अर्जुन के तीर :-- आचार्य अर्जुन तिवारी

28 जून 2020   |  आचार्य अर्जुन तिवारी   (274 बार पढ़ा जा चुका है)

अर्जुन के तीर :-- आचार्य अर्जुन तिवारी

🔥⚜🔥⚜🔥⚜🔥⚜🌸⚜🔥


‼ *भगवत्कृपा हि केवलम्* ‼


🏹 *अर्जुन के तीर* 🏹


🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹


*तीव्र आँधी आने पर वही वृक्ष टूटकर गिरते हैं जो झुकना नहीं जानते , जो वृक्ष विपरीत समय जानकर हवा की रुख की ओर झुक जाते हैं उनकी क्षति नहीं होती है | ठीक उसी प्रकार जो मनुष्य विनयी होता है वह सफलतायें अर्जित करता चला जाता है और जो अपने ज्ञान एवं बल की अकड़ में रहता है वह प्रगति नहीं कर पाता और पतित हो जाता है | मनुष्य को सदैव विनयी बने रहना चाहिए यही मनुष्यता , पात्रता एवं विद्वता की पहचान होती है |*


🌼🌳🌼🌳🌼🌳🌼🌳🌼🌳🌼


*शुभम् करोति कल्याणम्*


🍀🎈🍀🎈🍀🎈🍀🎈🍀🎈🍀

अगला लेख: अर्जुन के तीर



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
28 जून 2020
🔥⚜🔥⚜🔥⚜🔥⚜🌸⚜🔥 ‼ *भगवत्कृपा हि केवलम्* ‼ 🏹 *अर्जुन के तीर* 🏹🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹 *मानव जीवन बहुत ही संघर्षमय कहा गया है | यहां प्रत्येक मनुष्य को अपने लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए संघर्ष करना पड़ता है | लक्ष्य को प्राप्त करने में अनेकों बार ऐसा भी समय आता
28 जून 2020
28 जून 2020
🔥⚜🔥⚜🔥⚜🔥⚜🌸⚜🔥 ‼ *भगवत्कृपा हि केवलम्* ‼ 🏹 *अर्जुन के तीर* 🏹🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹 *मनुष्य एक सामाजिक प्राणी है यहाँ एक दूसरे का सहयोग लेकर ही जीवन यापन होता है ! कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो कि बहुत दूर के होते हुए भी अपवे सगे से भी अधिक प्रिय हो जाते हैं | म
28 जून 2020
28 जून 2020
*सनातन धर्म में मंत्रों का बड़ा महत्व है , प्रत्येक कार्य के लिए अलग-अलग मंत्रों का विवरण हमारे धर्म ग्रंथों में प्राप्त होता है | वैदिक मंत्र , पौराणिक मंत्र , तांत्रिक मंत्र , शाबर मंत्र आदि अनेक प्रकार के मंत्र सृष्टि में मानव जाति का सहयोग करते हैं | किसी मंत्र का प्रयोग करने के पहले उसके विषय
28 जून 2020
28 जून 2020
🔥⚜🔥⚜🔥⚜🔥⚜🌸⚜🔥 ‼ *भगवत्कृपा हि केवलम्* ‼ 🏹 *अर्जुन के तीर* 🏹🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹 *समाज में एक सूक्ति प्रसिद्ध है "विनाशकाले विपरीत बुद्धि:" यह अकाट्य तथा सार्वभौमिक सत्य है | मनुष्य जिसका सहारा लेकर किसी प्रतिष्ठित स्थान पर स्थापित हो जाता जब उसी की निन्दा
28 जून 2020
28 जून 2020
*सनातन धर्म की मान्यतायें एवं परम्परायें आदिकाल से दिव्य रही हैं | हमारे पूर्वजों ने जो नियम बनाए थे उसमें मानव का हित समाहित था | मानव जीवन में अनेक प्रकार की पुण्य धर्म करने का वर्णन मिलता है इन्हीं में दान को बहुत बड़ा महत्व दिया गया है | दान करके मनुष्य अपनी जाने अनजाने कर्मों से छुटकारा तो पाता
28 जून 2020
28 जून 2020
🔥⚜🔥⚜🔥⚜🔥⚜🌸⚜🔥 ‼ *भगवत्कृपा हि केवलम्* ‼ 🏹 *अर्जुन के तीर* 🏹🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹 *भारत कृषि प्रधान देश है , कृषिकार्य के लिए जल की आवश्यकता होती है | जल भी उचित समय पर मिलना चाहिए | खेती सूख जाने के बाद जल का न तो कोई मबत्व रह जाता है और न ही आवश्यकता | ठी
28 जून 2020
28 जून 2020
🔥⚜🔥⚜🔥⚜🔥⚜🌸⚜🔥 ‼ *भगवत्कृपा हि केवलम्* ‼ 🏹 *अर्जुन के तीर* 🏹🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹 *मानव जीवन बहुत ही दिव्य कहा गया है परंतु इस जीवन का उपभोग बहुत ही सावधानी पूर्वक करना चाहिए | क्योंकि तनिक सी भी असावधानी से सकारात्मक परिणाम नकारात्मक हो जाते हैं | सावधानी
28 जून 2020
28 जून 2020
🔥⚜🔥⚜🔥⚜🔥⚜🌸⚜🔥 ‼ *भगवत्कृपा हि केवलम्* ‼ 🏹 *अर्जुन के तीर* 🏹🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹 *मानव जीवन में सबसे महत्वपूर्ण है मनुष्य की वाणी एवं व्यवहार | प्राय: मनुष्य अपने शत्रु एवं मित्रों की गिनती किया करता है | शत्रु एवं मित्र का निर्धारण या प्राकट़्य मनुष्य के
28 जून 2020
28 जून 2020
🔥⚜🔥⚜🔥⚜🔥⚜🌸⚜🔥 ‼ *भगवत्कृपा हि केवलम्* ‼ 🏹 *अर्जुन के तीर* 🏹🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹 *मानव जीवन स्वयं में एक परीक्षा है | मनुष्य जीवन भर परीक्षा देता रहता है परंतु सफल वही होता है जिसने परीक्षा की तैयारी पूर्ण कर रखी होती है | प्रायः लोग बिना पढ़ाई किये ही पर
28 जून 2020
28 जून 2020
🔥⚜🔥⚜🔥⚜🔥⚜🌸⚜🔥 ‼ *भगवत्कृपा हि केवलम्* ‼ 🏹 *अर्जुन के तीर* 🏹🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹 *प्रत्येक मनुष्य अपने लिए सदैव सबकुछ अच्छा ही सोंचता है , अच्छा ही करता है और अच्छा ही चाहता है परंतु सबकुछ अपने सोंचने एवं चाहने से नहीं होता है | हम सदैव किसी भी प्रतियोगिता
28 जून 2020
28 जून 2020
*सनातन धर्म में मंत्रों का बड़ा महत्व है , प्रत्येक कार्य के लिए अलग-अलग मंत्रों का विवरण हमारे धर्म ग्रंथों में प्राप्त होता है | वैदिक मंत्र , पौराणिक मंत्र , तांत्रिक मंत्र , शाबर मंत्र आदि अनेक प्रकार के मंत्र सृष्टि में मानव जाति का सहयोग करते हैं | किसी मंत्र का प्रयोग करने के पहले उसके विषय
28 जून 2020
28 जून 2020
🔥⚜🔥⚜🔥⚜🔥⚜🌸⚜🔥 ‼ *भगवत्कृपा हि केवलम्* ‼ 🏹 *अर्जुन के तीर* 🏹🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹 *भारत कृषि प्रधान देश है , कृषिकार्य के लिए जल की आवश्यकता होती है | जल भी उचित समय पर मिलना चाहिए | खेती सूख जाने के बाद जल का न तो कोई मबत्व रह जाता है और न ही आवश्यकता | ठी
28 जून 2020
28 जून 2020
🔥⚜🔥⚜🔥⚜🔥⚜🌸⚜🔥 ‼ *भगवत्कृपा हि केवलम्* ‼ 🏹 *अर्जुन के तीर* 🏹🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹 *आदिकाल से ही मनुष्य सतत् विकासशील रहा है नित्य नये आविष्कार करके समस्त मानव जाति को उसका लाभ आविष्कारकों ने दिया | इसी क्रम में दर्पण (शीशा) का आविष्कार हुआ जिसमें मनुष्य स्व
28 जून 2020
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x