मै कोहिनूर नहीं ......

13 सितम्बर 2015   |  अर्चना गंगवार   (386 बार पढ़ा जा चुका है)

.उतनी भी मै बुरी नहीं
जितनी तुमको दिखती हूँ

तुम भी उतने भले नहीं
जितना में समझती हूँ

माना मै कोहिनूर नहीं
पर पत्थर खालिस दिखती हूँ

तुम तो खाली कांच के टुकड़े
पर हीरे जैसे बनते हो

झूठ फरेब का कोट पहनकर
खुद को झलते रहते हो

ख़ामोशी का कोट पहनकर
में भी तकती रहती हूँ .......

अगला लेख: लोग



nice !

अर्चना गंगवार
06 दिसम्बर 2015

वर्तिका जी बहुत बहुत धन्यवाद रचना पर आपकी राय मिली
गौरीकांत अच्चा लगा रचना आपको पसंद आई धन्यवाद
योगिता जी बहुत बहुत आभार हौसलाफजाई के लिए धन्यवाद



बहुत सुन्दर रचना अर्चना जी !

सुन्दर रचना

वर्तिका
27 नवम्बर 2015

कितनी कम शब्दों में, कितनी गहरी बात, अर्चना जी! बहुत सुंदर भावाभिव्यक्ति!

अर्चना गंगवार
06 अक्तूबर 2015

अवधेश जी रचना की प्रतिक्रिया से हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण है ।.धन्यवाद

अर्चना गंगवार
06 अक्तूबर 2015

ओम प्रकाश जी रचना कोआपने पसंद किया बहुत् सुक्र्रिया

अंदाजे बयां बेमिशाल ,बधाई हो अर्चना जी!

बहुत सुन्दर रचना !

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
15 सितम्बर 2015
प्
पानी से मत पूछोप्यासे से पूछोप्यास क्या होती है.........यदि पानी को ज्ञान हो जाये प्यासे की प्यास का तो शायद वो बहना छोड़ दे रुक जाये , थम जाये और कही तालाब बन कर दूषित हो जाये जब से इंसान कोअपना ज्ञान हो गया हैतभी से वो तालाबकी तरह दूषितहो गया है .................
15 सितम्बर 2015
15 सितम्बर 2015
सन्नाटो ने थामा है दामन मेरा....हर शाम सर मेरा सहलाया है रात को थपकी दे सुलाया है ......मिलता नहीं जवाब जिन बातो का उन गांठो को सुलझाया है .......सन्नाटो ने पास बैठकर दुनिया से लड़ना सिखलाया है......छुप रहना भी है हथियारऐसी तलवार चलाना सिखलाया है .......वक़्त ज़िन्दगी मेंहर तरह का आएगा सन्नाटे भी है म
15 सितम्बर 2015
26 सितम्बर 2015
मि
आओ मिलकर बैठे कुछ बांटे आधा आधा कुछ गाये आधा आधा .....कुछ गुड कुछ चना आओ मिलकर बैठेकुछ खाए आधा आधा......कुछ आंसू कुछ खुशियाँआओ मिलकर बैठेकुछ बांटे आधा आधा कुछ गाये आधा आधा.......
26 सितम्बर 2015
सम्बंधित
लोकप्रिय
U
20 सितम्बर 2015
चि
06 सितम्बर 2015
खं
24 सितम्बर 2015
प्
01 सितम्बर 2015
बा
02 सितम्बर 2015
बा
20 सितम्बर 2015
03 सितम्बर 2015
लो
14 सितम्बर 2015
सी
02 सितम्बर 2015
दा
06 सितम्बर 2015
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x