बिहू असाम का सबसे बड़ा त्यौहार

26 मार्च 2020   |  मोनिका चौधरी   (274 बार पढ़ा जा चुका है)

बिहू असाम का सबसे बड़ा त्यौहार

बिहू असाम का सबसे बड़ा त्यौहार || bihu in hindi - इस लेख में जाने बिहू का त्यौहार किस तरह से मनाया जाता है |

bihu-festival-in-hindi


असम में साल में तीन बार बिहू मनाया जाता है ,बोहाग (बैसाख, अप्रैल के मध्य), माघ (जनवरी के मध्य में) और काटी (कार्तिक, अक्टूबर के मध्य) के महीनों में। ... सबसे महत्वपूर्ण और तीन बिहू उत्सव में सब्से रंगीन हैं वसंत महोत्सव "बोहाग बिहू" या रोंगाली बिहू जो कि अप्रैल के मध्य में मनाया जाता हैं।

बिहू के दिन क्या-क्या होता है -

  1. आसामी कैलेंडर बैसाख महीने से शुरू होता है जो अंग्रेजी माह के अप्रैल महीने के मध्य में शुरू होता है और यह बिहू सात दिन तक अलग-अलग रीति-रीवाज के साथ मनाया जाता है। बैसाख महीने का संक्रांति से बोहाग बिहू शुरू होता है।
  2. इसमें प्रथम दिन को गाय बिहू कहा जाता है। इस दिन लोग सुबह अपनी-अपनी गायों को नदी में ले जाकर नहलाते हैं।
  3. गायों को नहलाने के लिए एक रात पहले ही कई तरीके की दाल गला दी जाती हैं , जिनका इस्तेमाल गायों को नहलाने में किया जाता है | और साथ ही हल्दी को भिगोगर पीसकर गायों को नहलाया जाता है |
  4. गायों को अच्छे से नहलाने के बाद गायों को बैगन ,लौकी और बाकी सब्जियां खिलाई जाती हैं , असाम के लोगों का मानना है , कि ये सब करने से और खासतौर पर सब्जियां खिलाने से बिना किसी परेशानी के पूरी साल गाएं कुशलपूर्वक रहती हैं |
  5. शाम के समय जिस जगह पर गायों को रखा जाता है , उस जगह को अच्छे से साफ़ करके सजाया जाता है , और गायों को नयी रस्सी से बांधा जाता है | और साथ ही तरह-तरह के औसधि वाले पेड़ -पौधों को गायों के आस पास जलाया जाता है , और मच्छर -मन्खियों को भगाया जाता है |
  6. बिहू के दिन असामी लोग दिन में चावल नहीं खाते हैं , सिर्फ दही के साथ चिवड़ा खाने की उनकी परंपरा है |

क्या होता है , बिहू का अर्थ और इसे क्यूँ मनाया जाता है -

बिहु शब्द दिमासा लोगों की भाषा से ली गई है जो की प्राचीन काल से एक कृषि समुदाय है। उनकी सर्वोच्च देवता ब्राई शिबराई या पिता शिबराई हैं। मौसम की पहली फसल अपनी शांति और समृद्धि की कामना करते हुए ब्राई शिबराई के नाम पर अर्पित किया जाता हैं। तो 'बि' मतलब 'पुछना' और 'शु' मतलब पृथ्वी में 'शांति और समृद्धि' हैं। अत: शब्दै बिशु धीरे-धीरे भाषाई तहजीह को समायोजित करने के लिये बिहु बन गया। अन्य सुझाव यह हैं कि 'बि' मतलब 'पुछ्ना' और 'हु' मतलब 'देना' और वही से बिहु नाम उत्पन्न हुआ।

पहला बिहू -

पहले बैसाख में आदमी का बिहू शुरू होता है। उस दिन भी सभी लोग कच्ची हल्दी से नहाकर नए कपड़े पहन कर पूजा-पाठ करके दही चिवड़ा एवं नाना तरह के पेठा-लडडू इत्यादि खाते हैं। इसी दिन से असमिया लोगों का नया साल आरंभ माना जाता है। इसी दौरान सात दिन के अंदर 101 तरह के हरी पत्तियों वाला साग खाने की भी रीति है।


बिहू के अलग-अलग महत्व -


  1. बिहू का दूसरा महत्व यह भी है , कि उसी समय धरती पर बारिश की पहली बूंदें पड़ती हैं और पृथ्वी नए रूप से सजती है। जीव-जंतु एवं पक्षी भी नई जिंदगी शुरू करते हैं। नई फसल आने की हर तरह तैयारी होती है। इस बिहू के अवसर पर संक्रांति के दिन से बिहू नाच नाचते हैं। इसमें 20-25 की मंडली होती है जिसमें युवक एवं युवतियां साथ-साथ ढोल, पेपा, गगना, ताल, बांसुरी के साथ अपने पारंपरिक परिधान में एक साथ बिहू करते हैं।
  2. बिहू अब जगह-जगह काफी दिनों तक मनाया जाता है , मान्यता है, कि बिहू के दिनों में लड़के -लड़कियां अपने मन से अपना साथी चुनकर विवाह करते हैं और अपनी जिंदगी नए सिरे से शुरू करते हैं इसलिए असम में बैसाख महीने में ज्यादातर विवाह संपन्न होते हैं। बिहू के समय में गांव में विभिन्न तरह के खेल-तमाशों का आयोजन किया जाता है ।
  3. इसके साथ-साथ खेती में पहली बार के लिए हल भी जोता जाता है। बिहू नाच के लिए जो ढोल व्यवहार किया जाता है उसका भी एक महत्व है। कहा जाता है कि ढोल की आवाज से आकाश में बादल आ जाते हैं और बारिश शुरू हो जाती है जिसके कारण खेती अच्छी होती है।

काति बिहू/कंगाली बिहू -

धान आसाम में बड़े स्तर पर होने वाली अकेली फसल है | इसलिए धान लगाने के बाद जब धान की फसल में अन्न लगना शुरू होता है उस समय नए तरह के कीड़े धान की फसल को नष्ट कर देते हैं। इससे बचाने के लिए कार्तिक महीने की संक्रांति के दिन में शुरू होता है काति बिहू।

इस बिहू को काति बिहू इसलिए कहा जाता है , क्यूंकि उस समय फसल हरी-भरी नहीं होती है ,और वातावरण में हरियाली नहीं होती इसलिए इस बिहू को काति बिहू यानी कंगाली बिहू कहा जाता है |

संक्रांति के दिन सभी के घरों में बीच आँगन में तुलसी के अनेक पौधे लगाए जाते हैं, और तुलसी की पुजा की जाती है ,और दीया जलाकर प्रार्थना की जाती है कि सभी फसलें सही रहे और फसलों को कोई हानि न हो साथ ही कोई और आपदा न आये |


भोगाली बिहू -

माघ महीने की संक्रांति के पहले दिन से माघ बिहू मनाया जाता है , इस बिहू को भोगली बिहू भी कहा जाता है | इस बिहू को भोगाली बिहू इसलिए कहा जाता है क्यूंकि इस दौरान खान-पान धूमधाम से होता है, क्योंकि तिल, चावल, नारियल, गन्ना इत्यादि फसल उस समय भरपूर होती है और उसी से तरह-तरह की खाद्य सामग्री बनाई जाती है और खिलाई जाती है।

भोगाली बिहू के समय सब बहुत खुश होते हैं ,और उनका खेती का काम भी उस वक़्त पूरा हो जाता है,मतलब उस समय कृषि कर्म से जुड़े हुए लोगों को भी आराम मिलता है और वे रिश्तेदारों के घर जाते हैं। संक्रांति के पहले दिन को उरूका बोला जाता है और उसी रात को गांव के लोग मिलकर खेती की जमीन पर खर के मेजी बनाकर विभिन्न प्रकार के व्यंजनों के साथ भोज करते हैं। उसमें कलाई की दाल खाना जरूरी होता है।


बिहु नृत्य में इस्तेमाल होने वाले सामान -

bihu-festival-in-hindi

ढोल (ड्रम)

ताल

पेपा (भैंस के सींग से बना एक वाद्य यंत्र)

टोका

बाँहि (बांसुरी)

क्शुतुली

गोगोना

आशा करते है आपको इस लेख में बिहू के बारे में पूरी जानकारी मिल गयी होगी |

अगला लेख: प्रधानमंत्री मुद्रा योजना 2020 की पूरी जानकारी



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
24 मार्च 2020
प्रधानमंत्री बेरोजगारी भत्ता योजना (pradhanmantri berojagari bhatta yojana)- चलिए आपको बताते हैं ,प्रधानमंत्री बेरोजगारी भत्ता योजना में विस्तार से - जैसे हम सभी को पता हैं , हमारे देश में ना जाने कितने ही लोग बेरोजगारी की चपेट में हैं , कही न कही लोगो की बेरोजगारी क
24 मार्च 2020
30 मार्च 2020
सक्षम योजना (saksham yojana ) - Saksham Yojana in Hindi के इस लेख मे आप Saksham Yojana Details के जरिये जरूरी जानकारी प्राप्त कर सकेंगे। देश में बेरोजगारी बढ़ती जा रही , शिक्षित युवाओं के पास भी कोई नौकरी नहीं है ,इस वजह से देश में गरीबी
30 मार्च 2020
23 मार्च 2020
प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (pradhanmantri kisan samman nidhi yojna)- अगर आप भी प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (pm kisan yojana) के बारे में जानना चाहते हैं ,तो ये लेख आपके लिए है | प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का
23 मार्च 2020
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x