आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x

भारत की हाई-क्लास पनडुब्बी की पूरी जानकारी लीक, पाकिस्तान तक पहुंचने का डर

24 अगस्त 2016   |  प्रतीक सिंह

भारत की हाई-क्लास पनडुब्बी की पूरी जानकारी लीक, पाकिस्तान तक पहुंचने का डर

इंडियन नेवी की स्कॉर्पीन क्लास पनडुब्बी की पूरी व्यवस्था लीक हो गई है. मतलब पूरे 22,400 पन्नों की जानकारी. ये पनडुब्बी इंडिया और फ्रांस मिलकर बना रहे हैं. इस पनडुब्बी पर नेवी का बड़ा भरोसा है. क्योंकि इसी क्लास की एक पनडुब्बी 1967 से 1997 तक भारत के समुद्री सीमाओं में माकती फिरती थी. इसके नए क्लास का पूरा डिजाइन फ्रांस की कंपनी DCNS दे रही थी. ऑस्ट्रेलिया के अखबार The Australian ने ये दावा किया है कि कंपनी से ही जानकारी लीक हुई है. अब ये जानकारी पाकिस्तान तक भी पहुंच सकती है. इसके अलावा दुनिया के कई देश इस से मिलती-जुलती पनडुब्बी इस्तेमाल करते हैं. ग्रहण उन पर भी लगेगा.

Scorpene Submarine

आइये पढ़ते हैं इस पूरे मामले के बारे में:

1.


इंडिया ने 3 बिलियन डॉलर में ऐसी 6 पनडुब्बियों का ऑर्डर किया था. फ्रांस की कंपनी DCNS टेक्नोलॉजी देगी. बिल्डर कंपनी MDL है. इसको Project 75 के नाम से जाना जाता है. मुंबई के मझगांव डॉक में बनी पहली पनडुब्बी ‘कलवारी’का ट्रायल मई में हुआ था.

2.


DCNS के डॉक्यूमेंट्स पर Restricted Scorpene India लिखा हुआ है. मतलब ये पूरी तरह से भारत वाली पनडुब्बियों का डॉक्यूमेंट था.

3.


DCNS को अभी हाल में ही ऑस्ट्रेलिया से 50 बिलियन डॉलर का ठेका मिला है. इस कंपनी में फ्रांस सरकार की दो-तिहाई हिस्सेदारी है.

4.


पहली पनडुब्बी कलवारी तैयार है. मई में ट्रायल हुआ था. इस साल के अंत में नेवी में आ जाएगी.

5.


इस पनडुब्बी की खासियत ये है कि इसे देख और सूंघ पाना मुश्किल है. मतलब इसका स्टील्थ फीचर मजबूत है. ये किसी भी जहाज के नजदीक पहुंच सकती है. इसमें हथियार हैं, जो किसी को भी उड़ा सकते हैं. किसी पनडुब्बी को खोज के मारना हो, जानकारी इकठ्ठी करनी हो, माइन बिछाना हो, सबमें काम आएगी.

6.


पूरे ट्रॉपिकल एरिया में ये पनडुब्बी चलेगी. ट्रॉपिक मतलब बंगाल की खाड़ी और अरब सागर से लेकर पूरे हिन्द महासागर तक.

7.


इसमें Weapons Launching Tubes (WLT) हैं. मतलब हथियार चलाने और रि-लोड करने का पूरा इंतजाम है.

8.


कलवारी को टाइगर शार्क भी कहा जाता है. टाइगर शार्क बोले तो गहरे समंदर की सबसे खतरनाक शिकारी.

9.


एक मजेदार बात ये है कि नेवी में एक परंपरा है. जिसके मुताबिक जब तक पहली पनडुब्बी या जहाज़ पानी में उतरता रहेगा, उसका नया वर्जन नहीं आएगा. हालांकि पहली कलवारी 1996 में उतरना बंद हुई थी. पर उसके दस साल बाद भारत ने फिर बनाने की शुरुआत की. कागज़-पत्तर करने में ही टाइम लग गया था.

10.


रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा है कि ये कहीं से लीक नहीं हुआ है. बल्कि हैकिंग का मामला है. मतलब किसी ने चुराई है ये जानकारी. मामले में जांच के आदेश हो गए हैं.

11.


अभी तक डॉक्यूमेंट किसी न्यूज़ एजेंसी के हाथ नहीं लगे हैं. ये भी क्लियर नहीं है कि कहां तक पहुंचे हैं ये डॉक्यूमेंट. या किसने निकलवाए हैं.

http://www.thelallantop.com/news/australian-media-claims-that-documents-of-india-france-made-submarine-leaked/


शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
प्रश्नोत्तर
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x