प्रेगनेंसी के समय आपके अच्छे खान-पान से होगी पैनिक अटैक की समस्या कम

17 फरवरी 2020   |  पूजा शर्मा   (373 बार पढ़ा जा चुका है)

यदि गर्भवती महिलाएं किसी कारण से अपने खान-पान का सही से ध्यान नहीं रख पाती।जिसके कारण महिलाओं के शरीर में पर्याप्त मात्रा में पोषण नहीं मिलता है।


पर्याप्त मात्रा में महिला को पोषण न मिल पाने की वजह से महिला का मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य सही नहीं रह पाता है।जिसके कारण महिला गर्भावस्था के समय बहुत ही अधिक तनाव में रहने लगती हैं और अधिक तनाव में होने के कारण महिलाओं को घबराहट की समस्या उत्पंन्न हो जाती है।ऐसी स्थित में यह बहुत ही जरुरी हो जाता है की आप अपने खान पान का पूरा ध्यान ख्याल रखे।प्रोटीन और विटामिन से भरपूर भोजन का सेवन करें। दाल, हरी सब्जियां, फलों आदि का सेवन जरुर करें।

योग और व्यायाम के द्वारा पैनिक अटैक से छुटकारा

घबराहट को कम करने के लिए सबसे अधिक आवश्यक है कि आप अपने मन को शांत रखें योग और व्यायाम की सहायता से हमारा शरीर स्वस्थ रहता है साथ ही साथ हमारा मन जो कई प्रकार के कारणों से विचलित होता है।ऐसी स्थिति में गर्भावस्था के समय व्यायाम या योग करने से भी महिला का मन शांत रहता है।हमेशा योग, प्राणायाम, व्यायाम करने से महिला का मन खुश रहता है और उसे महिला को पैनिक अटैक की समस्या नहीं होती है।

अधिक कैफीन के सेवन से पैनिक अटैक का खतरा बढ़ाता है

गर्भावस्था के समय अत्यधिक कैफीन का सेवन करने से महिला के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है।अत्यधिक कैफीन का सेवन करने से महिला को पैनिक अटैक का खतरा बढ़ जाता है और इस कारण बच्चे का स्वास्थ्य भी ख़राब हो जाता है।इसलिए एक महिला को प्रेगनेंसी के समय अपना और अपने बच्चे का बहुत ध्यान रखना चाहिए और पैनिक अटैक से बचाव के लिए कैफीन के सेवन से बचना चाहिए।



अगला लेख: गुदा सम्भोग से एसटीडी का खतरा



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
07 फरवरी 2020
मासिक-धर्म में पेट दर्द के कारण क्या हैं :- मासिक-धर्म में पेट दर्द,गर्भाशय के संकुचन के कारण होता है।यदि आपके महावारी के समय बहुत ज़ोर से पेट सिकुड़ता है, तो यह आपके पेट के आस-पास के रक्त वाहिकाओं को दबा देता है जिस वजह से गर्भाशय में ऑक्सीजन की कमी हो जाती है।ऑक्सीजन की कमी के कारण यह पेट दर्द और
07 फरवरी 2020
05 फरवरी 2020
🔴 संजय चाणक्यकुशीनगर। मुख्यमंत्री सामुहिक विवाह योजना के तहत सात फेरे लेने वाली कन्याओं के खाते मे भेजी जाने वाली करोड़ो रुपये जिला पंचायत द्वारा डकार लिए जाने का मामला प्रकाश मे आया है। । इतना ही नही जिला मुख्यालय पर संपन्न करायी गयी सामुहिक विवाह कार्यक्रम का ई-टेण्डरि
05 फरवरी 2020
12 फरवरी 2020
प्रेग्नेंसी के समय महिला के डिप्रेशन होने के मुख्य कारण निम्नलिखित हैं : -हार्मोंनल बदलाव प्रेग्नेंसी के समय महिला में मानसिक और शारीरिक दोनों तरह के कई बदलाव होते हैं।महिला के डिप्रेशन में होने पर हार्मोंस सीधे महिला के दिमाग को प्रभावित करते हैं, जो महिला के इमोशन और मूड को नियंत्रित करता है।ये हा
12 फरवरी 2020
11 फरवरी 2020
थकान और उसे होने वाली कमजोरी वर्तमान समय में होने वाली सबसे बड़ी समस्या है।आजकल हर व्यक्ति थकान से पीड़ित है ऐसे में यह बहुत ही जरूरी है कि थकान और उसे होने वाली सुस्ती का उपचार किया जाए ताकि हमारी कार्य करने की शक्ति दोबारा पहले जैसी सही जाये।कुछ घरेलू उपाय हैं जिनकी सहायता से हम अपनी सारी थकान और स
11 फरवरी 2020
14 फरवरी 2020
IVF की प्रक्रिया आईवीएफ प्रकिया में इन-विट्रो-फर्टिलाइज़ेशन, गर्भधारण की एक आर्टिफिशयल सहायक प्रजनन प्रक्रिया के नाम से जानी जाती है। आईवीएफ उपचार एक प्रकार की फर्टिलिटी प्रकिया है।जिन महिला,पुरूषों के जोडों को प्राकृतिक रूप से गर्भधारण करने में समस्या होती है,वो आईवीएफअर्थात् टेस्ट ट्यूब बेबी की
14 फरवरी 2020
11 फरवरी 2020
थकान और उसे होने वाली कमजोरी वर्तमान समय में होने वाली सबसे बड़ी समस्या है।आजकल हर व्यक्ति थकान से पीड़ित है ऐसे में यह बहुत ही जरूरी है कि थकान और उसे होने वाली सुस्ती का उपचार किया जाए ताकि हमारी कार्य करने की शक्ति दोबारा पहले जैसी सही जाये।कुछ घरेलू उपाय हैं जिनकी सहायता से हम अपनी सारी थकान और स
11 फरवरी 2020
05 फरवरी 2020
आंखों के नीचे डार्क सर्कल्स होने के कई कारण हो सकते है।जैसे बढ़ती हुए उम्र और आपके कुछ गलतियों के कारण आंखों के नीचे डार्क सर्कल्स हो सकता है ।आंखों के नीचे काले घेरे होने के निम्न कारण हैं:-एजिंग के साथ त्वचा का पतला होनाबढ़ने हुए उम्र प्रक्रिया त्वचा के पतले होने का कारण हो सकती है क्योंकि इससे क
05 फरवरी 2020
18 फरवरी 2020
आईवीएफ की सहायता से एक टेस्ट ट्यूब बेबी का जन्म होता है, जो कई प्रकार के मेडिकल और सर्जिकल प्रोसीजर से गुज़रना पड़ता है।आईवीएफ प्रक्रिया के द्वारा सफल फर्टिलाइजेशन के लिए महिला के अंडे और पुरुष के स्पर्म में कुछ सुधार किया जाता है।जब कोई महिला और पुरुष यानि की कोई दंपत्ति प्राकृतिक या सामान्य रूप से
18 फरवरी 2020
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x