आरक्षण की आग!

31 अगस्त 2015   |  वर्तिका   (377 बार पढ़ा जा चुका है)

आरक्षण की आग!

हर-क्षण, हर-पल देश के पैरों को जकड़ती ये आरक्षण की आग,
देश का युवा, इसमें जलकर न हो जाये राख,
मेहनत और काबिलियत कि कद्र करो तुम, आरक्षण कर देगा सबको खाक,
हर दिन एक सुअवसर हैं, इसका मूल्य समझो जनाब,

न करो युवाओं को गुमराह तुम,
देश के सिपाहियों में भरो उत्साह तुम,
ले जाए देश को ये प्रगति पथ पर,
ऐसे गीत गुनगुनाओ तुम,

न बांटो, इस देश को जाति-धर्म के नाम पर,
ग़रीबों को मिले लाभ, ऐसे उद्घोष लोगों तक पहुंचाओं तुम,
इस आरक्षण की आग ने बहुतों को जलाया हैं,
अब ये आग न लगाओ तुम|

अगला लेख: "१० वां विश्व हिंदी सम्मेलन" भोपाल में १० से १२ सितंबर तक आयोजित!



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
03 सितम्बर 2015
चूहों का गैंग तलवार लेकर भाग रहा था... शेर ने पूछा - क्या हुआ, तुम लोग इतने गुस्से से कैसे भाग रहे हो..? चूहा- हाथी की बेटी को किसी ने प्रपोज किया है, नाम हमारा आ रहा है। लाशें बिछा देंगे.. लाशें!! लड़का अपनी क्लास की लड़की से मिलने गया,जैसे ही दरवाजा खुला लड़की का बाप आया,लड़का – अंकल मैं आपकी बेटी से.
03 सितम्बर 2015
10 सितम्बर 2015
भारत माँ की रक्षा में तत्पर, ऐ वीर तुम्हे सलाम, दुश्मन से ना डरे ना झुके तुम, भारत माँ को हँसते- हँसते दे दी अपनी जान,जितना भी करूँ नमन तुम्हारा, जितना भी करूँ सम्मान,ऐ देश के वीर सिपाही, तुम पे सब कुर्बान,ऐसी है हस्ती तुम्हारी, बर्फ को भी पिघला देते हो तुम,शोलों पे जल-जल कर, दुश्मनों के छक्के छूड़ा
10 सितम्बर 2015
26 अगस्त 2015
टेक्नोलोजी की महिमा अपरम्पार, आज के यूथ की दुनिया इसके बिना है बेकार,इस कदर हावी है इसका नशा, सब समझें सिर्फ़ चैटिंग की भाषा!टेक्नोलोजी ने दिए बहुत वरदान, करो समझदारी से उपयोग वर्ना पछताना पड़ेगा मेहरबान,टेक्नोलोजी को जानो और समझो भाई, पर न बनो इसकी अनुयायी!बच्चो का बचपन इसने छीना, अब न भाए खेल-कूद
26 अगस्त 2015
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x