अपने परम मित्र शनि कीएक राशि मकर से
09 जनवरी 2020
06 जनवरी 2020
शनि का मकर में गोचरमाघ मास की अमावस्या को यानी शुक्रवार 24 जनवरी 2020 को दिन में नौ बजकर अट्ठावन मिनट के लगभग अनुशासन और न्याय का कारक मानाजाने वाला ग्रह शनि तीन वर्षों से भी कुछ अधिक समय गुरु की धनु राशि में व्यतीतकरके चतुष्पद करण और वज्र योग में उत्तराषाढ़ नक्षत्र पर रहते हुए ही अपनी स्वयं कीराशि म
06 जनवरी 2020
07 जनवरी 2020
पुरुषोत्तम मास अथवा अधिक मास आज एक मित्र नेमल मास यानी अधिक मास के सन्दर्भ में कुछ वैज्ञानिक तथ्य प्रस्तुत किये, जिनमें प्रमुख है किउनका मानना है कि सूर्य जब धनु या मीन राशि में आता है तब मल मास या खर मास कहलाताहै | तो इस प्रकार तो हर वर्ष मल मास होना चाहिए क्योंकि इन दोनों ही राशियों मेंसूर्य का गो
07 जनवरी 2020
06 जनवरी 2020
मानव सेवा ही वास्तविक माधव सेवाआज किन्हीं मित्र ने प्रश्न किया कि मूर्तियों की प्राण प्रतिष्ठा क्यों कीजाती है | तो सबसे पहले तो इस शब्द में ही इसका उत्तर निहित है – प्राणों कीप्रतिष्ठा – प्राण फूँकना | कोई भी मूर्ति यदि किसी मन्दिर में रखी जाती है तो उससमय उसकी विधिवत पूजा की जाती है - जो प्राण प्र
06 जनवरी 2020
16 जनवरी 2020
कन्या और तुला राशि के जातकों के लिए शनि का मकर में गोचरकल के लेख में शनि के मकर राशि में गोचर के सिंह राशि के जातकों परसम्भावित प्रभावों के विषय में चर्चा की थी, आज कन्या और तुला राशि के जातकों परशनि के मकर में गोचर के सम्भावित प्रभावों पर संक्षेप में दृष्टिपात... किन्तु ध्यान रहे, ये सभी परिणाम साम
16 जनवरी 2020
05 जनवरी 2020
6 से 12 जनवरी2020 तक का सम्भावित साप्ताहिकराशिफलनीचे दिया राशिफल चन्द्रमा की राशि परआधारित है और आवश्यक नहीं कि हर किसी के लिए सही ही हो – क्योंकि लगभग सवा दो दिनचन्द्रमा एक राशि में रहता है और उस सवा दो दिनों की अवधि में न जाने कितने लोगोंका जन्म होता है | साथ ही ये फलकथन केवलग्रहों के तात्कालिक गो
05 जनवरी 2020
10 जनवरी 2020
डॉ दिनेश शर्मा के यात्रा वृत्तान्त कीएक झलक... बातों ही बातों में एक युग का पूरा एक सफ़र तय करा दिया... बहुतसुन्दर...चलो थोड़ा घूमने चलें -दिनेश डॉक्टर उन्नीस बरस पहले अक्टूबर 1998 में यही वक्त रहा होगा जब उस दिन फिलिप मुझे पेरिस में गार द ईस्ट स्टेशनपर सुबह सुबह छोड़ने आया था । तब भी मैं पेरिस से फ्रे
10 जनवरी 2020
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x