अर्जुन के तीर

30 अक्तूबर 2020   |  आचार्य अर्जुन तिवारी   (392 बार पढ़ा जा चुका है)

अर्जुन के तीर

🔥⚜🔥⚜🔥⚜🔥⚜🌸⚜🔥


‼ *भगवत्कृपा हि केवलम्* ‼


🏹 *अर्जुन के तीर* 🏹


🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻


*इस संसार में प्रत्येक प्राणी एक निश्चित समय एवं गिनती की साँसें लेकर आया हुआ है ! विशेषकर मनुष्य को इस सृष्टि का युवराज कहा जाता है समय का सकारात्मक सदुपयोग करके हमारे पूर्वजों ने अनेक सृजनात्मक कार्य किया हैं ! परंतु आज लोग समय के महत्त्व को शायद समझ नहीं रहे हैं या फिर समझना नहीं चाहते हैं ! व्यर्थ की बक बक करके पूरा दिन व्यतीत कर देने वाले लोग यदि वहीं समय सदचिंतन या सद्कार्य में लगा दें तो स्वयं के साथ - साथ परिवार , समाज एवं राष्ट्र को उसका लाभ मिल सकता है ! कुछ करे या न करे मात्र समय का सकारात्मक सदुपयोग ही मनुष्य को प्रतिष्ठा दिलाने में सक्षम है |*



🌼🌳🌼🌳🌼🌳🌼🌳🌼🌳🌼


*शुभम् करोति कल्याणम्*


🍀🎈🍀🎈🍀🎈🍀🎈🍀🎈🍀

अगला लेख: ज्ञान को जीवन में उतारें



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x