दिल ने चाहा था - शिखा

27 जुलाई 2015   |  Shikha   (260 बार पढ़ा जा चुका है)

Dil ne chaha tha kai baar apne pyar ka izhaar kare,


Par lafz na na kabhi saath diya hume is baat ke liye,


Zindgi ki dastaan hi badal gayi humari ek hi pal mai,


Umarbhar ki saja mil gayi hume pyar karne ke liye.





शिखा

अगला लेख: आपकी हर बाते - शिखा



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें

शब्दनगरी से जुड़िये आज ही

सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x