अभिव्यक्ति की स्वतन्त्रता? दंगा धरना प्रदर्शन ,सड़क बंद मैनेजमेंट गुरुओं की कारस्तानी का एक नमूना शाहीन बाग़

28 जनवरी 2020   |  शोभा भारद्वाज   (6214 बार पढ़ा जा चुका है)

अभिव्यक्ति की स्वतन्त्रता?  दंगा धरना प्रदर्शन ,सड़क बंद  मैनेजमेंट गुरुओं की कारस्तानी का एक नमूना शाहीन बाग़

अभिव्यक्ति की स्वतन्त्रता ? दंगा ,धरना प्रदर्शन सड़क बंद मैनेजमेंट गुरुओं की कारस्तानी का एक नमूना शाहीन बाग़

डॉ शोभा भारद्वाज

देश विरोधी नारे , गांधी जी ,अम्बेडकर के चित्र संविधान की कापी दिखाते ,कभी -कभी राष्ट्रीय गान का ड्रामा सब भारत के गौरव तिरंगे की आड़ में ? स्वतंत्र भारत में आजादी आजादी के नारे ,कैसी आजादी ? शाहीन बाग़ में महत्व पूर्ण मार्ग को रोक कर ( और भी विभिन्न शहरों में )मुस्लिम महिलायें अपने बच्चों के साथ धरने पर बैठी हैं सब एक सी बोली बोल रहीं हैं सीएए ,एनआरसी लागू होने नहीं देंगे बच्चे उनसे भी आगे हैं अभी उनकी पढ़ने खेलने की उम्र है वह ऐसे डायलाग बोलते हैं दुःख होता हैं माता पिता को समझ नहीं आ रहा किसी कट्टरपंथी संघठन की उनपर नजर पड़ गयी उनको फिदायीन बनाते देर नहीं लगेगी ,बचपन में जहर के बीज रोप जा रहे है |बार –बार सरकार समझा रही हैं संविधान संशोधन कानून किसी की नागरिकता लेने की लिए नहीं है उन अभागे हिन्दू , सिख ,ईसाई , बौद्ध ,जैन एवं ईसाई गैर इस्लामिक समुदाय को नागरिकता देने के लिए संसद द्वारा पास किया गया कानून है जिन्हें अफगानिस्तान से तालिबानों ने निकाल दिया था, बंगला देश एवं पाकिस्तान में उनकी कम उम्र की बेटियाँ आये दिन उठा कर उनका धर्म परिवर्तन करा किसी मुस्लिम से निकाह पढ़वा दिए जा रहे है कभी कम उम्र की बच्ची अधेड़ को निकाह के नाम पर सौंप दी जाती है कुछ बलात्कार का शिकार होती हैं ,उनका धर्म (मन्दिर गुरूद्वारे तोड़े जा रहे हैं ),घर द्वार ,सम्पत्ति ,कुछ भी सुरक्षित नहीं है कितना बड़ा संताप है उनका नामकरण काफिर है उनकी जनसंख्या रोज घट रही है पाकिस्तान में न दाद न फरियाद ‘

वह वैधरूप से भारत आ गये और कहाँ जाते शरणागत हैं ?भारत के बटवारे की देन धर्म के आधार पर बना पाकिस्तान था | शरीयत के नाम पर तलाक –ऐ-बिद्द्त अर्थात तीन तलाक दुखद था लेकिन मुस्लिम महिलायें बोल नहीं सकती थीं चैनलों में होने वाली बहसों में सिर झुका कहती थीं हम शरीयत के नियमों का पालन करेंगीं |कुछ समाज की जागरूक महिलाओं ने आवाज उठाई देश के हर वर्ग की महिलाओं ने कुप्रथा के विरुद्ध उठ खड़ी हुई | समाज में ऐसा माहौल बना जिससे सुप्रीम कोर्ट ने तीन तलाक प्रथा को कानूनी अपराध घोषित किया हलाला की कुप्रथा थम गयी अब बारी बहुविवाह के विरुद्ध आवाज उठाने की थी उन्हें समझाया जा रहा है देश से मुस्लिम समुदाय को निकालने के लिए सीएए और ऍनआरसी लाया जा रहा है उन्हें सरकार की बात समझ नहीं आ रही लेकिन भय का माहौल पैदा करने की बात आसानी से समझ आ रही हैं |

भारत के मुस्लिम समाज ने पाकिस्तान एवं बंगलादेश में गैर इस्लामिक समुदाय पर होने वाले जुल्मों के खिलाफ आवाज नहीं उठाई जबकि विश्व में मुस्लिम समाज की हर परेशानी पर भारत का मुस्लिम समाज जोर शोर से विरोध करता है जलूस निकाल कर सरकार पर भी दबाब डाला जाता है, सरकार सकारात्मक कदम उठायें |काश मुस्लिम समाज की जागरूक महिलायें पाकिस्तान में होने वाले जुल्म के खिलाफ पाकिस्तान एम्बेसी के सामने प्रदर्शन करती धरना देकर अभागे समाज के लिए आवाज बनतीं सरकार द्वारा बनाये कानून का विरोध करने से पहले एक दो दिन या कभी –कभी बंगलादेश एवं पाकिस्तान के खिलाफ नारे लगाती |आजादी –आजादी के नारे कैसे नारे यही नारे बहुविवाह प्रथा , समाज में उनकी शिक्षा , उच्च शिक्षा ,नौकरी के अधिकार इस्लाम दहेज की इजाजत नहीं देता लेकिन जम कर दहेज लिया जाता है और भी अनेक कुरीतियाँ से आजादी के नारे लगते | दंगा मेनेजमेंट गुरुओं की कारस्तानी का नमूना कुछ महिलायें अर्थशास्त्र पढ़ा रहीं हैं देश में गरीबी और बेरोजगारी है पहले देश के नागरिकों की हालत सुधार लें क्या गैर इस्लामिकों पर जुल्म हो रहा है होनें दें उनकी संख्या कम से कमतर हो रही हैं हमें क्या ? उनकी बेटी रोटी पर संकट है मरने दो |

लेकिन सीएए से भारतीय मुस्लिम की नागरिकता जाने का प्रश्न नहीं उठाता न किसी प्रकार का उन्हें खतरा है मुस्लिम यह अच्छी तरह से जानते हैं सीएए का विरोध राजनीतिक दायरे से निकल कर संविधानिक , धार्मिक एवं सांस्कृतिक धरातल पर भी होने लगा है जबकि भारतीय सभ्यता में बहुरंगी विविधता एवं समृद्ध सांस्कृतिक विरासत शामिल है |भारत का संविधान लिखित है उसके किसी भी अनुच्छेद के परिवर्तन की निश्चित प्रक्रिया है | संविधान की रक्षा के लिए सर्वोच्च न्यायालय हैं सर्वोच्च न्यायालय एवं उच्च न्यायालय में जनहित याचिकायें दायर की जा सकती हैं |संविधान की विशेषता धर्मनिरपेक्षता एवं मौलिक अधिकार हैं जिनमें नागरिकों के हर वर्ग को अपनी संस्कृति, भाषा और लिपि का संरक्षण करने तथा अल्पसंख्यकों द्वारा पसन्द की शिक्षा ग्रहण करने एवं शिक्षण संस्थाओं की स्थापना करने उन्हें चलाने का अधिकार है मौलिक अधिकारों की रक्षा के लिए संवैधानिक उपचारों का अधिकार इसे संविधान का हृदय एवं आत्मा माना है | दुर्भाग्य से मस्लिम समाज को कुछ दलों ने अपना वोट बैंक समझा ‘वह बन भी गये है’ राजनीतिक दलों की कोशिश रहती है इनके वोट बैंक को अपने हक में एक मुश्त कर लें | राजनीतिक दलों की भाँति मुस्लिम नेता भी मुस्लिम समाज को हिंदुत्व का भय दिखा कर अपने लाभ के लिए मुस्लिम वोट बैंक को अपने हित में संगठित करने की कोशिश करते हुए की राजनीति में अपना कद ऊँचा करते हैं |हैदराबाद के ओबीसी ,बंधू बड़े भाई असद्दुदीन ओबेसी इंग्लैंड से वकालत पढ़ कर आये हैं वकीलों जैसी भाषा बोलते हुए संविधान की दुहाई देते हैं छोटा भाई अकबरुद्दीन चोट पर चोट करते हुए भीड़ की तलियां बटोरते हैं | अब तो ओबीसी बंधू पीछे रह गये ओंर भी नये नेता उठ खड़े हुए हैं शाहीन बाग़ के मंचों से जहरीले भाषणों में मुस्लिम राजनीति को नई दिशा दे रहे हैं देश के टुकड़े – टुकड़े करने का आह्वान करने के फार्मूले सुझा रहे हैं |

जरूरत मुस्लिम समाज की शिक्षा को बढ़ावा देने की है मिडिल ईस्ट में मुस्लिम समाज भयंकर गर्मी में काम करते हैं ठेकेदार उन्हें थोड़ी –थोड़ी देर में नमक चटा कर पानी पिला कर काम निकालते हैं | क्या वह शिक्षा प्राप्त कर ऊंचे पदों में काम नहीं कर सकते ‘सरकार द्वारा अल्पसंख्यक के शैक्षिक विकास के बजट की मद से मुस्लिम समाज कैसे लाभन्वित हो सके जबकि उनको अँधेरे में रखा गया है |नागरिकता संशोधन बिल के नाम पर विपक्ष मुस्लिम समाज को बरगलाकर अपनी खिसकी हुई राजनीतिक जमीन को पकड़ने की कोशिश की जा रही है शाहीन बाग़ में शुरू हुये स्थानीय विरोध को बढ़ा कर अपने हक में इस्तेमाल करने के हथकंडे देखे जा सकते हैं एक राजनेता ने तो मोदी जी के बचे कार्यकाल तक विरोध की सलाह दे डाली | बालीवुड के कुछ एक्टरों को भी सीएए के खिलाफ धरने प्रदर्शनों में अपनी पब्लिसिटी नजर आ रही हैं शायद शाहीन बाग़ का मंच उनके डूबते कैरियर को बचा ले| रोज नेताओं का आगमन उनके भाषण, राजनीतिक चाले बढ़ते एजेंडे नये नारे | अब तो नये कट्टरपंथी मुस्लिम जवानों के आगे वह भी फेल हो रहे हैं |

एक नारा जिन्ना वाली आजादी’ हंसी आती है पाकिस्तानी बुद्धिजीवी कायदे आजम जिन्ना द्वारा धर्म के आधार पर निर्मित पाकिस्तान के निर्माण पर ही प्रश्न उठा रहे हैं कहते थे भारत के बड़े बाजार एवं सस्ती मैन पावर पर विश्व की नजर है यहाँ निवेश करना लाभ का सौदा माना जाता है | हम बढ़ते आतंक की वजह से अपनी सीमा में सिमट रहे हैं ऊपर से सत्ता की और कदम बढ़ते आतंकियों के कदम अगर पार्टिशन नहीं हुआ होता हम भी बाजार का हिस्सा होते | शाहीन बाग़ एक अलग क्षेत्र बन गया है आने वाली फंडिंग से खाना पीना चाय दिहाड़ी जब तक चलती रहेगी सड़कें अभिव्यक्ति की आजादी के नाम पर बंद रहेंगी एक नया रोजगार खुल गया है |मुफ्त का खाना सडकें जाम

अभिव्यक्ति की स्वतन्त्रता?  दंगा धरना प्रदर्शन ,सड़क बंद  मैनेजमेंट गुरुओं की कारस्तानी का एक नमूना शाहीन बाग़

अगला लेख: आजादी आजादी किससे आजादी कैसी आजादी



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
01 फरवरी 2020
वोट बैंक बनने बनाने की कला डॉ शोभा भारद्वाज वोट कैसे लिए जाते हैंकुछ – कुछ समझ आने लगा विदेश में काफी वर्ष रहने के बाद स्वदेश लौटे पहली इच्छा थीवोट बनवा कर मताधिकार का प्रयोग किया जाये उन दिनों कश्मीरी गेट पर आफिस था यहीं जाकर फ़ार्मभर कर वोट बनते थे| अपनी छोटी बच्ची को गोद में लेकर पति पत्नी आफिस प
01 फरवरी 2020
21 जनवरी 2020
B
Top 10 Best Upcoming Smartphone In India 2020 In Hindi – Friends January 2020 Month में Top 10 Upcoming Smartphone Launch होने वालें है, यह smartphone latest features और processors के साथ launch होने वालें है, January 2020 से हम काफी कुछ expect कर सकतें है जिसमे हमें बहुत से latest खूबियाँ देखने को
21 जनवरी 2020
20 जनवरी 2020
वृश्चिक तथा धनु राशि के जातकों के लिए शनि का मकर में गोचरमाघ मास की अमावस्या को यानी शुक्रवार 24 जनवरी 2020 को दिन में नौ बजकर अट्ठावन मिनट के लगभग अनुशासन और न्याय का कारक मानाजाने वाला ग्रह शनि तीन वर्षों से भी कुछ अधिक समय गुरु की धनु राशि में व्यतीतकरके चतुष्पद करण और वज्र योग में उत्तराषाढ़ नक्ष
20 जनवरी 2020
05 फरवरी 2020
आजादी आजादी किससे आजादी कैसी आजादी ?डॉ शोभा भारद्वाज 15 अगस्त 1947 को आजाद भारत मेंतिरंगा फहराया गया था वतन आजाद हुआ था फिर आजादी के नारे क्यों ? इंकलाब ज़िंदाबादक्यों? कैसी आजादी चाहिए? क्या पड़ोसी देश चीन या पाकिस्तान जैसी? या 56 मुस्लिमदेशों जैसी वहाँ किसी को नागरि
05 फरवरी 2020
07 फरवरी 2020
चु
"चुनावी दंगल जीतने की साईंस समय के साथविकसित होती है डॉ शोभाभारद्वाजदिल्ली में चुनाव प्रचार का दौर थम गया अब मत पत्र पेटियों में पड़ने बाकी है इस चुनाव के मुख्यतया तीनदिग्गज हैं आप पार्टीं के मुख्यमंत्री पद का चेहरा केजरीवाल पांच वर्ष का सत्तासुख ले चुके हैं |बीस वर्ष
07 फरवरी 2020
30 जनवरी 2020
“हे राम” तीसजनवरी 1948की शाम राष्ट्रपितामहात्मा गांधी के अंतिम शब्द <!--[if !supportLineBreakNewLine]--><!--[endif]-->डॉ शोभाभारद्वाज<!--[if !supportLineBreakNewLine]--><!--[endif]-->संयुक्त भारत दोटुकड़ों में बार चुका था भारत एवं पश्चिमी ,पूर्वी पाकिस्तान (1971 में पाकिस्तानसे अलग बना बंगलादेश ) अफ़स
30 जनवरी 2020
24 जनवरी 2020
स्वर्गीयसुभाष चन्द्र बोस युवा शक्ति के प्रेरणा दायक नेता जी डॉ शोभाभारद्वाज सिंघापुर में मेरी बेटी का घर टाउन हाल के पास हैमैं टाउन हाल जाने के लिए उत्सुक थी बेटी मुझे दिखाने के लिये नन्हीं बेटी को लपेट कर हम टाउन हाल पहुंचेवहाँ वृद्ध चीनी इंचार्ज ने चश्में से हमें घूरते हुए क्लास ले ली बच्ची कित
24 जनवरी 2020
09 फरवरी 2020
आनन्द स्कौलरशिपडॉ शोभा भारद्वाज नौएडा नया नया बसा था छोटे बच्चों के लिए स्कूलों की जरूरत थी हमारे परिवार का प्राईमरी तक स्कूल था | एक नेपाली, गोरे चिट्टे नेपाली लड़के को साथ लाया आपको स्कूल में काम करने के लिए किसी की जरूरत होगी यह लड़का ढाबे में काम करता मझे मिला लेकिन वहाँ बहुत दुखी था अत : आपके
09 फरवरी 2020
16 जनवरी 2020
“अगर आप Cyber Security साइबर सुरक्षा में अपना Career बनाना चाहते है और How To Start Career In Cyber Security के बारें में खोज रहे है तब यह एक अच्छी खोज है. Cyber Security अपने आप में एक बहुत बड़ा क्षेत्र है. अकेले साइबर सुरक्षा में ही लगभग लाखों नौकरियां है, जिसे आप अपने Career के तौर पर चुन सकते है
16 जनवरी 2020
07 फरवरी 2020
मासिक-धर्म में पेट दर्द के कारण क्या हैं :- मासिक-धर्म में पेट दर्द,गर्भाशय के संकुचन के कारण होता है।यदि आपके महावारी के समय बहुत ज़ोर से पेट सिकुड़ता है, तो यह आपके पेट के आस-पास के रक्त वाहिकाओं को दबा देता है जिस वजह से गर्भाशय में ऑक्सीजन की कमी हो जाती है।ऑक्सीजन की कमी के कारण यह पेट दर्द और
07 फरवरी 2020
20 जनवरी 2020
ईरान ,अमेरिका के बिगड़ते रिश्ते (यूक्रेन एयरलाइंस का क्षतिग्रस्त विमान)डॉ शोभा भारद्वाजहम खुर्दिस्तान की राजधानी में रहते थे ईरान ईराक का युद्ध चल रहा था लेकिन इराक के बम वर्षक प्लेन कम ही आते थे हाँ शाम को सैर करते हुये यहाँ से निकलते दिखाई देते थे | एक दिन शाम के समय ईरान ईराक के एयर फ़ोर्स के दो
20 जनवरी 2020
16 जनवरी 2020
Friends क्या आप Youtube 4K Videos Download करना चाहते है, और क्या आप Facebook, Hotstar, Voot, Vimeo, Dailymotion, Twitter और Other Website से 4K Videos Download करना चाहते है, तो आप नीचे दिए गए Online Website, Android Apps और PC Software का use करके ऐसा आसानी से कर सकते है.इस post में हम आपको Youtub
16 जनवरी 2020
05 फरवरी 2020
आजादी आजादी किससे आजादी कैसी आजादी ?डॉ शोभा भारद्वाज 15 अगस्त 1947 को आजाद भारत मेंतिरंगा फहराया गया था वतन आजाद हुआ था फिर आजादी के नारे क्यों ? इंकलाब ज़िंदाबादक्यों? कैसी आजादी चाहिए? क्या पड़ोसी देश चीन या पाकिस्तान जैसी? या 56 मुस्लिमदेशों जैसी वहाँ किसी को नागरि
05 फरवरी 2020
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x