सन्नाटा सुनें

18 अक्तूबर 2020   |  वीरेंद्र कुमार गुप्ता   (395 बार पढ़ा जा चुका है)

इस शोर शराबे के जीवन में, जहां आवाज की प्रबलता/ऊंचाई ही एक मापदंड है; आप शायद भूल ही गए होंगे कि सन्नाटा या शान्ति क्या है और कैसा/कैसी लगता/लगती है. तो सन्नाटा सुनने का तो कोई प्रश्न ही पैदा नहीं होता.

सन्नाटा सुनना; यह आपने क्या कह दिया; क्या सन्नाटा भी कभी सुना जा सकता है ?

शायद आपने एक पहेली कभी सुनी हो-"वह शब्द बताये जिसे बोलते ही आप उसे तोड़ देते हैं".

सुनी है कभी???

इस का उत्तर है सन्नाटा या शांति.

मैं आपके साथ अपने सन्नाटा सुनाने का पहला अनुभव ' शेयर' करता हूँ.


हुआ यों कि मै रोज़ सुबह 'ध्यान' करने का अभ्यास करता हूँ. आज मैंने सोचा कि कोई प्रयत्न नहीं केवल सुना जाए. प्रात: एकदम शांति थी. आँख बंद करके मैंने सुनने पर ध्यान लगाया. कुछ देर ऐसे ही एकदम सन्नाटा रहा और बहुत आनंद दायक लगा. फिर एक पक्षी की आवाज सुनाई दी. फिर सन्नाटा. कुछ पलों बाद फिर एक पक्षी व एक कौए की आवाज आई. थोडा फोकस करने पर और भी आवाजें सुनाई दें लगीं. बीच बीच में पूर्ण सन्नाटे के क्षण भी आते थे. सभी क्षण; सन्नाटे के व पक्षियों की आवाज के; बहुत आनंद दायक थे. कम से तीन प्रकार के पक्षियों की चहचाहट में, मैं स्पष्ट अंतर सुन पाया.

क्या आप प्रयत्न करना चाहेंगे?

कृपया करें और आनद लें.

वीरेन्द्र



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x