भारतीय नारी

27 फरवरी 2016   |  देवेन्द्र प्रसाद   (268 बार पढ़ा जा चुका है)

भारतीय नारी एक साथ 10 से 15 परिवार का टेंशन लेके चलती है -.- -.- -.- एक उनका खुद का बाकि टीवी सीरियल और पडोसी का 😜😜😜

अगला लेख: हिंदी करण



Kokilaben Hospital India
08 मार्च 2018

We are urgently in need of kidney donors in Kokilaben Hospital India for the sum of $450,000,00,For more info
Email: kokilabendhirubhaihospital@gmail.com
WhatsApp +91 779-583-3215

अधिक जानकारी के लिए हमें कोकिलाबेन अस्पताल के भारत में गुर्दे के दाताओं की तत्काल आवश्यकता $ 450,000,00 की राशि के लिए है
ईमेल: kokilabendhirubhaihospital@gmail.com
व्हाट्सएप +91 779-583-3215

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
18 फरवरी 2016
व्
पीडीपी अफज़ल गुरु को शहीद मानती है , और बीजेपी गोडसे को... !! . राम मिलाये जोड़ी एक अँधा एक कोढ़ी... !!!
18 फरवरी 2016
13 फरवरी 2016
अर्ध सत्य तुम, अर्ध स्वप्न तुम, अर्ध निराशा-आशाअर्ध अजित-जित, अर्ध तृप्ति तुम, अर्ध अतृप्ति-पिपासा,आधी काया आग तुम्हारी, आधी काया पानी,अर्धांगिनी नारी! तुम जीवन की आधी परिभाषा।इस पार कभी, उस पार कभी.....तुम बिछुड़े-मिले हजार बार,इस पार कभी, उस पार कभी।तुम कभी अश्रु बनकर आँखों से टूट पड़े,तुम कभी गीत
13 फरवरी 2016
19 फरवरी 2016
ब्
एक अमेरिकी रिसर्च से पता चला है कि भारत में ज्यादातर क्यूट एंजेल नाम की प्रोफाइल के पीछे...'पापा की नन्ही परी' नहीं, मम्मी का 'निकम्मा बेटा' होता है 😄
19 फरवरी 2016
17 फरवरी 2016
हि
प्रणाम मित्रो,मैं अभी नया हु यहाँ इसलिए मुझे ज्यादा कुछ पता नहीं है यहाँ कइ बारे में. मुझे यहाँ काफी अच्छा लग रहा है . बहुत अच्छा है यहाँ .मेरा प्रश्न केवल इतन सा है की यदि गणित के अंक भी हिंदी में हो जाय तो ज्यादा अच्छा नहीं रहेगा?
17 फरवरी 2016
08 मार्च 2016
वि
स्त्री यदि बहन है तो प्यार का दर्पण है,स्त्री यदि पत्नी है तो खुद का समर्पण है,स्त्री यदि भाभी है तो भावना का भण्डार है,स्त्री अगर मामी, मौसी, बुआ है तो स्नेह का सत्कार है,स्त्री यदि चाची है तो कर्तव्य की साधना है,स्त्री अगर साथी है तो सुख की शतत् सम्भावना है,औरस्त्री यदि माँ है तो साक्षात परमात्मा
08 मार्च 2016
18 फरवरी 2016
व्
पीडीपी अफज़ल गुरु को शहीद मानती है , और बीजेपी गोडसे को... !! . राम मिलाये जोड़ी एक अँधा एक कोढ़ी... !!!
18 फरवरी 2016
08 मार्च 2016
ना
औरत  तो अपना फर्ज़ खूब निभाती रही,और ये दुनिया मासूम पर ज़ुल्म ढाती रहीन मालूम कितनी कुर्बानियां दी हैं अब तलक,वो बेक़सूर होकर भी ताउम्र सज़ा पाती रहीबेटी, माँ, सास का किरदार सलीके से निभाया,इनाम तो न हुआ हासिल ज़िल्लत ही पाती रहीउसे इल्म ही न था कुछ सीखने समझने का,यही एक कमी थी दुनिया बेवक़ूफ बनाती रह
08 मार्च 2016
17 फरवरी 2016
माँ मार मार कर खिलाती है ।पत्नी खिला खिला कर मारती है ।(क्षमा करे सभी नही)
17 फरवरी 2016
27 फरवरी 2016
इन तीनों को ग्रहण कीजिए- चरित्र के उत्थान एवं आत्मिक शक्तियों के उत्थान के लिए इन तीनों सद्गुणों- होशियारी, सज्जनता और सहनशीलता-का विकास अनिवार्य है।(1) यदि आप अपने दैनिक जीवन और व्यवहार में निरन्तर जागरुक, सावधान रहें, छोटी छोटी बातों का ध्यान रखें, सतर्क रहें, तो आप अपने निश्चित ध्येय की प्राप्ति
27 फरवरी 2016
08 मार्च 2016
वि
सादर शुभ प्रभात मित्रों,आज विश्व महिला दिवस पर मंच की सभी महिला मित्रों को सादर प्रणाम, महिला शक्ति को सादर नमन। मुझे लगता है कि आज हमें अपने अंतरमन से यह जरूर पुछना चाहिए कि क्या हमारे अबतक के जीवन का एक पल भी बिना किसी महिला के साथ के व्यतित हुआ है। अगर उत्तर नहीं है तो पीछे मुड़कर देखें, जन्म दिया
08 मार्च 2016
08 मार्च 2016
वि
सादर शुभ प्रभात मित्रों,आज विश्व महिला दिवस पर मंच की सभी महिला मित्रों को सादर प्रणाम, महिला शक्ति को सादर नमन। मुझे लगता है कि आज हमें अपने अंतरमन से यह जरूर पुछना चाहिए कि क्या हमारे अबतक के जीवन का एक पल भी बिना किसी महिला के साथ के व्यतित हुआ है। अगर उत्तर नहीं है तो पीछे मुड़कर देखें, जन्म दिया
08 मार्च 2016
27 फरवरी 2016
इन तीनों को ग्रहण कीजिए- चरित्र के उत्थान एवं आत्मिक शक्तियों के उत्थान के लिए इन तीनों सद्गुणों- होशियारी, सज्जनता और सहनशीलता-का विकास अनिवार्य है।(1) यदि आप अपने दैनिक जीवन और व्यवहार में निरन्तर जागरुक, सावधान रहें, छोटी छोटी बातों का ध्यान रखें, सतर्क रहें, तो आप अपने निश्चित ध्येय की प्राप्ति
27 फरवरी 2016
28 फरवरी 2016
एक औरत मॉल से बिस्कुट चुराते हुए पकड़ीगयी।......जज ने कहा तुमने जो बिस्कुट का पैकेट चुराया उसमे 10 बिस्कुट थे।इसलिए तुम्हे 10 दिन की जेल की सज़ादी जाती है।...पति पीछे से चिल्लाया। जज साहब इसने एक सौंफ का पैकेटभी चुराया है।😜😜😜😜😜😜😜😜
28 फरवरी 2016
13 फरवरी 2016
अर्ध सत्य तुम, अर्ध स्वप्न तुम, अर्ध निराशा-आशाअर्ध अजित-जित, अर्ध तृप्ति तुम, अर्ध अतृप्ति-पिपासा,आधी काया आग तुम्हारी, आधी काया पानी,अर्धांगिनी नारी! तुम जीवन की आधी परिभाषा।इस पार कभी, उस पार कभी.....तुम बिछुड़े-मिले हजार बार,इस पार कभी, उस पार कभी।तुम कभी अश्रु बनकर आँखों से टूट पड़े,तुम कभी गीत
13 फरवरी 2016
08 मार्च 2016
वि
स्त्री यदि बहन है तो प्यार का दर्पण है,स्त्री यदि पत्नी है तो खुद का समर्पण है,स्त्री यदि भाभी है तो भावना का भण्डार है,स्त्री अगर मामी, मौसी, बुआ है तो स्नेह का सत्कार है,स्त्री यदि चाची है तो कर्तव्य की साधना है,स्त्री अगर साथी है तो सुख की शतत् सम्भावना है,औरस्त्री यदि माँ है तो साक्षात परमात्मा
08 मार्च 2016
08 मार्च 2016
ना
औरत  तो अपना फर्ज़ खूब निभाती रही,और ये दुनिया मासूम पर ज़ुल्म ढाती रहीन मालूम कितनी कुर्बानियां दी हैं अब तलक,वो बेक़सूर होकर भी ताउम्र सज़ा पाती रहीबेटी, माँ, सास का किरदार सलीके से निभाया,इनाम तो न हुआ हासिल ज़िल्लत ही पाती रहीउसे इल्म ही न था कुछ सीखने समझने का,यही एक कमी थी दुनिया बेवक़ूफ बनाती रह
08 मार्च 2016
28 फरवरी 2016
28 फरवरी 2016
08 मार्च 2016
ना
औरत  तो अपना फर्ज़ खूब निभाती रही,और ये दुनिया मासूम पर ज़ुल्म ढाती रहीन मालूम कितनी कुर्बानियां दी हैं अब तलक,वो बेक़सूर होकर भी ताउम्र सज़ा पाती रहीबेटी, माँ, सास का किरदार सलीके से निभाया,इनाम तो न हुआ हासिल ज़िल्लत ही पाती रहीउसे इल्म ही न था कुछ सीखने समझने का,यही एक कमी थी दुनिया बेवक़ूफ बनाती रह
08 मार्च 2016
17 फरवरी 2016
गा
आइये शुरुआत  गायत्री महामंत्र से करें ।महामंत्र – ॐ भूर्भुव: स्व: तत्सवितुर्वरेण्यं भर्गो देवस्य धीमहि धियो यो न: प्रचोदयात्।अर्थ – उस प्राणस्वरूप, दुःखनाशक, सुखस्वरूप, श्रेष्ठ, तेजस्वी, पापनाशक, देवस्वरूप परमात्मा को हम अन्तःकरण में धारण करें । वह परमात्मा हमारी बुद्धि को सन्मार्ग में प्रेरित करे ।
17 फरवरी 2016
08 मार्च 2016
वि
सादर शुभ प्रभात मित्रों,आज विश्व महिला दिवस पर मंच की सभी महिला मित्रों को सादर प्रणाम, महिला शक्ति को सादर नमन। मुझे लगता है कि आज हमें अपने अंतरमन से यह जरूर पुछना चाहिए कि क्या हमारे अबतक के जीवन का एक पल भी बिना किसी महिला के साथ के व्यतित हुआ है। अगर उत्तर नहीं है तो पीछे मुड़कर देखें, जन्म दिया
08 मार्च 2016
27 फरवरी 2016
मा
जब एक रोटी के चार टुकङे हो औरखानेवाले पांच हो तब मुझे भूख नही है ऐसा कहनेवाला कौन है ??उत्तर -"माॅ"सुप्रभात _/\_
27 फरवरी 2016
08 मार्च 2016
ना
औरत  तो अपना फर्ज़ खूब निभाती रही,और ये दुनिया मासूम पर ज़ुल्म ढाती रहीन मालूम कितनी कुर्बानियां दी हैं अब तलक,वो बेक़सूर होकर भी ताउम्र सज़ा पाती रहीबेटी, माँ, सास का किरदार सलीके से निभाया,इनाम तो न हुआ हासिल ज़िल्लत ही पाती रहीउसे इल्म ही न था कुछ सीखने समझने का,यही एक कमी थी दुनिया बेवक़ूफ बनाती रह
08 मार्च 2016
19 फरवरी 2016
बो
बोलो धत तेरे की…! 😛😛 नमस्कार को टाटा खा गया,नूडल खा गया आटा!! अंग्रेजी के चक्कर मेंहुआ बडा ही घाटा !!!! बोलो धत्त तेरे की !! माताजी को मम्मी खा गयीपिता को खा गया डैड!! दादाजी को ग्रैंडपा खा गये,सोचो कितना बैड !!!! बोलो धत्त तेरे की !!गुरुकुल को स्कूल खा गया,गुरु को खा गया चेला!! सरस्वती माता की प्
19 फरवरी 2016
17 फरवरी 2016
माँ मार मार कर खिलाती है ।पत्नी खिला खिला कर मारती है ।(क्षमा करे सभी नही)
17 फरवरी 2016
17 फरवरी 2016
माँ मार मार कर खिलाती है ।पत्नी खिला खिला कर मारती है ।(क्षमा करे सभी नही)
17 फरवरी 2016
10 मार्च 2016
वड़ापाव चुराकर भागते बच्चे को जब कुछ लोग पकडकर पीटने लगे तो बच्चे के हाथ से वडापाव गिर गया जो एक अखबार के पन्ने मे लिपटा हुआ था,,बच्चे को मारपीटकर जब सब लोग चले गये तो जहां जमीन पर गिरा लहुलुहान बच्चा दर्द से तडप रहा था वहीं उसकी बगल मे गिरा वो अखबार का फटा पन्ना भी हवा से फडफडा रहा था जिसपर पर एक ख
10 मार्च 2016
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x