निलंबन छलावा या न्याय

19 अगस्त 2016   |  विष्णु द्विवेदी   (53 बार पढ़ा जा चुका है)

निलंबन से न्याय नहीं हो जाता है इससे बस कुछ लोग अपनी छवि को साफ बरकरार रख लेते हैं माननीय अखिलेश यादव । बुलंदशहर जिसके बारे में मुझे ज्यादा नहीं बस यही पता है कि, उ.प्र. का एक शहर जो राष्ट्रीय राजधानी के पास है,और कई पब्लिकेशन हाउस वगैरा है । पर इस सदी की सबसे वीभत्स घटना यहीं हुई थी कुछ महीने पहले ,28दिन की बच्ची का बलात्कार ,बलात्कार करने वाला मानसिक विक्षुप्त नहीं था , वो किसी वीडियो को देखकर भटका हुआ युवक नहीं था बल्कि उस बच्ची का करीबी 25 साल का वयस्क था क्यों किया उसने ये जवाब किसी के पास नहीं, उसमें दोषी को क्या सजा दी गई मुझे नहीं पता । सजा ,न्याय इन शब्दों का अर्थ क्या है, जैसे हमारे समाज को नहीं पता कोई कहता है कि गलती हो जाती है ,जनाब! जब गलती होती है तो सजा भी मिलती है,एक वकील हैं आजकल लाइमलाईट में हैं जो सिर्फ नोट बटोरने के लिए के लिए वकालत में आए हैं कह रहें हैं रॉड इस्तेमाल हुई थी या नहीं ये उनका मुद्दा है जब कि दोष साबित हो चुका है,मुद्दा ये होना चाहिए कि जुर्म की सजा मिले(निर्भया केस)। अब फिर बुलंदशहर में चौकी से महज सौ मी. की दूरी पर एक ऐसी शर्मनाक घटना फिर होती है, 20 मिनट तक पुलिस से बात नहीं हो पाती और निलंबन से आक्रोश को दबाये जाने की कोशिश हो रही है। आशा करता हूँ कि निकम्मे लोगों को पुलिस से हटाने के बाद जो योग्य लोग हैं सभी अपराधियों की धरपकड़ कर लेंगें । जब सजाए मौत मिले उन्हें तो राष्ट्रपति जी जीवनदान मत देना वो क्या है न कि हम अभिजीत नहीं हैं। मोरल पुलिसिंग करने वाले धार्मिक संगठन कुछ व्यस्त हैं हूरें बनाने में कुछ गाय को माथे चढ़ाने में। वेलेंटाइन डे पर हंगामा मचाने वालों तब तो बड़ी सभ्यता समाप्त होने लगती है,ऐसे समय पर तुम्हें क्या हो जाता है तुम्हारी प्राथमिकता सामाजिकता से निजता की तरफ चली आती है या फिर ये तुम्हारी हमारी सभ्यता की तुच्छ मानसिकता की विरासत है ,है ना?

आधी आबादी के नाम पर राजनीति करने वालों अब तुम खामोश हो क्योंकि तुम यहाँ अपना मुनाफा नहीं भुना सकते न?

बेटों को पूजने वाली दादियों और माँओं थोड़ी समझ अपने लाड़ले को भी दे देना

अगला लेख: पुरस्कार राशि



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x