आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x

Sketches from Life: मैसूर पैलेस

13 सितम्बर 2016   |  हर्ष वर्धन जोग

Sketches from Life: मैसूर पैलेस

मैसूर शहर बंगलौर से लगभग 150 किमी की दूरी पर है और समुद्र तल से इसकी उंचाई 770 मीटर है. शहर की आबादी दस लाख से कम है और मौसम गर्म और उमस भरा है. परन्तु अक्टूबर से मार्च तक सुहावना रहता है. मैसूर चामुंडी हिल्स की तलहटी में बसा है.

बहुत पुराने समय से मैसूर एक अलग राज रहा है और 1339 से लेकर 1950 तक यहाँ वाडियार ( कन्नड़ में ओडियार भी कहते हैं ) घराने का राज रहा है. मैसूर के पच्चीसवें और अंतिम महाराजा थे जयचामराज वाडियार जिन्होंने 1940 से 1950 तक राज किया और फिर मैसूर का भारत में विलय हो गया.

मैसूर राज महल सबसे पहले 14वीं सदी में महराजा यदुराया ने पुराने किले के अंदर बनवाया. उसके बाद इसे कई बार बनवाया गया. महाराजा कृष्णाराजा वाडियार चतुर्थ ने ब्रिटिश वास्तुकार हेनरी इरविन के द्वारा 1897 में नया राजमहल बनवाना शुरू कराया जो 1912 में पूरा हुआ. महल तीन मंजिला है और पत्थर / संगमरमर का बना हुआ है. एक टावर पांच मंजिला याने 145 फीट का है. महल के चारों ओर बड़े बड़े लॉन और सुंदर बगीचे हैं. महल के एक भाग में काफी बड़ा म्यूजियम है जो जनता के लिए खुला है. कहा जाता है की सालाना लगभग 40 लाख लोग यहाँ आते हैं.
कुछ फोटो:





Sketches from Life: मैसूर पैलेस

Sketches from Life: मैसूर पैलेस

हर्ष वर्धन जोग

jogharshwardhan.blogspot.com -- इस ब्लॉग में, मैं 66, और श्रीमति गायत्री मेरी पत्नी 62,  हिंदी और इंग्लिश में लिखते हैं. दोनों ही पंजाब नैशनल बैंक से रिटायर हुए है और घूमने का शौक रखते हैं. देश के बहुत से शहरों की यात्रा कार / मोटरसाइकिल पर की है. दिल्ली -कन्याकुमारी यात्रा कार द्वारा कर चुके हैं. यात्रा के बहुत से संस्मरण इस ब्लॉग में उपलब्ध हैं.    ,jogharshwardhan.blogspot.com -- इस ब्लॉग में, मैं 66, और श्रीमति गायत्री मेरी पत्नी 62, हिंदी और इंग्लिश में लिखते हैं. दोनों ही पंजाब नैशनल बैंक से रिटायर हुए है और घूमने का शौक रखते हैं. देश के बहुत से शहरों की यात्रा कार / मोटरसाइकिल पर की है. दिल्ली -कन्याकुमारी यात्रा कार द्वारा कर चुके हैं. यात्रा के बहुत से संस्मरण इस ब्लॉग में उपलब्ध हैं.    ,jogharshwardhan.blogspot.com -- इस ब्लॉग में, मैं 66, और श्रीमति गायत्री मेरी पत्नी 62,  हिंदी और इंग्लिश में लिखते हैं. दोनों ही बैंक से रिटायर हुए है और घूमने का शौक रखते हैं. देश के बहुत से शहरों की यात्रा कार / मोटरसाइकिल पर की है. दिल्ली -कन्याकुमारी यात्रा कार द्वारा कर चुके हैं. यात्रा के बहुत से संस्मरण इस ब्लॉग में उपलब्ध हैं.    ,jogharshwardhan.blogspot.com -- इस ब्लॉग में, मैं 66, और श्रीमति गायत्री मेरी पत्नी 62, हिंदी और इंग्लिश में लिखते हैं. दोनों ही बैंक से रिटायर हुए है और घूमने का शौक रखते हैं. देश के बहुत से शहरों की यात्रा कार / मोटरसाइकिल पर की है. दिल्ली -कन्याकुमारी यात्रा कार द्वारा कर चुके हैं. यात्रा के बहुत से संस्मरण इस ब्लॉग में उपलब्ध हैं.    

मित्रगण 57       वेबपेज  0       लेख 94
सार्वजनिक वेबपेज
अनुयायी 88
लेख 25781
लेखक 1
शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें

शब्दनगरी से जुड़िये आज ही

सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
लोकप्रिय प्रश्न