शिवपाल यादव समाजवादी पार्टी की टंगड़ी या बैसाखी?

17 अगस्त 2016   |  प्रतीक सिंह   (431 बार पढ़ा जा चुका है)

शिवपाल यादव समाजवादी पार्टी की टंगड़ी या बैसाखी?


समाजवादी पार्टी में कुछ अनोखा हो रहा है. रविवार को मुलायम सिंह यादव के भाई शिवपाल सिंह यादव ने इस्तीफ़ा देने के धमकी दी. कहा कि अखिलेश के अधिकारी बात नहीं मान रहे और मंत्री मनमानी कर रहे हैं. सोमवार को मुलायम भी भाई के सपोर्ट में आ गए. बोले कि अगर शिवपाल ने इस्तीफ़ा दे दिया, तो पार्टी की हालत ख़राब हो जाएगी. अखिलेश को भी ‘डांट’ लगाई. ये सब कुछ हुआ मुलायम के चचेरे भाई रामगोपाल यादव के आदमियों के चलते. उन पर मैनपुरी में गरीब लोगों की जमीनें हड़पने का आरोप लगा था. शिवपाल के पास शिकायत आई. लेकिन शिवपाल के कहने के बावजूद जिला प्रशासन ने कोई एक्शन नहीं लिया. हालांकि अब मुलायम के कहने के बाद शिवपाल थोड़े नरम दिख रहे हैं.

शिवपाल सिंह का इतिहास: भाई मुलायम के विश्वासपात्र

6 अप्रैल 1955 को जन्म हुआ था शिवपाल का. इटावा जिले के सैफई में. 5 भाई और एक बहन थे इनके. मुलायम हैं इनके बड़े भाई. इन्होंने बीए तक पढ़ाई की. मुलायम के राजनीति में आने के बाद इन्होंने भी पूरा हाथ बंटाया.

90 के दशक में ये जिला पंचायत इटावा के अध्यक्ष बने. पर इन्होंने अपनी राजनीति को-ऑपरेटिव से शुरू की. जो काम अमित शाह ने गुजरात में बीजेपी के लिए किया था, वही काम इन्होंने उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के लिए किया. को-ऑपरेटिव के जरिये हर जिले में समाजवादी पार्टी की पकड़ बनाई. उत्तर प्रदेश सहकारी ग्राम विकास बैंक लिमिटेड, लखनऊ के अध्यक्ष बने. 1996 में पहली बार उत्तर प्रदेश विधानसभा पहुंचे. 97-98 में विधानसभा की अनुसूचित जाति और जनजाति से जुड़ी समिति के सदस्य बने. फिर एक वक़्त आया कि समाजवादी पार्टी के महासचिव भी रहे. फिर जब मुलायम की सरकार आई तो कैबिनेट मिनिस्टर भी रहे. जब मायावती की सरकार बनी तो ये नेता प्रतिपक्ष रहे.

 

शिवपाल यादव

भाई के साथ इन्होंने मेहनत बहुत की है. राजनीति में अपना पूरा वक़्त दिया है. शिवपाल का यूपी के बाहर उतना रौला नहीं है. पर राज्य में बहुत पकड़ है. पर ये सब कुछ आसान नहीं रहा है. पार्टी की राजनीति के अलावा पारिवारिक कलह भी बहुत रहा है. तीन बार तो शिवपाल इस्तीफे की धमकी दे चुके हैं. पर मुलायम ने मना लिया है. क्योंकि समाजवादी पार्टी में मुलायम के बाद शिवपाल ही ऐसे व्यक्ति हैं, जिनकी यूपी के हर जिले में पकड़ है.

चचेरे भाई रामगोपाल भी हैं, पर वो यूपी में उतनी पकड़ नहीं रखते. दिल्ली का काम देखते थे. राज्यसभा से सांसद हैं. पर शिवपाल जनता के नेता हैं. जसवंतनगर से डेढ़-दो लाख वोट से जीतते हैं. हालांकि यहां से इनके बेटे आदित्य यादव जसवंत नगर से ही जिला पंचायत सदस्य का चुनाव हार गए थे. समाजवादी पार्टी के बागी दुष्यंत सिंह यादव से.

आदित्य यादव

डिंपल यादव के फिरोजाबाद में राज बब्बर से हार के बाद ‘यादव परिवार’ की ये सबसे चर्चित हार थी.

डिंपल यादव और अखिलेश यादव

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार भी थे शिवपाल

मुलायम और शिवपाल की उम्र में 16 साल का अंतर है. ऐसे में बूढ़े होते मुलायम की जगह शिवपाल को मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार देखा जाने लगा था. पर 2012 विधानसभा चुनावों में मुलायम के बेटे अखिलेश यादव की सक्रियता ने इस पर फुल स्टॉप लगा दिया. उस समय शिवपाल बड़े नाराज हुए थे. मीडिया में ऐसा आया था कि शिवपाल ने कहा: ‘जिस बेटे को अपने सामने बड़ा होते देखा, वो अब हम सबसे बड़ा हो जायेगा.’ किसी जमाने में समाजवादी पार्टी ने ‘वंशवाद’ को सिद्धांतत: दुत्कारा था. पर अपने बेटे के मामले में मुलायम भाई को भी भूल गए. पर उस वक़्त भी शिवपाल को मना लिया गया था. और अखिलेश को मुख्यमंत्री बना दिया गया.

चाचा-भतीजा की आपसी झंझट

अखिलेश यादव और शिवपाल यादव: indianexpress से

पर इसके बाद मुख्यमंत्री अखिलेश और शिवपाल में तकरारें होती रहीं. आइये देखते हैं कि नई वाली से पहले कब-कब तकरारें हुई हैं:आगे पढ़ें.....

http://www.thelallantop.com/tehkhana/the-story-of-shivpal-yadav-in-the-wake-of-internal-feud-in-samajwadi-party/

अगला लेख: पेटीकोट



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
03 अगस्त 2016
03 अगस्त 2016
02 अगस्त 2016
मे बताता हूँ कि पाकिस्तान से युद्ध करने से क्यों पीछे हट रहे है मोदी..... ध्यान से पूरा पढना.. यह पोस्ट लाइक्स के लिए नहीं लिखी है, पढ़कर कुछ सकारात्मक लगे, अंतरात्मा जागे तो शेयर अवश्य करें.. दरअसल प्रधानमंत्री मोदी की ये हालत तुम्हारे कुकर्मो का फल है..(कांग्रेस और वामपंथियों) ने कहाँ भारत के रक्ष
02 अगस्त 2016
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x