आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x

जानिए क्या है GST, और इसके फायदे

16 अगस्त 2016   |  विकास

जानिए क्या है GST, और इसके  फायदे

जीएसटी विधेयक एक "कर" संबंधित बिल है जो देशवासियो पर कर लगायेगा | अब आप पूछोगे इसमें ऐसा क्या नया है जिसको राज्यसभा में पास होने पर  पुरे देशवासी इतनी खुशिया मना रहे है? आओ इसके बारे में विस्तार से जानने की कोशिश करते है |


इस विधेयक में वस्तुओ एवं सेवाओ को शामिल किया गया है | लागु होने के बाद ये वैट,सीएसटी ,सेवा कर ,विशेष अतरिक्त शुल्क ( एसएडी ), उत्पाद कर, खरीद- फरोख्त कर जैसे कई  करो को प्रतिस्तापित कर उनकी जगह ले लेगा |  करदान को सरल एवं सामान रूप से प्रस्तुत करने वाला ये बिल अबतक का सबसे  बड़ा अप्रत्यक्ष कर सुधार होगा | 


सन 1954 में  फ्रांस  इस प्रणाली को अपने देश में लागू  कर ऐसा करने वाला  दुनिया का पहला देश बन गया | अब  तक लगभग 140 देश इस

प्रणाली को लागू कर चुके है इसलिए जीएसटी बिल भारत के लिए अब तक का सबसे बड़ा कर सुधार साबित हो सकता है | 


 इस बिल को सफलतापूर्वक लागू होने के बाद हम मुख्यतः इन तीन क्षेत्रो में बड़ा बदलाव देख सकते है- 

1) अधिक रोजगार   2) कम  भ्रस्टाचार   3) बेहतर सरकारी सेवाओ का लाभ 


ये सब कैसे होगा अब आओ इसको समझने की कोशिश करते है -


विनिर्माण क्रांति किसी भी देश को गरीबी से बाहर निकलने के लिए एक प्राथमिक तरीका है लेकिन  हम इस क्षेत्र में पीछे छुट रहे है क्योंकि अबतक  करदान में चरम जटिलता की वजह से ज्यादातर उद्यमि भारत में कारखान सेटअप  नहीं करना चाहते थे | ये भारत की बजाये बांग्लादेश  

जैसे छोटे देशो में  अपना कारखाना बनाने में तरजीह देते थे|  क्योंकि वहा जीएसटी एवं इसके जैसे कई  विधेयक पहले से लागू है|  

जिससे भारत विदेशी  व्यापार  आकर्शित करने में इन  देशो से पीछे था| 


जीएसटी को लागू करने के पीछे मुख्य कारण भारत में व्यवसाय स्थापित करने में आने वाली प्राथमिक बाधाओ को दूर करना है | इसे लागू होने के 

बाद कारखानों से वस्तुओ को बिना किसी ज्यादा झंझट के कुशलतापूर्क स्थानांतरित कर सकेंगे | जिससे और अधिक कारखाने खुलेंगे और जब 

अधिक कारखाने होंगे तो वहा  रोजगार बढेगा | एवं अधिक प्रतिष्पर्धा होने के कारण कम कीमतों में सामान मिलेगो जिससे महंगाई कम होगी और 

सरकार अधिक से अधिक कर जुटा सकेगी | 
 

लंबी दौड़  में सरकार जीएसटी से ज्यादा पैसे जुटाने के बाद या तो वो दूसरे करो में कमी कर देगी या दूसरी सेवाएं  बड़ा देगी| दोनों योजनाओ  से ही आम आदमी  को फायदा पहुचेगा | 


कर एकत्रित करने की सिर्फ एक खिड़की होने से पारदर्शिता बढ़ेगी जिससे भ्रस्टाचार में कमी आएगी | ऐसा होने से विश्व बैंक की नजरो में भारत की 

छवि सुधरेगी और भारत में विदेशी निवेश बढेगा|फलस्वरूप भारत में विदेशी मुद्रा कोष के साथ ही रोजगार में भी बढ़ावा आयेगा |  


जीएसटी के पंजीकरण की प्रक्रिया को  भी सरल बनाया जाएगा जिससे हमारे देश में  व्यापार करना आसान हो जायेगा | विशेषज्ञों के मुताबिक इस 

बिल के लागू होने के बाद भारत के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी ) में 2 प्रतिशत तक का इज़ाफ़ा देखने को मिल सकता है | 


लेकिन इसकी आलोचनाएं भी हो रही है क्योंकि भारत एक दोहरी  जीएसटी नीति अपना रहा  है , जिसमें केंद्रीय जीएसटी को  सीजीएसटी और 

राज्य  जीएसटी को एसजीएसटी बुलाया जाएगा| दोहरी नीति के कारण राज्यों और केंद्र के बीच समन्वय बिठाना होगा और ये सब करने के लिए 

पहले ढांचागत तैयारियां करनी होगी | ये सब करने और बिल को पुरे देश में पूर्णतया लागू करने में थोड़ी मुश्किलें हो सकती है|लेकिन किसी ने कहा है मंज़िल तो मिल ही जाएगी भटकते ही सही, ग़ुमराह तो वो है जो घर से निकले ही नहीं |

तो दोस्तों आज इस  लेख  में आपने  समझा जीएसटी बिल किस तरह आम आदमी और देश के लिए लाभान्वित साबित हो सकता है| अगले लेख में

 फिर से मिलेंगे कुछ नयी एवं अनोखी जानकारी लेकर, तब तक के लिए अलविदा | 

 
 


Kokilaben Hospital India
08 मार्च 2018

We are urgently in need of kidney donors in Kokilaben Hospital India for the sum of $450,000,00,For more info
Email: kokilabendhirubhaihospital@gmail.com
WhatsApp +91 779-583-3215

अधिक जानकारी के लिए हमें कोकिलाबेन अस्पताल के भारत में गुर्दे के दाताओं की तत्काल आवश्यकता $ 450,000,00 की राशि के लिए है
ईमेल: kokilabendhirubhaihospital@gmail.com
व्हाट्सएप +91 779-583-3215

काफी रोचक और जानकारियों से भरपूर लेख है. धन्यवाद विकास

सम्पूर्ण लेख

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें

शब्दनगरी से जुड़िये आज ही

सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
लोकप्रिय प्रश्न