भावुकता स्नेहिल ह्रदय ,दुर्बलता न नारी की ,

08 अप्रैल 2016   |  शालिनी कौशिक एडवोकेट   (303 बार पढ़ा जा चुका है)

The Brave Women of India21-Year-Old Shreya...

भावुकता स्नेहिल ह्रदय ,दुर्बलता न नारी की ,

संतोषी मन सहनशीलता, हिम्मत है हर नारी की .

.......................................................................

भावुक मन से गृहस्थ धर्म की , नींव वही जमाये है ,

पत्थर दिल को कोमल करना ,नहीं है मुश्किल नारी की.

..................................................................................

होती है हर कली पल्लवित ,उसके आँचल के दूध से ,

ईश्वर के भी करे बराबर ,यह पदवी हर नारी की .

...................................................................................

जितने भी इस पुरुष धरा पर ,जन्मे उसकी कोख से ,

उनकी स्मृति दुरुस्त कराना ,कोशिश है हर नारी की .

.........................................................................

प्रेम प्यार की परिभाषा को ,गलत रूप में ढाल रहे ,

सही समझ दे राह दिखाना ,यही मलाहत नारी की .

...............................................................................

भटके न वह मुझे देखकर ,भटके न संतान मेरी ,

जीवन की हर कठिन डगर पर ,इसी में मेहनत नारी की .

................................................................................

मर्यादित जीवन की चाहत ,मर्म है जिसके जीवन का ,

इसीलिए पिंजरे के पंछी से ,तुलना हर नारी की .

..........................................................................

बेहतर हो पुरुषों का जीवन ,मेरे से जो यहाँ जुड़े ,

यही कहानी कहती है ,यहाँ शहादत नारी की .

...................................................................

अभिव्यक्त क्या करे ''शालिनी ''महिमा उसकी दिव्यता की ,

कैसे माने कमतर शक्ति ,हर महिका सम नारी की .

...................................................................................

                      शालिनी कौशिक 

                               [कौशल ]


शब्दार्थ -मलाहत-सौंदर्य 

                                     

अगला लेख: '' न कोशिश ये कभी करना .''



Kokilaben Hospital India
08 मार्च 2018

We are urgently in need of kidney donors in Kokilaben Hospital India for the sum of $450,000,00,For more info
Email: kokilabendhirubhaihospital@gmail.com
WhatsApp +91 779-583-3215

अधिक जानकारी के लिए हमें कोकिलाबेन अस्पताल के भारत में गुर्दे के दाताओं की तत्काल आवश्यकता $ 450,000,00 की राशि के लिए है
ईमेल: kokilabendhirubhaihospital@gmail.com
व्हाट्सएप +91 779-583-3215

स्त्री संघर्ष की सशक्त अभिव्यक्ति .

आभार

बेहतर हो पुरुषों का जीवन ,मेरे से जो यहाँ जुड़े ,
यही कहानी कहती है ,यहाँ शहादत नारी की .
...................................................................
अभिव्यक्त क्या करे ''शालिनी ''महिमा उसकी दिव्यता की ,
कैसे माने कमतर शक्ति ,हर महिका सम नारी की ...................उम्दा लेखनी !

रवि कुमार
09 अप्रैल 2016

बेहद सुंदर

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x