Sketches from Life: झाड़ू झाड़न

17 मई 2020   |  हर्ष वर्धन जोग   (400 बार पढ़ा जा चुका है)

Sketches from Life: झाड़ू झाड़न

कोरोना के कीटाणु तूने कहाँ लाके मारा रे!

उधर लॉकडाउन की घोषणा हुई इधर हमारी सोसाइटी का मेन गेट भी बंद हो गया. आप बाहर नहीं जाओगे और फलां-फलां अंदर नहीं आएगा. फलां-फलां की लिस्ट में से काम वाली को तो बिलकुल नहीं आने दी जाएगी. इस पर पैंसठ जन्मदिन पार कर चुकी श्रीमती को क्रोध में आना स्वाभाविक था. स्थिति नियंत्रण से बाहर हो सकती थी. ये देख मैंने आश्वासन दे दिया की चलो 'झाड़ू मेरा पोछा तेरा' प्लान के मुताबिक काम कर लेंगे. स्थिति नियंत्रण में आ गई. चलिए अब शाम की बियर पर तो लॉकडाउन नहीं लगेगा!

अगले दिन झाड़ू लगा के महसूस किया की अगर बैठ कर लगाओ तो घुटने नाराज़ होते हैं. अगर खड़े खड़े झाड़ू लगाओ तो कमर कड़कती है. कलाइयां और कंधे तो हर हाल में हाय हाय करते हैं. साथ ही जब काम करते करते हिदायतें मिलती हैं तो कान भी गरम हो जाते हैं,

- जरा पलंग के नीचे से भी,

- ज़रा दरवाज़े के पीछे से भी,

- ज़रा खिड़की की ग्रिल पे भी.

वो दिन था और आज ये चालीसवां दिन है झाड़ू का सिलसिला बदस्तूर जारी है. कमर दर्द और झाड़ू का मिलाजुला अफ़साना चल रहां है. इन दिनों में अपने तीन बेडरूम, ड्राइंग और आँगन के फर्श को अच्छी तरह पहचान लिया है. अब ये पता लग चुका है की एंट्री के पास धूल मिलेगी, किचन में प्याज के छिलके और ड्रेसिंग टेबल के आसपास बुढ़िया के लम्बे लम्बे बाल मिलेंगे! डस्टिंग के लिए मुख्य इलाके भी चिन्हित कर लिए हैं. कहाँ सूखा कपड़ा मारना है कहाँ गीला ये याद कर लिया है. झाड़ू कौन सा होना चाहिए, कैसे पकड़ना चाहिए इत्यादि सब पर रिसर्च कर ली है.

इस नई जॉब प्रोफाइल में कमर तो दोहरी हो ही रही थी पर फिर भी एक और आइटम खुद ही जोड़ लिया है. इधर झाड़ू ख़तम हुआ, उधर पोछा शुरू हुआ. उधर पोछा ख़तम हुआ इधर चाय बिस्किट की ट्रे पेश कर दी. साथ में पुराने फ़िल्मी गाने लगा दिए. थकान दूर हो जाती है और गजब का माहौल बन जाता है!

अब झाड़ू लगाने का काफी अनुभव हो गया है और इरादा है एक कोचिंग सेंटर खोलने का. इसमें पचपन से ऊपर वाले सज्जनों को झाड़ू पोछा लगाने की ट्रेनिंग दी जाएगी. अभी कोर्स, फीस और टाइम टेबल के पैकेज पर काम चल रहा है. जल्दी ही सूचना दे दी जाएगी.

गो कोरोना गो,

झाड़ू उठा लिया है गो,

वाइपर उठा लिया है गो,

गो कोरोना गो!

Sketches from Life: झाड़ू झाड़न

http://jogharshwardhan.blogspot.com/2020/05/blog-post_17.html

Sketches from Life: झाड़ू झाड़न

अगला लेख: Sketches from Life: मोटर साइकिल डायरी



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
14 मई 2020
डा
डा0 नन्द किशोर नवल जी की यादेंविजय कुमार तिवारीपरमादरणीय मित्र,प्रख्यात आलोचक और साहित्यकार डा.नन्द किशोर नवल जी नहीं रहे।मेरा तबादला धनबाद से पटना हुआ था।9अप्रैल 1984 की शाम में बी,एम.दास रोड स्थित मैत्री-शान्ति भवन में प्रगतिशील लेखक संघ की ओर से"राहुल सांकृत्यायन-जयन्ती"का आयोजन था।भाई अरुण कमल,ड
14 मई 2020
03 मई 2020
माधव और अजीत नाम केदो भाई अर्जुननगर नाम के गांव में रहते थे। दोनों भाईयों में काफी प्यार था वोदोनों गेंहू का व्यापार किया करते थे, उनके खेतों में उगाया गया गेंहू दूर दूर तकमशहूर था लेकिन अभी भी वो दोनों मध्यवर्गीय स्थिती में ही थे और सोचा करते थे किखेतों में दिन रात पसीना
03 मई 2020
10 मई 2020
दस मई 1857, रविवार मेरठ के फिरंगियों का विश्राम का दिन था। इनमें ज़्यादातर अंग्रेज़ कुछ पुर्तगाली कुछ डच और कुछ अन्य यूरोपियन थे। कुछ सदर में शॉपिंग कर रहे थे, कुछ चर्च में थे और कुछ घरों में। अचानक शोर शराबे के साथ काली पलटन के कुछ सिपाहिय
10 मई 2020
05 मई 2020
वा
वासना,गद्दारों और नशेड़ियों से भरा देशविजय कुमार तिवारीवासना,गद्दारी या नशे में डूबे रहना यह सब मनुष्य के अधःपतन का द्योतक है और आज की स्थिति देखकर लगता है कि हमारे देश में बहुतायत ऐसे ही लोग हैं।मैं मानता हूँ कि हमे निराश नहीं होना चाहिए परन्तु ये परिदृश्य कोई दूसरी कहानी तो नहीं कह रहे।कल देश में
05 मई 2020
03 मई 2020
मोटर साइकिल डायरी मोटर साइकिल डायरी की बजाए पहले तो 'फटफटिया डायरी' शीर्षक देना चाहता था पर जचा नहीं इसलिए लिखा नहीं. दरअसल 'द मोटरसाइकिल डायरीज ' एक मशहूर किताब है जिस पर इसी नाम की 2004 में स्पेनिश फिल्म भी बन चुकी है. ये 'डायरीज ' लिखने वाले का नाम है एरनेस्तो ग्वेरा(
03 मई 2020
19 मई 2020
सामयिक साहित्य____🖊महामारी / पैंडेमिक से बचने के लिये हमारे शास्त्रों में कतिपय (करणीय) निर्देशन उपलब्ध हैं:---मेरे सद् गुरु नियम दिए "सोड्ष विधि", जिसके अंतरगत् 'व्यापक सौच'★ और 'सौच मंजुषा'★★सर्वोपरी हैं।【1】 लवणं व्यञ्जनं चैव घृतं तैलं तथैव च।लेह्यं पेयं च विविधं हस्तदत्तं न भक्षयेत्।।धर्मसिन्ध
19 मई 2020
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x