बुरा क्यों

08 जून 2016   |  प्रिंस सिंघल   (189 बार पढ़ा जा चुका है)

गर्मी के मौसम में अक्सर मैं समुद्र किनारे घूमने निकल जाया करता था, और वहीं बैठा समुद्र की ठंडी लहरों का आनंद लेता. उस दिन जब मैं समुद्र किनारे पेड़ के नीचे बैठा था तो मेरी नज़र एक कीड़े पर पड़ी. वह अपने बिल तक पहुंचने के लिए बहुत कोशिश कर रहा था, लेकिन बार - बार लहरें आती और उसे पीछे ले जाती. वह भी अपने पैर बालू में गड़ा देता और लहरों के जाने के बाद फिर अपने बिल की और चल देता. मैं वहां बैठा यही देख रहा था कि कीड़ा अपने बिल तक पहुंच भी पाएगा या नहीं. अबकी बार जब लहरें आई तो जाते हुए एक मेंढक को छोड़ गई. मेंढक कीड़े को देखकर जैसे ही उस पर झपटा तभी वृक्ष पर बैठी चील बिजली की गति से आई और मेंढक को उठा ले गई. कीड़ा अपने बिल तक पहुँचने में सफल हो गया और अब मेरी समझ में आ गया था किसी का बुरा क्यों ?

 

अगला लेख: जीने की राह



kratika
09 जून 2016

प्रेरणादायक रचना

एक वेहतरीन लघु कथा । प्रेरणादायक रचना अच्छी लगी।

बहुत बहुत धन्यवाद

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
18 जून 2016
शि
शिष्टाचार व्यक्तित्व विकास का प्रमुख पहलू है. आज के युग में सफलता पाने के लिये जरूरी है कि  आप सभी वर्गों में लोकप्रिय हों और अपनी एक अलग पहचान बनाये. शिष्टाचार इसमें हमारी मदद करता है. हम दूसरों से अच्छे व्यवहार की उम्मीद तभी कर सकते है जब स्वयम में शिष्टाचार होगा. संबंधों में प्रगाढ़ता लाने के लिए 
18 जून 2016
07 जून 2016
कि
श्याम जी को अपने मकान के लिए कई दिनों से किरायेदार की तलाश थी.  मेरे एक मित्र का ट्रांसफर मेरे ही शहर में हो गया. उसने रहने के लिए मुझसे किराये का कमरा दिलवाने को कहा. मैं और मेरा मित्र श्याम जी का कमरा देखने चले गए. कमरा मित्र कोपसंद भी आ गया, लेकिन श्याम जी को जैसे ही पता लगा मेरा मित्र दूसरे धर्म
07 जून 2016
14 जून 2016
फि
जिस देश में बेटियां बिकने पर मजबूर हों और बेटे घर परिवार की सुरक्षा के लिए कलम की बजाय बंदूक पकड़ने को मजबूर हो जाएँ, तो ऐसी आजादी बेमानी होने की बात मन में उठना स्वभाविक है. बाजार हो या ट्रेन, या बस हो, कब छुपाकर रखा बम फट जाये, इस दहशत में आजाद भारत में जीना पड़े तो इसे विडंबना ही कहा जायेगा. जहाँ ए
14 जून 2016
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x