नव सम्वत्सर की हार्दिक शुभकामनाएँ

12 अप्रैल 2021   |  कात्यायनी डॉ पूर्णिमा शर्मा   (455 बार पढ़ा जा चुका है)

नव सम्वत्सर की हार्दिक शुभकामनाएँ

सर्वे भवन्तु सुखिनः सर्वे सन्तु निरामयाः

सर्वे भद्राणि पश्यन्तु मा कश्चित दुःखभाग्भवेत।।

भारतीय वांगमय में सदा सबके कल्याण की कामना की गई है | उसे ही सार्वभौम मानव धर्म माना गया है | प्रार्थना की गई है कि सभी प्रसन्न रहे, सभी नीरोगी रहें, सभी के समस्त कर्म सिद्ध हों, किसी को भी किसी प्रकार का कष्ट न मिले... वैदिक ऋषि की इसी कामना के साथ सभी को नव सम्वत्सर की अनेकशः हार्दिक शुभकामनाएँ...

वो देखो जी आया बसन्त, संग में लेकर नववर्ष अरे

वो देखो लहराया वसन्त, संग में लेकर नव वर्ष अरे ||

नवल वर्ष की स्वर्णिम किरणें सबही का हैं मन हर्षाएं

नवल भोर का सूर्य नवोदित सबको नूतन पथ दिखलाए ||

आज धरा पुलकित होती है, और गगन भी मुस्काता है |

चिन्ताएँ हैं बड़ी, मगर कल खुशियों का आने वाला है ||

आओ मिलकर स्वागत कर लें, नव कुसुमांजलि अर्पण कर दें |

आया नूतन वर्ष, हो सबको मंगलमय नव वर्ष ||

आज न कोई फांस पुरानी रह जाए, आज न कोई कटुता बाक़ी रह जाए |

द्वेष घृणा का अँधियारा सब छंट जाए, प्रेम सुमन हर जन के हिय में खिल जाए |

आओ मिलकर नव अरुणोदय का हम सब ही स्वागत कर लें |

आया नूतन वर्ष, हो सबको मंगलमय नव वर्ष ||

हर घर में बस प्रेम उजाला फैला हो, और सद्भावों से सबका मन जागा हो |

कोई अधूरा काज यदि हो रहा कभी, पूरा करने हित मन में संकल्प नया हो |

आओ मिलकर प्यार भरी बोली से इसका स्वागत कर लें |

आया नूतन वर्ष, हो सबको मंगलमय नव वर्ष ||

हर मन में विचरित हो एक नई आशा, वातावरण नया हो ऐसी अभिलाषा |

सुख समृद्धि के पुष्प चहूँ दिशि खिल जाएँ, हर दिन खुशियों का संदेसा ले आए |

आओ मिलकर एक नई सरगम से सबका स्वागत कर लें |

आया नूतन वर्ष, हो सबको मंगलमय नव वर्ष ||

अस्तु, कल चैत्र शुक्ल प्रतिपदा को उदित होने वाले सूर्य की प्रत्येक किरण हर दिन आपके तथा आपके परिवारजनों के जीवन में सुख, समृद्धि, स्वास्थ्य, उत्साह एवं सफलता की रजत धूप प्रसारित करे, और प्रत्येक निशा का चन्द्र प्रेम एवं शान्ति की धवल ज्योत्स्ना ज्योतित करे... एक नवीन और सकारात्मक नव सम्वत्सर तथा साम्वत्सरिक नवरात्र की सभी को अनेकानेक हार्दिक शुभकामनाएँ... माँ भगवती सभी का कल्याण करें...

अगला लेख: माँ दुर्गा की उपासना के लिए पूजन सामग्री



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
14 अप्रैल 2021
माँ दुर्गा की उपासना के लिए पूजन सामग्रीसाम्वत्सरिकनवरात्र आरम्भ हो चुके हैं | इस अवसर पर नौ दिनों तक माँ भगवती के नौ रूपों कीपूजा अर्चना की जाती है | कुछ मित्रों ने आग्रह किया था कि माँ दुर्गा की उपासनामें जिन वस्तुओं का मुख्य रूप से प्रयोग होता है उनके विषय में कुछ लिखें | तो, सबसे पहले तो बतानाचा
14 अप्रैल 2021
23 अप्रैल 2021
<!--[if gte mso 9]><xml> <w:WordDocument> <w:View>Normal</w:View> <w:Zoom>0</w:Zoom> <w:TrackMoves/> <w:TrackFormatting/> <w:PunctuationKerning/> <w:ValidateAgainstSchemas/> <w:SaveIfXMLInvalid>false</w:SaveIfXMLInvalid> <w:IgnoreMixedContent>false</w:IgnoreMixedC
23 अप्रैल 2021
29 मार्च 2021
आज सभी रंगों से होली खेल रहे हैं... होली... जो पर्व हैरंगों का... रूठे हुओं को मनाने का... मन की सारी नकारात्मकता होलिका के साथ दहनकरके सकारात्मकता के रंगों से होली खेलने का... मेल मिलाप का... हमारे अपनेकार्यक्रम “मेरी बातें” में आप सभी का स्वागत है... होली के हुडदंग के साथ... प्रस्तुतहैं कुछ पंक्ति
29 मार्च 2021
22 अप्रैल 2021
पृथिवी दिवसआज समूचा विश्व पृथिवी दिवसयानी Earth Day मना रहा है | आज प्रातः से ही पृथिवी दिवस केसम्बन्ध में सन्देश आने आरम्भ हो गए थे | कुछ संस्थाओं ने तो वर्चुअल मीटिंग्सयानी वेबिनार्स भी आज आयोजित की हैं पृथिवी दिवस के उपलक्ष्य में – क्योंकि कोरोना के कारण कहीं एक स्थान पर एकत्र तो हुआ नहीं जा सकता
22 अप्रैल 2021
03 अप्रैल 2021
तुम कहते हो करूँ पश्चताप,कि जीवन के प्रति रहा आकर्षित ,अनगिनत वासनाओं से आसक्ति की ,मन के पीछे भागा , कभी तन के पीछे भागा ,कभी कम की चिंता तो कभी धन की भक्ति की। करूँ पश्चाताप कि शक्ति के पीछे रहा आसक्त ,कभी अनिरा से दूरी , कभी मदिरा की मज़बूरी ,कभी लोभ कभी भोग तो कभी म
03 अप्रैल 2021
18 अप्रैल 2021
★मेरा धन भक्ति- तेरा धन रोकड़★🏢🙏🏢🙏🏢 ☆ 🏢🙏🏢🙏🏢तेरा दर लागे मुझको प्यारा, तेरा जग है न्यारा।सोना लागे खोटा मुझे,हरपल तुझे हीं निहारा।।गगनचुम्बी इमारतें भले हीं तुम उठवालो।कितना भी तुम अपना साम्राज्य बढ़ालो।।गरीबों को चूस तहखानों को भरवालो।चार हीं कंधे तेरे साथ- साथ रे चलेंगे।।पाप छुपाने खातिर
18 अप्रैल 2021
31 मार्च 2021
22 मार्च को WOW India की ओर से डिज़िटल प्लेटफ़ॉर्म ज़ूम पररंगोत्सव मनाने के लिए एक काव्य सन्ध्या का आयोजन किया गया... जिसमें बड़े उत्साहसे सदस्यों ने भाग लिया... कार्यक्रम की अध्यक्षता की वरिष्ठ साहित्यकार डॉ रमासिंह ने और संचालन किया WOW India की Cultural Secretary लीना जैन ने... सभी कवयित्रियों के काव
31 मार्च 2021
27 अप्रैल 2021
हनुमान जयन्तीआज चैत्र पूर्णिमा है... और कोविडमहामारी के बीच आज विघ्नहर्ता मंगल कर्ता हनुमान जी – जो लक्ष्मण की मूर्च्छा दूरकरने के लिए संजीवनी बूटी का पूरा पर्वत ही उठाकर ले आए थे... जिनकी महिमा का कोईपार नहीं... की जयन्ती है… जिसे पूरा हिन्दू समाज भक्ति भाव से मनाता है... कल दिनमें बारह बजकर पैंताल
27 अप्रैल 2021
30 मार्च 2021
शा
शाख से है रंग उड़ा मन है बेरंग सा होंठ पर है धूप खिला दर्द ने है आह भरा रंग पर जब रंग चढ़ा रूह से आवाज़ आई ये ज़िन्दगी है आयशा ये भी ज़िन्दगी है क्या
30 मार्च 2021
23 अप्रैल 2021
📙📓📘📗📗📘📓📙📘📗पुस्तक दिवस📗📘📓📙📓📘📗📗📘📓📙पुस्तकों का अंबार कहाँ-अब एण्ड्रॉयड का खेल है।विमोचन औन लाइन-'इंटरनेट' एक्सप्रेस-मेल है।।शीलालेख से भोजपत्र की दौड़-अब ई पेपर टेल है।सृजन कर सेयर करलो -ग्रुप्स की चल रही रेल है।।बिचारा विद्यार्थी उदास-लटकाये बस्ता कई सेर है।तक्षशिला राख हुई-खुदाबख्
23 अप्रैल 2021
29 मार्च 2021
आज सभी रंगों से होली खेल रहे हैं... होली... जो पर्व हैरंगों का... रूठे हुओं को मनाने का... मन की सारी नकारात्मकता होलिका के साथ दहनकरके सकारात्मकता के रंगों से होली खेलने का... मेल मिलाप का... हमारे अपनेकार्यक्रम “मेरी बातें” में आप सभी का स्वागत है... होली के हुडदंग के साथ... प्रस्तुतहैं कुछ पंक्ति
29 मार्च 2021
13 अप्रैल 2021
माँ दुर्गा के पूजन की विधिआजचैत्र शुक्ल प्रतिपदा के साथ ही नवसंवत्सर का आरम्भ हुआ है और माँ भगवती की उपासनाका पर्व नवरात्र आरम्भ हो चुके हैं | सभी को हिन्दू नव वर्ष तथा साम्वत्सरिकनवरात्रों की हार्दिक शुभकामनाएँ...कुछमित्रों का आग्रह है कि नवरात्रों में माँ भगवती की उपासना की विधि तथा उसमेंप्रयुक्त
13 अप्रैल 2021
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x