साप्ताहिक राशिफल

22 मार्च 2020   |  डॉ पूर्णिमा शर्मा   (274 बार पढ़ा जा चुका है)

साप्ताहिक राशिफल

सभी के लिए 23 मार्च से 29 मार्च तक का साप्ताहिक राशिफल

इन दिनों सारा विश्व कोरोना जैसी महामारी से जूझ रहा है, ऐसे में सभी का सारे काम रुके हुए हैं | सबसे पहली आवश्यकता है इस महामारी से मुक्ति प्राप्त करने की, न कि अपने कार्य अथवा किसी अन्य विषय में सोचने विचारने की | हम सभी आत्म संयम का परिचय दें और घर से बाहर तभी निकलें जब कोई आवश्यक कार्य हो | “सोशल डिस्टेंसिंग” यानी समाज में एक दूसरे से परस्पर यथा सम्भव दूरी बनाए रखना तथा स्वास्थ्य विभाग द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करना अत्यन्त आवश्यक है | सम्भव है आपको इस अवधि में कोई नवीन प्रोजेक्ट प्राप्त हो भी जाए, लेकिन कार्य तो मनुष्य जीवन भर करता रहता है और अर्थ प्राप्ति भी जीवन भर चलती रहती है, अतः अभी यदि कोई नवीन प्रोजेक्ट प्राप्त हो भी रहे हों तो उन पर ध्यान देने की अपेक्षा उचित यही रहेगा कि आपके घरों में बैठकर इस बीमारी को फैलने से रोकने का प्रयास करें |

ज्योतिष के विद्वान इस महामारी के विषय में बहुत सी भविष्यवाणियाँ कर रहे हैं, बहुत से प्राचीन ग्रन्थों के सन्दर्भ प्रस्तुत कर रहे हैं | हमारा प्रश्न केवल मात्र यही है कि जिन प्राचीन ग्रन्थों से उद्धरण प्रस्तुत किये जा रहे हैं वो समय रहते क्यों नहीं प्रस्तुत किये गए ? यदि पहले से ये सब देख लिया होता तो इस प्रकार से ये वायरस इतना अधिक भयावह रूप न ले पाता |

कुछ लोग कहेंगे कि अभी तक गुरुदेव राहु-केतु के बीच फँसे हुए थे और शनिदेव अभी कुछ समय पहले वहाँ से निकल कर अपनी स्वयं की राशि में आए हैं | यहाँ आते ही उनके प्रकोप का सामना करना पड़ा | कुछ लोग ऐसा भी बोल सकते हैं कि गुरु का प्रवेश नीच की राशि मकर में हो गया है और तीस जून तक जब तक कि वक्री होकर वापस से धनु में नहीं पहुँच जाता तब तक इस आपत्ति से मुक्ति सम्भव नहीं क्योंकि अभी अंगारक मंगल भी अपनी उच्च राशि में जाकर बल प्राप्त कर रहा है तथा गुरु और शनि के साथ युति कर रहा है, और चार मई को जब मंगल यहाँ से निकल जाएगा तब इस बीमारी में कमी आनी आरम्भ होगी, इसकी कोई औषधि उस समय तक प्राप्त हो जाएगी और तीस जून आते आते सब कुछ धीरे धीरे सामान्य होना आरम्भ हो जाएगा | धीरे धीरे इसलिए कि शनि का समय भी चल रहा है | इस प्रकार की बहुत सी सम्भावनाओं पर हमारे ज्योतिषी कार्य कर रहे हैं | किन्तु जब तक कोई परिणाम नहीं प्राप्त हो जाते तब तक सब कुछ केवल अनुमान मात्र ही हैं | वैसे भी हम सदा बोलते आए हैं कि ज्योतिष सम्भावनाओं का विज्ञान है |

इसीलिए हमारा मानना है कि इस समय व्यक्तिगत राशिफल की ओर ध्यान दिए बिना और किसी भी प्रकार के अन्धविश्वास का शिकार हुए बिना मिलकर स्वास्थ्य विभाग के निर्देशों का पालन करते हुए कुछ समय के लिए शान्त बैठकर इस वायरस को हराने का प्रयास करें | इसे आप इस प्रकार समझिये कि कोई जहाज़ समुद्र में डूब जाता है तो क्या ये मान लिया जाए कि उस दिन सारे के सारे यात्रियों का मारक योग था ? या फिर ऐसा कि आपकी राशि के लिए ग्रहों का गोचर कार्य की दृष्टि से भी, अर्थ की दृष्टि से भी और स्वास्थ्य की दृष्टि से भी बहुत अनुकूल चल रहा हो, किन्तु वायरस को फैलने से रोकने के लिए आप कहीं आ जा नहीं सकें तो ग्रहों के गोचर आपके लिए अनुकूल होते हुए भी कोई फल कैसे दे पाएँगे ?

सत्य तो यही है कि प्राकृतिक आपदाओं के समक्ष सारे राशिफल व्यर्थ हो जाते हैं | इसलिए यह समय है आत्मावलोकन का और आत्म संयम का | किसी भी वायरस के प्रकोप से भयभीत हुए बिना संयम के साथ अपने मन में इस प्रकार का संकल्प लें कि इस महामारी को दूर भगाएँगे और इस प्रकार की कल्पना करें कि विश्व इससे मुक्त हो चुका है – वास्तव में इस सामूहिक संकल्प और सामूहिक कल्पना का प्रभाव पड़ेगा | क्योंकि हमारे दृढ़ता के साथ लिए गए संकल्प और हमारी पूर्ण मनोयोग से की गई कामनाएँ और कल्पनाएँ ही मूर्त रूप लेती हैं | वैसे भी, जब लगभग सारा विश्व ही इस आपदा से जूझ रहा है तो किसी भी व्यक्ति की व्यक्तिगत राशि और उसके सम्भावित परिणामों का कोई महत्त्व नहीं रह जाता |

चैत्र नवरात्र के साथ उत्सव का समय आरम्भ होने जा रहे हैं - 23/24 मार्च को अमावस्या है और उसके बाद 25 मार्च से साम्वत्सरिक चैत्र नवरात्रों तथा गुडी पर्व और उगडी के साथ भारतीय हिन्दू नव वर्ष प्रमादी नामक विक्रम सम्वत 2077 का आरम्भ होने जा रहा है | 25 को भगवती के शैलपुत्री रूप की, 26 को ब्रह्मचारिणी रूप की, 27 को चन्द्रघंटा रूप की, 28 को कूष्माण्डा रूप की और 29 को स्कन्दमाता रूप की उपासना की जाएगी | माँ भगवती को नमन करते हुए हम सभी मिलकर संकल्प लें कि इस महामारी को हराएँगे और पूर्ण मनोयोग से कल्पना करें कि हरा दिया है – सामूहिक स्तर पर ऐसा होगा तो माँ भगवती सभी कल्याण करेंगी और समस्त विश्व कोरोना जैसे महामारी पर विजय प्राप्त करने में सफल होगा – आज के साप्ताहिक राशिफल में केवल इतना ही...

अगला लेख: १६ से २२ मार्च तक का सम्भावित साप्ताहिक राशिफल



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
20 मार्च 2020
शुक्र का वृषभ में गोचरशनिवार 28 मार्च, चैत्र शुक्ल चतुर्थी को विष्टि करण और विषकुम्भयोग में दिन में 3:38 के लगभग समस्त सांसारिक सुख, समृद्धि, विवाह, परिवार सुख, कला, शिल्प,सौन्दर्य, बौद्धिकता,राजनीति तथा समाज में मान प्रतिष्ठा में वृद्धि आदिके कारक शुक्र का अपनी स्वयं की राशि वृषभ में प्रस्थान करेगा
20 मार्च 2020
18 मार्च 2020
मंगल का मकर में गोचरचैत्र कृष्णचतुर्दशी यानी रविवार 22 मार्च को दिन में दो बजकर चालीस मिनट के लगभग विष्टि करण और शुभ योग में मंगलका गोचर अपनी उच्च राशि मकर में होगा | सूर्योदय के समय त्रयोदशी तिथि रहेगी, किन्तु मंगल के गोचर के समय चतुर्दशी तिथि होगी | इस समय मंगल उत्तराषाढ़नक्षत्र पर होगा | मकर राशि
18 मार्च 2020
25 मार्च 2020
द्वितीया ब्रह्मचारिणीनवदुर्गा– द्वितीय नवरात्र - देवी के ब्रह्मचारिणी रूप की उपासनाकल चैत्र शुक्लद्वितीया – दूसरा नवरात्र – माँ भगवती के दूसरे रूप की उपासना का दिन | देवी कादूसरा रूप ब्रह्मचारिणी का है – ब्रह्म चारयितुं शीलं यस्याः सा ब्रह्मचारिणी – अर्थात् ब्रह्मस्वरूप की प्राप्ति करना जिसका स्वभाव
25 मार्च 2020
14 मार्च 2020
16 से 22 मार्च2020 तक का सम्भावित साप्ताहिकराशिफलनीचे दिया राशिफल चन्द्रमा की राशि परआधारित है और आवश्यक नहीं कि हर किसी के लिए सही ही हो – क्योंकि लगभग सवा दो दिनचन्द्रमा एक राशि में रहता है और उस सवा दो दिनों की अवधि में न जाने कितने लोगोंका जन्म होता है | साथ ही ये फलकथन केवलग्रहों के तात्कालिक ग
14 मार्च 2020
25 मार्च 2020
आज प्रथम नवरात्र के साथ ही विक्रम सम्वत 2077 और शालिवाहन शक सम्वत 1942का आरम्भ हो रहा है । सभी को नव वर्ष, गुडीपर्व और उगडी की हार्दिक शुभकामनाएँ...कोरोना जैसी महामारी से सारा ही विश्व जूझ रहा है - एक ऐसा शत्रु जिसे हमदेख नहीं सकते, छू नहीं सकते - पता नहीं कहाँ हवा में तैर रहा है और कभीभी किसी पर भी
25 मार्च 2020
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x