मेरे जुनूँ का नतीजा ज़रूर निकलेगा

15 मार्च 2016   |  ओम प्रकाश शर्मा   (325 बार पढ़ा जा चुका है)

मेरे जुनूँ का नतीजा ज़रूर निकलेगा

मेरे जुनूँ का नतीजा ज़रूर निकलेगा,

इसी सियाह समंदर से नूर निकलेगा I


गिरा दिया है तो साहिल पे इंतिज़ार न कर,

अगर वो डूब गया है तो दूर निकलेगा I


उसी का शहर वही मुद्दई वही मुंसिफ़,

हमें यक़ीं था हमारा क़ुसूर निकलेगा I


यक़ीं न आए तो इक बात पूछ कर देखो,

जो हँस रहा है वो ज़ख़्मों से चूर निकलेगा I


उस आस्तीन से अश्कों को पोछने वाले,

उस आस्तीन से ख़ंजर ज़रूर निकलेगा I

-अमीर कज़लबाश


अगला लेख: आम बजट 2016 आपके लिए ?



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
10 मार्च 2016
'जैसा खाओ अन्न, वैसा बने मन' इस कहावत से हम सब परिचित तो हैं लेकिन इसे अमल में लाना बहुत मुश्किल होता है। ख़ासकर बढ़ते बच्चों के खान-पान का विशेष ध्यान रखना होता है क्योंकि बढ़ती उम्र के साथ उनकी खाने पीने की आदतें भी बदल जाती हैं। ऐसे में यह जानना जरूरी है कि बच्चे को खाने में क्या-क्या दिया जाना चाहि
10 मार्च 2016
09 मार्च 2016
लद गए वो दिन जब आदमी से हाल पूछो तो बड़ी मायूसी से कह देता था, 'बस, चल रही है दाल-रोटी किसी तरह'। अब धोखे से भी ये जुमला मुंह से निकल जाए तो कौन जाने दूसरे ही दिन डाका पड़ जाए। ये मज़ाक नहीं, बल्कि आज की हक़ीक़त है। 20 रूपए किलो आटा और 160 रूपए किलो दाल का भाव उस आदमी को ज़रूर रटा होगा जो सुबह से शाम तक म
09 मार्च 2016
09 मार्च 2016
हिंदू धर्म में माँ सरस्वती को विद्या की देवी कहा गया है। सरस्वती जी को वीणावादिनि, वीणापाणि एवं वाग्देवी आदि नामों से भी जाना जाता है। सरस्वती जी को श्वेत वर्ण अत्यधिक प्रिय होता है। श्वेत वर्ण सादगी का प्रतीक माना जाता है। हिन्दू धर्म के अनुसार श्री कृष्ण जी ने सर्वप्रथम सरस्वती जी की आराधना की थी।
09 मार्च 2016
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x