खुशबूदार कंडोम कितने सुरक्षित हैं! जाने

18 फरवरी 2020   |  बबीता राणा   (351 बार पढ़ा जा चुका है)


आधुनिक समय में हर प्रोड्क्ट में आधुनिकता और तकनीक का रंग बस गया है। यही नहीं जिन चीजों के बारे में पहले कोई आपस में बात नहीं करता था, अब उनको लेकर बाकायदा विचार-विमर्श होता है। कुछ ऐसा ही होता है जब अधिकतर युवा युगल शारीरिक संबंध स्थापित करने से पहले किस रंग और किस स्वाद का कंडोम इस्तेमाल करें, आजकल बाज़ार में अलग-अलग ख़ुशबू और रंग के कंडोम मिल रहे हैं। लेकिन इस बात पर विचार करने का समय है कि खुशबूदार कंडोम कितने सुरक्षित है? आइये जानते हैं कि क्या सचमुच खुशबूदार कंडोम शरीर के लिए सुरक्षित हैं या फिर इसके कोई साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं। वास्तव में फ्लेवर्ड कंडोम को ओरल सेक्स को बढ़ावा देने के लिए बनाया गया है। चिकित्सकों का मानना है कि ओरल सेक्स से यौन संबंधी रोग के होने और फैलने की संभावना बहुत कम हो जाती है। इसलिए जहां तक संभव हो सामान्य कंडोम का ही प्रयोग करें। अगर फ्लेवर्ड कंडोम ले रहे हैं तो अपने साथी की अनुमति और उसके स्वाद को ध्यान में रखकर ही लें। इसके साथ ही इसके लिए अच्छी और प्रतिष्ठित कंपनी और ब्रांड का ही चयन करें। ध्यान रखे कि सुख और स्वास्थ्य का ख्याल रखकर ही सच्चा आनंद प्राप्त किया जा सकता है।


खुशबूदार कंडोम यौन जीवन को उज्ज्वल या नुकसानदेह बनाता है?


खुशबूदार कंडोम के विज्ञापन में युवा युगल को विभिन्न प्रकार के स्वाद वाले कंडोम के साथ अपने सम्बन्धों को गहरा होते हुए दिखाया जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि क्या सच में ही फ्लेवर वाले कंडोम क्या यौन सुख को बढ़ाता है?खुशबूदार कंडोम इसके साथ ही शरीर के लिए भी सुरक्षित हैं या नहीं? आइये इस बारे में कुछ तथ्यों की जानकारी लेते हैं:-


कंडोम के स्वाद और रंग में विभिन्नता है -

कुछ लोग कंडोम को केवल गर्भनिरोधक उपाय के रूप में कंडोम को केवल गर्भनिरोधक उपाय के रूप में देखते हैं वहीं आज बाज़ार में युवा वर्ग को लुभाने के लिए अलग-अलग रंग और स्वाद के कंडोम मिलने लगे हैं। आज जो उत्साही और जोशीले युवा जोड़े हैं वो अपनी रुचि के अनुसार कच्चे आम, अदरक जैसे पारंपरिक स्वाद के साथ ही स्ट्रोबेरी और चॉकलेट जैसे स्वाद के कंडोम भी खरीदने के लिए आतुर रहते हैं।


यौन सुख को नए रंग देते हैं फ्लेवर्ड कंडोम -

नवीनता और रोमांच तलाशता युवा वर्ग अपने यौन सम्बन्धों में भी फ्लेवर्ड कंडोम की सहायता से नए रोमांच को ढूंढ लेते हैं।

सेक्स प्रक्रिया से पहले किया जाने वाले फोरप्ले के माध्यम से सेक्स लाइफ को स्पाइसी बना देता है, फ्लेवर्ड कंडोम।

फ्लेवर्ड कंडोम को पहनने के बाद पुरुष अपनी महिला साथी की नयी-नयी खुशबू से रोमचित और उत्तेजित करने में सफल होता है।


कंडोम की खुशबू से योनि में होने वाले नुकसान

खुशबूदार कंडोम का प्रयोग योनि सेक्स के लिए न करें क्योंकि कंडोम को खुशबू और स्वाद देने के लिए उसमें चीनी की परत या कोटिंग की जाती है। यह चीनी युक्त कंडोम जब योनि में प्रवेश करता है तब इससे योनि का प्राकृतिक पीएच बैलेंस प्रभावित होता है।

इससे योनि में फंगस इन्फेक्शन हो सकता है।

मुख्य रूप से अलग-अलग खुशबू और स्वाद वाले कंडोम ओरल सेक्स को ध्यान में रखकर बनाए जाते हैं। इसीलिए इन्हें जब जननांगों में प्रयोग किया जाता है तब नुकसान अधिक होता है।


खुशबूदार और स्वाद वाले कंडोम के प्रयोग से होने वाले नुकसान कंडोम के प्रयोग से होने वाले नुकसान मे पुरुष लिंग के एलर्जी से प्रभावित होने की संभावना भी बढ़ जाती है। इसके साथ ही कुछ पुरुष फ्लेवर्ड कंडोम के साथ फ्लेवर्ड लुब्रिकेशन का भी इस्तेमाल करना पसंद करते हैं। लेकिन यह लुब्रिकेशन योनि संबंध स्थापित करते समय योनि के प्राकृतिक पीएच बैलेंस को परेशान कर सकता है। इसलिए फ्लेवर्ड लुब्रिकेशन लेते समय इस बात का ध्यान रखें की यह जल-आधारित तकनीक से बने होने चाहिए। क्योंकि तेल आधारित तकनीक से बने लुब्रिकेंट कंडोम पुरुष जननांग और योनि दोनों को नुकसान पहुंचा सकते हैं।



अगला लेख: ओवुलेशन स्पॉटिंग क्या है व कैसे करें पहचान!



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
17 फरवरी 2020
आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में तनाव एक आम समस्या बन चुका है। हर किसी के मन में कई तरह के विचार और चिंताएं चलती रहती हैं। कुछ चिंताएं ऐसी भी होती हैं जो हर किसी के साथ बांटी भी नहीं जा सकती हैं। ये चिंताएं परिवार को लेकर, आर्थिक तंगी को लेकर, स्वास्थ्य को लेकर या आपसी संब
17 फरवरी 2020
27 फरवरी 2020
गर्भावस्था के नौ माह बीतने के बाद जब एक नया जीवन माँ के समक्ष आता है, तब वह पल अनमोल होता है। इन पलों को शब्दों और भावों में व्यक्त करना किसी के लिए भी सरल नहीं होता है। लेकिन इस पल को वास्तविक रूप में बदलने के लिए जिस प्रक्रिया का सहारा लिया जाता है उसे प्रसव कहते है
27 फरवरी 2020
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x