swiggy ने कैसे पाया ये मुकाम - swiggy startup story in hindi

27 मार्च 2020   |  मोनिका चौधरी   (261 बार पढ़ा जा चुका है)

swiggy ने कैसे पाया ये मुकाम - swiggy startup story in hindi

swiggy ने कैसे पाया ये मुकाम - swiggy startup story in hindi आज इस लेख में हम आपको Sriharsha Majety success story in hindi बताएँगे -


हर कोई एक सपना लेकर जीता ,बहुत से लोगों को एक आम नौकरी नहीं करनी होती है ,वे हमेशा से कुछ अलग ,बड़ा और अच्छा करना चाहते हैं, swiggy इसका बहुत बड़ा उदहारण है | चलिए बताते हैं इसकी शुरुआत किस तरह हुई |

जीवन में आप कुछ भी कर रहे हों , हर चीज़ के लिए आपको अच्छा और आसानी से खाना मिले ये बहुत ज्यादा जरुरी है | और इसी परेशानी को ख़त्म करने की कोशिश की है swiggy को शुरू करने वाले श्रीहर्षा मजेटी जी -


Sriharsha Majety success story in hindi

श्रीहर्षा मजेटी एक बिज़नेसमैन परिवार से हैं। इनके पिता का विजयवाड़ा में भोजनालय है और इनकी माँ पेशे से एक डॉक्टर हैं।


श्रीहर्षा मजेटी की पढाई – Sriharsha Majety Education

श्रीहर्षा ने BITS PILANI से अपनी इंजीनियरिंग ख़त्म की ,वहां वो बहुत से अलग-अलग जगह के नए लोगों से मिले , इसके बाद वे 1साल तक अपनी जिंदगी पर एक्सपेरिमेंट करते रहे फिर उन्होंने आई आई एम कलकत्ता में मैनेजमेंट की पढ़ाई की। हमेशा से ही घूमने फिरने के शौक़ीन श्रीहर्षा का मानना हैं कि उनके इस शौक ने उनको जीवन के कई उपदेश सिखाये और उनके बिज़नेस की राह में बहुत सहायता की।


श्रीहर्षा मजेटी (Sriharsha Majety Career)-

श्रीहर्षा मेजेटी ने 2007 में लंदन बैंक में नौकरी की और वहां से वापिस आकर देखा की भारत में ऑनलाइन खरीदारी की दुनिया काफी ज्यादा जोर शोर पर है । श्रीहर्षा मजेटी के लिए उनके लिए सबसे बड़े उदहारण रेड बस के संस्थापक फणीन्द्र सामा हैं। श्रीहर्षा ने अपने एक सहयोगी नंदा रेड्डी के साथ मिलकर एक वितरण एवं लदान सॉफ्टवेयर का प्रयत्न किया जिस का नाम था बंडल।


चुनौतियों का सामना करके आगे बढ़े श्रीहर्षा मजेटी -

जब उन्होंने अपना पहला स्टार्टअप स्टार्ट किया उस वक़्त श्रीहर्षा मजेटी और उनके सहयोगी को पता था , कि ऑनलाइन सेल के किसी भी काम में उस सामान को वितरण करना एक परेशानी हो सकती है , इसकेलिए उन्होंने दूसरे बिजनेसमैन का सहारा लिया | लेकिन जिस समय तक यह साफ्टवेयर तैयार होता तब तक सभी ऑनलाइन विक्रेता के पास अपना वितरण साफ्टवेयर था। इसी कारण बंडल अपनी स्थापना के एक साल के अंतगर्त बंद हो गया।

पहले स्टार्टअप की हार के बाद श्रीहर्षा रुके नहीं और उन्होंने अपने दुसरे सॉफ्टवेयर की तैयारी शुरू कर दी। और इस बार उन्होंने अपने सोंचने का अंदाज़ बदल दिया। उन्होंने सब जोड़कर देखकर तय किया कि इंसान प्रौद्योगिकी पर बहुत निर्भर हैं और चाहता है कि हर सुविधा उसे घर बैठे बैठे मिल जाए, अब चाहे वो कहीं जाने के लिए वाहन बुलाना हो या घर बैठे बिना कुछ किये खाना मंगवाना और इसी सोंच ने स्विग्गी – Swiggy की शुरुआत की |


स्विग्गी स्टार्ट अप – SUCCESS STORY OF SWIGGY STARTUP

SWIGGY एक ऑनलाइन खाने का डिलीवरी APP है ,जिसकी शुरुआत 2014 में हुई थी | SWIGGY का MAIN OFFICE बंगलोर में है | SWIGGY आज हम सबके जीवन का एक अनमोल हिस्सा बन गया है, जिसे हम ना चाहकर भी इस्तेमाल कर ही लेते हैं |

इस सॉफ्टवेयर की मदद से इंसान घर बैठे अपना मनपसंद खाना अपने मनपसंद भोजनालय से सिर्फ एक क्लिक पर मंगवा सकते हैं।

इस क्षेत्र में कोई दूसरा नाम न होने के कारण केवल चार सालों के अंदर SWIGGY ने पूरे भारत में अपनी पहचान बनाली हैं। स्विग्गी अब दुनिया का सब से बड़ा FOOD DELIEVERY APP है । इसके 5000000 से भी ज़्यादा यूज़ करने वाले लोग हैं, और यह हर घर में जाना जाने वाला नाम बन गया है।

पहले सिर्फ चार डिस्ट्रीब्यूटर से शुरू करने वाले स्विग्गी के पास अब अपने DELIEVERY BOYS हैं | SWIGGY ने न सिर्फ हम सब के जीवन में बदलाव लाया है बल्कि इस सॉफ्टवेयर द्वारा सैंकड़ों बेरोज़गार युवाओं को रोज़गार भी दिलाया है।


SWIGGY 25000 से ज्यादा रेस्टॉरेंट से जुड़ा हुआ है, और ये भारत के 13 स्टेट्स में अच्छे औधे पर काम कर रहा है | और इस मुकाम पर पहुँचने के लिए बहुत वक़्त लगा है , समझने की बात ये है , कि कोई भी क़ामयाबी रातों रात नहीं मिलती उसके लिए आपको वक़्त, मेहनत और लगन से काम करना पड़ता है , तभी आप एक कामयाब व्यक्ति बन सकते हैं | और इसका सबसे बड़ा उदहारण श्रीहर्षा मजेटी जी हैं |



अगला लेख: प्रधानमंत्री मुद्रा योजना 2020 की पूरी जानकारी



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
28 मार्च 2020
is india entereing in to 3rrd stage of corona- इस लेख में आप जानेंगे कि क्या भारत कोरोना की तीसरी स्टेज में कदम रख चुका है ?जरुरी सूचना -world health organization (WHO) ने कोरोना वायरस को महामारी (pandem
28 मार्च 2020
24 मार्च 2020
प्रधानमंत्री बेरोजगारी भत्ता योजना (pradhanmantri berojagari bhatta yojana)- चलिए आपको बताते हैं ,प्रधानमंत्री बेरोजगारी भत्ता योजना में विस्तार से - जैसे हम सभी को पता हैं , हमारे देश में ना जाने कितने ही लोग बेरोजगारी की चपेट में हैं , कही न कही लोगो की बेरोजगारी क
24 मार्च 2020
27 मार्च 2020
SOUTH KOREA || दक्षिण कोरिया - 51 मिलियन से अधिक आबादी वाला देश SOUTH KOREA अपने आप में ही अजीबोगरीब देश है ,इस लेख में आप south korea facts in hindi || दक्षिण कोरिया की रोचक बातें हिंदी में पढ़ेंगे -south korea बहुत ही अनोखा देश माना जाता है ,साउथ कोरिया के लोग भगवान
27 मार्च 2020
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x